Three Fishes Story in Hindi: तीन मछलियों की अक्लमंदी

  Vision of Three Fishes Story in Hindi   “अंधे होने से भी अधिक बुरी बात तब है, जब आपके पास द्रष्टि तो हो, लेकिन कोई दूरद्रष्टि न हो।” – हेलेन केलर   पुराने समय की बात है, एक तालाब में तीन मछलियाँ रहती थीं। उनमे से एक का नाम था ‘एकबुद्धि’, दूसरी का ‘शतबुद्धि’ और तीसरी का ‘सहस्त्रबुद्धि’। तीनो […]

Two Frogs Story in Hindi: कुँए के मेंढक मत बनिये

  Attitude of Two Frogs Story in Hindi   “सकारात्मक रहने की क्षमता और एक कृतज्ञतापूर्ण द्रष्टिकोण ही, इस बात का निर्णय करेंगे कि आप अपना जीवन कैसे जीने जा रहे हैं।” – जोएल आस्टीन   स्वामी रामकृष्ण परमहंस अक्सर अपने शिष्यों के बीच इस प्रसंग को सुनाया करते थे, जो मनुष्य के सीमित दृष्टिकोण को उजागर करता है। एक […]