बुधवार, 9 नवंबर 2016

शरीर के तिलों से जानिये अपने व्यक्तित्व के गुप्त रहस्य




Body Language: Moles, Your Life & Personality




“अज्ञानी व्यक्ति उन सवालों को पूछते हैं, जिनका जवाब बुद्धिमान व्यक्ति हजारों साल पहले ही दे चुके होते हैं।”
– जोहान वोल्फगांग वों गेटे


Body Signs Reflects Your Personality शारीरिक चिन्ह आपके व्यक्तित्व का दर्पण हैं : -


Body Language (SBL) के पिछले लेख में आप शरीर की भाषा को समझाने वाले इस अद्भुत विज्ञान की महत्ता व आवश्यकता के बारे में पहले ही पढ़ चुके है। इस लेख से अब हम क्रमवार बॉडी लैंग्वेज के उन रहस्यों पर से पर्दा हटाते चलेंगे, जिन्हें जानना न केवल आपके जीवन के लिये ही उपयोगी होगा, बल्कि आप अपने और दूसरों के व्यक्तित्व व स्वभाव की पहचान कर उनसे अपेक्षित लाभ उठा सकते हैं।

इतना ही नहीं, आप अपनी कमजोरियों व कमियों को जानकर उन्हें दूर कर सकते हैं, अपने भविष्य के प्रति उठती आशंकाओं को दूर कर सकते हैं और आने वाली समस्याओं को दूर करने के लिये समाधान के विषय में सोच सकते हैं। साथ ही अपने व्यक्तित्व के मजबूत पक्ष को पहचानकर उसका लाभ उठा सकते हैं दूसरों के स्वभाव की जानकरी पाकर उनसे सतर्क रहते हुए अपना हित साधन कर सकते हैं।

इस अद्भुत ज्ञान के विषय में कई लोगों का यह मानना है कि यह मनगढ़ंत और काल्पनिक है, क्योंकि वे इसके पीछे आधुनिक वैज्ञानिकों द्वारा प्रतिपादित कोई निश्चित प्रमाण नहीं पाते। इसके बारे में हमें उन लोगों से केवल यही कहना है कि इस विशेष विज्ञान का संबंध सिर्फ हड्डियों और माँसपिंड के इस पिंजरे से नहीं है, जिसकी जांच वैज्ञानिक अपनी प्रयोगशालाओं की टेस्ट ट्यूब में करते हैं।

यह उससे कहीं ज्यादा जटिल और दुर्बोध्य मनोविज्ञान और आत्मविज्ञान की नींव पर खडा है, जहाँ केवल विचारों, भावों और इच्छाओं का ही वर्चस्व है। जिनकी आज का वैज्ञानिक समुदाय अपने संपूर्ण प्रयासों के पश्चात भी केवल झलक भर ही पा सका है, क्योंकि भावजगत भौतिक संसार की तुलना में हजारों गुना सूक्ष्म है और यहाँ के किसी उपकरण की पहुँच वहां तक संभव नहीं है।


Moles Belongs to Your Life & Personality तिलों का आपके जीवन व व्यक्तित्व से गहरा संबंध है : -


इस लेख में हम शरीर पर बने चिन्ह, जिन्हें प्रायः तिल या मस्से (Moles) के नाम से पुकारा जाता है, की अंग विशेष पर उपस्थिति के आधार पर जातक के व्यक्तित्व व स्वभाव की चर्चा करेंगे। इसके अलावा उनके आधार पर उसके जीवन मे घटने वाली महत्वपूर्ण घटनाओं पर भी प्रकाश डाला जायेगा। यहाँ कई लोग यह सोचेंगे कि भला एक छोटे से चिन्ह के आधार पर व्यक्ति के व्यक्तित्व और जीवन का गहन विश्लेषण कैसे संभव है?

