Astrology: Personality of Leo Zodiac Sign in Hindi

 

“केवल आपके अलावा और कोई दूसरा आपके लिये शांति नहीं ला सकता।”
– राल्फ वाल्डो एमर्सन

 

Leo Zodiac Sign in Hindi
प्रभुत्व ज़माने वाले और गर्वीले होते हैं सिंह राशि के जातक

Nature of Leo Zodiac सिंह राशि का स्वभाव : –

जब जन्म कुंडली में चन्द्रमा सिंह राशि में हो, तो उस व्यक्ति की जन्मराशि सिंह होती है। सिंह राशि राशिचक्र की पाँचवीं राशि है। इस राशि का विस्तार भचक्र के 120° से 150° तक है। इस राशि का स्वामी ग्रह सूर्य है जो कि मनुष्य के आत्मा का भी प्रतिनिधि है। यह क्षत्रिय जाति की, पुरुष लिंग वाली, अग्नि तत्व प्रधान राशि है। यह पूर्व दिशा की स्वामिनी और उग्र प्रकृति की, अल्प संतति वाली राशि है।

यह दिन के समय बली रहती है और इसका पीत रंग है। इसका प्रतीक चिंह एक दहाड़ता हुआ शेर है। इस राशि के जातक भी इस जीव की तरह साहसी, उग्र प्रकृति के और स्वच्छंद होते हैं, वे स्वयं के ऊपर किसी प्रकार का शासन पसंद नहीं करते। सिंह राशि के जातकों को गोचर के फलादेश इसी राशि के आधार पर देखने चाहियें।

यदि व्यक्ति के जन्म के समय लग्न सिंह राशि का हो, तब भी यह जातकों पर अपना प्रभाव डालती है। यह राशि व्यक्ति के शरीर में उसके ह्रदय व उपरी पेट (आमाशय, लीवर आदि) का प्रतिनिधित्व करती है। ग्रहों की अनुकूलता के अनुसार मंगल, बुध, चंद्रमा और बृहस्पति सिंह राशि में शुभ फल प्रदान करते हैं। शुक्र और शनि के लिये यह शत्रु राशि होने के कारण ये गृह प्रायः इसमें अशुभ फल देते हैं।

लेकिन इस राशि में इसका स्वामी गृह सूर्य बहुत बली होता है। इस राशि में कोई भी ग्रह नीच नहीं होता है। सिंह राशि पर सूर्य 31 दिन 2 घडी और 52 पल रहते हैं। सिंह राशि के अंतर्गत मघा और पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र के चारों चरण और उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र का प्रथम चरण आता है।

Personality of Leo Person सिंह राशि के जातक का व्यक्तित्व : –

सिंह राशि के जातकों का व्यक्तित्व आकर्षक और दबंग होता है। ये लोग जन्मजात आशावादी होते हैं। इनका आत्मविश्वास भी काफी बढा-चढ़ा रहता है, इसलिये ये कठोर परिस्थितियों में भी जल्दी निराश नहीं होते। लेकिन ये आडम्बरप्रिय होते हैं और अपनी हर वस्तु को दूसरों के सामने बढा-चढा कर पेश करते हैं, ताकि लोग इनकी प्रशंसा करें, इनका मान करें।

अपने शरीर और वेशभूषा के प्रति ये विशेष सजग रहते हैं। इस राशि के जातक हमेशा अन्य राशि वाले जातकों के ऊपर प्रभुत्व डालने का प्रयास करते हैं। चूँकि सिंह राशि अग्नि तत्व प्रधान है, अतः इन्हें क्रोध जल्दी आता है और बात न मानने पर ये अत्यंत उग्र हो जाते हैं। उच्च महत्वाकांक्षाएँ होने के कारण इन जातकों का मन कभी शांत नहीं रह पाता है

और ये हमेशा इसी उधेड़बुन में लगे रहते हैं कि किस तरह हम लोगों के आकर्षण का केंद्र बनें, कैसे सामाजिक प्रतिष्ठा प्राप्त करें और इसके लिये यह किसी भी हद तक जाने को तैयार रहते हैं। संकटग्रस्त होने पर या अभावों में जीवन जीने पर भी, ये दूसरों से मदद लेना स्वीकार नहीं करते, क्योंकि ऐसा करने से इनके ऊँचे आत्मसम्मान को चोट पहुँचती है।

सिंह राशि के जातक दूसरों की सलाह मानना भी पसंद नहीं करते हैं। इन्हें जो उचित लगता है ये वही करते हैं, फिर चाहे इन्हें कोई नुकसान ही क्यों न उठाना पड़े। अधिक अभिमान की तरह सिंह राशि के जातकों मे कामवासना भी प्रबल रहती है।

Physique and Nature of Leo Person सिंह राशि के जातक का शरीर और स्वभाव : –

सिंह राशि के जातकों का शरीर सुद्रढ़ और स्वस्थ होता है। सामान्यतः इनका सीना चौड़ा, गर्दन छोटी व पुष्ट और कंधे मजबूत होते हैं। इस राशि के कई जातकों में यह देखा गया है कि इनका धड इनके पैरों की तुलना में अधिक लम्बा होता है। इनकी चाल में भी एक विशेष प्रकार की अकड रहती है और ये जब भी किसी से बातें करते हैं, तो ऊँची और गंभीर आवाज में बात करते हैं।

सामान्य रूप से इनका स्वास्थ्य अच्छा ही रहता है, लेकिन ग्रह स्थिति अनुकूल न होने पर, इन्हें मुख्य रूप से पित्त के कारण पैदा होने वाले रोग – जैसे बुखार और उदर से संबंधित अन्य रोगों के होने की सम्भावना रहती है। ये अपने परिवार से प्रेम तो करते हैं, पर यहाँ भी अपने जीवनसाथी और संतान से यही अपेक्षा करते हैं कि वह इनकी हर बात माने।

इसी कारण से इनका वैवाहिक जीवन अधिक खुशहाल नहीं होता व संतान से संबंध भी मधुर नहीं रहते। चूँकि ये किसी भी प्रकार की प्रतिबद्धता स्वीकार नहीं करना चाहते, इसलिये अगर किसी अन्य साथी से अनैतिक सम्बन्ध बनायें, तो वह इनके लिये अच्छा नहीं रहता। ऐसा करने से इनका समस्त मान-सम्मान नष्ट हो सकता है और संपूर्ण जीवन दुखमय बन सकता है।

संसार के प्रति इनका दृष्टिकोण विशुद्ध भौतिकतावादी होता है। सामान्यतः अध्यात्म विज्ञान, धर्म, दान-पुण्य आदि में इनकी रुचि नहीं होती है फिर भी इनके नैसर्गिक स्वभाव में दूसरों की सहायता करना, शांत रहना, भ्रमण करना और आत्मनिर्भर रहना शामिल है। ये धन कमाने और सांसारिक भोग-विलास करने में यकीन रखते हैं।

सिंह राशि के जातक अत्यंत अभिमानी, अच्छे कपड़ों और आभूषणों के शौक़ीन होते हैं, इसीलिये ये खर्चीले भी बहुत होते हैं। इस कारण से कभी-कभी इन्हें आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ सकता है। सिंह राशि के जातकों को चाहिये कि अगर वे सुखमय जीवन जीना चाहते हैं, तो अपने खर्चीले स्वभाव पर अंकुश लगायें और दिखावे के जीवन से दूर रहें।

“मन स्वर्ग को नरक और नरक को स्वर्ग बना सकता है।”
– जॉन मिल्टन

 

Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!