इस बारे में कैसे कोई निश्चित निर्णय दिया जा सकता है? मात्र एक चिंह के आधार पर यह कैसे कहा जा सकता है कि अमुक व्यक्ति बुद्धिमान होगा या दुश्चरित्र। हमारे ऐसे जिज्ञासु मित्र, कृपया सभी लेख और यह अनुच्छेद ध्यान से पढ़ें, और उस पर गंभीरता से मनन भी करें। हमारे शरीर का प्रत्येक अंग उससे सम्बंधित विशेष शक्ति से क्रियाशील होता है और उसकी छाप लिये होता है। जैसे मस्तिष्क या ललाट क्षेत्र मनुष्य की मानसिक, बौद्धिक एवं सात्विक शक्ति का सूचक है।

नासिका क्षेत्र व्यक्ति की भौतिक और राजसिक प्रवृत्तियों का सूचक है, मुख क्षेत्र व्यक्ति की जैविक वासनात्मक एवं मानसिक इच्छाओं का सूचक है, हमारा ह्रदय क्षेत्र कोमल भावनाओं का सूचक है, हमारा उदार क्षेत्र(पाचन संस्थान) हमारी भौतिक प्रवृत्तियों, लालसाओं, का सूचक है, हमारा प्रजनन क्षेत्र(जननांग) हमारी शारीरिक और वासनात्मक इच्छाओं का सूचक है। इसी आधार पर अन्य क्षेत्रों के विषय में भी जानना चाहिये।


A. Moles on Head मस्तक (ललाट) पर होने वाले तिलों का प्रभाव : -


1. जिन लोगों के ललाट(माथा) की दाहिनी कनपटी पर तिल का चिंह होता है, वे दूसरों से स्नेह करने वाले, सुखपूर्ण जीवन व्यतीत करने वाले और समृद्ध होते हैं। लेकिन जिन लोगों के मस्तक पर बाईं ओर तिल होता है, उन्हें जीवन में परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

2. यदि किसी व्यक्ति के ललाट में शुक्र रेखा के ऊपर तिल का चिंह हो, तो वह व्यक्ति धनवान व पूर्णतया सुखी होता है। उसके पास भोग-विलास के प्रचुर साधन होते हैं और उन्हें कभी किसी चीज़ की कमी नहीं होती।


3. जिन व्यक्तियों की सूर्य रेखा के मध्य में तिल होता है, वे ऐश्वर्य से संपन्न और पूर्ण सुख-सुविधा से भरा जीवन गुजारते हैं, समाज में उच्च प्रतिष्ठा और यश प्राप्त करते हैं।

4. यदि सूर्य रेखा के दाहिनी ओर तिल हो, तो वह व्यक्ति अचल संपत्ति का स्वामी होता है व जमीन आदि से लाभ उठाता है।

5. यदि सूर्य रेखा के बायीं ओर तिल हो, तो उस व्यक्ति के गृहस्थ जीवन में निरंतर समस्याएँ बनी रहती हैं।


6. यदि चन्द्र रेखा पर तिल हो, तो वह व्यक्ति अल्पायु होता है तथा वह गुप्त रोगों से ग्रस्त होता है।

7. यदि चन्द्र रेखा के दाईं ओर तिल हो, तो ऐसा व्यक्ति धनवान व समाज में यशस्वी होता है।

8. जिस व्यक्ति की चन्द्र रेखा के बाई ओर तिल का निशान होता है, वह व्यक्ति दूसरों के लिये परेशानियाँ पैदा करता रहता है।


9. यदि शुक्र रेखा के बाई ओर तिल हो, तो ऐसा व्यक्ति कामी, परस्त्रीगामी होता है।

10. यदि गुरु रेखा के दाईं ओर तिल हो, तो वह व्यक्ति अपने जीवन में उन्नति करता है।

11. यदि मंगल रेखा के मध्य में तिल हो, तो वह व्यक्ति संतानहीन होता है।


12. शनि रेखा के आस-पास तिल होने पर व्यक्ति डरपोक होता है, पर इस रेखा के बाईं ओर तिल होने पर व्यक्ति अपने जीवन में यात्राओं से धन अर्जित करता है।

13. जिनकी बुध रेखा के दाईं ओर तिल होता है, वे सफल व्यापारी होते हैं। लेकिन जिन व्यक्तियों की बुध रेखा के बाईं ओर तिल का निशान होता है, वे दब्बू, कायर और डरपोक किस्म के होते हैं। वे अपनी ही नासमझी से अपने स्वयं के कामों को बिगाड़ लेते हैं।


B. Moles on Face मुख पर होने वाले तिलों का प्रभाव : -


(l) कान : -

14. जिन व्यक्तियों के कान के उपरी सिरे पर तिल का निशान होता है, वे व्यक्ति दीर्घायु होते हैं, लेकिन उनका शरीर कुछ कमजोर होता है।

15. जिनके दाहिने कान के पास तिल का निशान होता है, वे बड़े साहसी और पराक्रमी होते हैं।

16. जिनके दाहिने कान के उपरी हिस्से पर तिल का चिंह होता है, ऐसे व्यक्ति सरल स्वभाव के व युवावस्था में पूर्ण उन्नति करते हैं।

17. जिनके बाएँ कान पर तिल होता है, उन्हें अल्पायु का भय रहता है।


(II) आँखे व भौंहे : -

18. जिनकी दोनों भौंहों के बीच में या ललाट में तिल/मस्से का चिंह होता है, तो यह अत्यंत शुभ होता है। ऐसे लोग धार्मिक प्रवृत्ति वाले तथा उदार ह्रदय के होते हैं। ऐसे व्यक्ति राजोचित भोग भोगते हैं तथा इनकी आयु भी अधिक होती है।

19. जिन लोगों की दाहिनी भौंह पर या पास में तिल होता है, उनकी आँखे कमजोर होती हैं। जिनकी बायें नेत्र की भौंहों के पास तिल का चिंह होता है, वे व्यक्ति प्रायः एकांतवासी और साधारण ढंग से जीवन यापन करने वाले होते हैं। लेकिन तिल भौंहों पर होने से व्यक्ति यात्रा अवश्य करता है।

20. जिनकी दाहिनी आँख के नीचे तिल का चिंह होता है, वे सम्रद्ध और सुखी होते हैं। जिनकी बाईं आँख पर तिल होता है, वे अक्सर चिंताग्रस्त रहते हैं। जिन लोगों की दाहिनी आँख पर तिल होता है, वे कामुक होते हैं, उनकी स्त्रियों में काफी आसक्ति रहती है।


(lll) गाल : -

21. जिन लोगों के बाएं गाल पर तिल का निशान होता है, उनके जीवन में प्रायः धन का अभाव रहता है। लेकिन निर्धन होने पर भी उनका गृहस्थ जीवन आम तौर पर सुखमय रहता है।

22. जिन व्यक्तियों के दाहिने गाल पर तिल का चिंह होता है, वे व्यक्ति बुद्धिमान, धनवान और अपने जीवन में उन्नति करने वाले होते हैं।

23. जिनके बायें गाल पर लाल मस्सा होता है, वे मीठे के बहुत शौक़ीन होते हैं और अक्सर मीठे पदार्थों का भोजन करते है।


(lV) होंठ : -

24. यदि व्यक्ति के चेहरे के दाहिने भाग पर तिल हो, तो वह व्यक्ति धनवान, सुखी और प्रतिष्ठित होता है।

25. जिस व्यक्ति के होंठों पर (ऊपर या नीचे के होंठ पर) तिल का चिंह होता है, वह सुखमय जीवन व्यतीत करने वाला होता है। लेकिन अत्यधिक कामुक तथा विलासी भी होता है। उसमे विपरीत लिंगियों के प्रति आसक्ति इतनी अधिक हो सकती है कि न तो वह किसी मान-मर्यादा का विचार करेगा और न ही लज्जा अनुभव करेगा। अवसर पाते ही वह अपनी काम-पिपासा शांत करेगा। ये व्यक्ति केवल अपने ही बारे में सोचते हैं और स्वार्थसिद्धि के लिये किसी भी सीमा तक जा सकते हैं।

26. जिस व्यक्ति के होंठ के नीचे तिल होता है, वह निर्धन होता है और जीवन भर गरीबी में ही दिन व्यतीत करता है।


(V) नासिका व दांत : -

27. यदि नासिका के बाईं ओर तिल हो, तो व्यक्ति बहुत परिश्रम करने के पश्चात ही सफल हो पाता है।

28. जिस व्यक्ति की नासिका के मध्य भाग में तिल होता है, वह अक्सर यात्रा करने वाला और दुष्ट स्वभाव वाला होता है। ऐसे लोगों को मातृ कष्ट की भी प्रबल सम्भावना रहती है।

29. जिनके दांत के नीचे(मसूड़ों पर) तिल का चिंह होता है, उन्हें अक्सर अपने कामों से लज्जित होना पड़ता है।


C. Moles on Neck and Chin गर्दंन व ठोड़ी के तिलों का प्रभाव : -


30. जिन लोगों की ठोड़ी पर तिल का चिंह होता है, वे लोग अपने ही काम की धुन में लगे रहते हैं, अपने ही स्वार्थ को प्रमुखता देते हैं और दूसरों के हित से उन्हें कोई मतलब नहीं होता। प्रायः उन्हें अपने वैवाहिक जीवन में पत्नी से क्लेश सहन करना पड़ता है।

31. जिन लोगों की गर्दन पर तिल का निशान होता है, वे व्यक्ति बुद्धिमान होते हैं और अपनी स्वयं की मेहनत से धन-संपत्ति व ऐश्वर्य अर्जित करते हैं।


D. Moles on Hand, Palm and Armpit हाथ, हथेली व काँख के तिलों का प्रभाव : -


32. जिनके दायें हाथ पर तिल का निशान होता है, वे व्यक्ति बहुत बुद्धिमान होते हैं। लेकिन जिनके बाएं हाथ पर तिल का चिंह होता है, वे कंजूस होते है।

33. जिनकी दाहिनी भुजा पर तिल का चिंह होता है, उन्हें सम्मान प्राप्त होता है और जिनकी बाईं भुजा पर तिल होता है, उन्हें पुत्र की प्राप्ति होती है।

34. जिनकी दाहिनी हथेली पर लाल/काले तिल का निशान होता है, वे अवश्य ही धनवान होते हैं। लेकिन जिनकी बाईं हथेली पर तिल का चिंह होता है, वे अपने धन को बुद्धिमानी से खर्च करते हैं।

35. जिनकी बगल में तिल का चिंह होता है, उन्हें अक्सर हानि उठानी पड़ती है।


E. Moles on Chest and Heart छाती व ह्रदय पर होने वाले तिलों का प्रभाव : -


36. छाती के मध्य तिल होने पर व्यक्ति ऐश्वर्य भोगता है।<

37. जिनकी छाती पर दायीं ओर तिल का चिंह होता है, वे अपने पति/पत्नी से बहुत प्रेम करते हैं, पर अक्सर चिंतित भी रहते हैं।

38. लेकिन जिनकी छाती के बाईं ओर तिल का निशान होता है उनकी अपनी पत्नी/पति से अनबन रहती है और वे कामुक भी होते हैं।

39. जिनके ह्रदय पर तिल होता है, वे बुद्धिमान और विवेकशील होते हैं और जीवन में खूब उन्नति करते हैं।


F. Moles on Stomach and Waist पेट व कमर पर होने वाले तिलों का प्रभाव : -


40. जिनके पसली और पेट पर तिल का चिंह होता है, वे डरपोक और कायर किस्म के होते हैं।

41. जिनके पेट पर तिल होता है, ऐसे लोग खाने-पीने के बहुत शौक़ीन होते हैं। ये नित नये भोज्य पदार्थों का भोग लगाते हैं, इनका मुँह अक्सर चलता ही रहता है। साथ ही इनकी पाचन शक्ति भी अच्छी होती है।

42. जिनकी पीठ पर तिल का चिंह होता है, वे सुखमय जीवन जीते हैं और अक्सर मुश्किल परिस्थितियों से बच निकलते हैं।

43. जिनकी कमर पर तिल का निशान होता है, उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है।


G. Moles on Other Body Parts अन्य अंगों पर उपस्थित तिल : -


44. जिस पुरुष के लिंग या अंडकोष पर तिल का चिंह होता है, वह कामुक और रसिक मिजाज होता है; क्योंकि उसमे यौन क्षमता और उत्तेजना भी अधिक होती है। दूसरे शब्दों में कहा जाय, तो वह स्त्रियों का प्रेमी होता है। ऐसा पुरुष हमेशा परस्त्री की ताक में लगा रहता है।

45. जिनके दायें पैर पर तिल का चिंह होता है, वे कुशाग्र बुद्धि के होते हैं।

46. जिनके बाएं पैर पर तिल होता है, वे खर्चीले होते हैं।


"संपूर्ण जीवन एक प्रयोग है। आप जितने अधिक प्रयोग करते हैं उतना ज्यादा बेहतर है।"
- राल्फ वाल्डो एमर्सन


Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने Comments देकर हमें बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके बहुमूल्य सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!

1 comments:

एक टिप्पणी भेजें