Incredible Health Benefits of Pomegranate in Hindi

 

“शरीर को स्वस्थ और शक्तिशाली बनाने के लिये आवश्यक जितने भी फल हैं उनमे अनार को सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। अनेकों विटामिन और मिनरल्स से भरपूर इस अद्भुत फल के औषधीय गुणों का हर कोई कायल है। दिल के रोग हों या फिर पेट की समस्या, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढानी हो या फिर खून की कमी दूर करनी हो अनार हर स्थान पर आपकी सेहत का सच्चा साथी सिद्ध होगा।”

 

Health Benefits of Pomegranate in Hindi
एक अनार सौ बीमार

Amazing Health Benefits of Pomegranate Fruits and Seeds : –

Pomegranate यानी अनार उष्ण कटिबंधीय क्षेत्र में पैदा होने वाला एक शानदार फल है जो अपने अनोखे गुणों के कारण शरीर को स्वस्थ और शक्तिशाली बनाये रखने में काफी उपयोगी समझा जाता है। खून की कमी से होने वाले रोगों के उपचार में तो इसे अत्यंत ही महत्वपूर्ण फल माना जाता है। यह एक झाड़ीदार पेड़ है जो लगभग 4 से 8 मीटर (13-26 फुट) की उंचाई वाला होता है। कच्चे अनार के फल (छिलकेयुक्त) हरे रंग के होते हैं जबकि पकने पर इनका रंग हल्का /गहरा लाल हो जाता है।

पके हुए फल के अन्दर से रूबी की तरह लाल या गुलाबी रंग के दाने निकलते हैं जिनके अन्दर बहुत छोटे-छोटे बीज रहते हैं। अनार के फूल लाल रंग के होते हैं। अनार का जूस मीठा या खट्टा दोनों प्रकार का हो सकता है। अनार के बीज जिन्हें अनारदाना के नाम से जाना जाता है, इसके फल को सुखाकर तैयार किये जाते हैं। मसालों में भी इनका काफी प्रयोग होता है। अनार को एक दीर्घ जीवी पेड़ माना जाता है। फ्रांस में इसकी कुछ प्रजातियाँ 200 वर्ष तक की आयु वाली देखी गयी हैं।

अनार मुख्य रूप से उत्तरी गोलार्द्ध में सितम्बर से फरवरी तक के मौसम में और दक्षिणी गोलार्द्ध में मार्च से मई तक के मौसम में मिलता है। अनार की उत्पत्ति का मूल क्षेत्र दक्षिण-पश्चिमी एशिया को माना जाता है। प्राचीन काल से ही भूमध्यसागरीय क्षेत्र, ईरान, अफगानिस्तान और उत्तर भारत में अनार की फसल पैदा की जाती रही है। आज अनार न केवल दक्षिणी-मध्य एशिया, बल्कि अफ्रीका, अमेरिका महाद्वीप और यूरोप में भी बड़े स्तर पर उगाया जाता है।

Nutritional Value of Pomegranate : –

कई वैज्ञानिक शोधों में अनार के Antiviral, Antibacterial, Antiprotozoal, Anti-inflammatory, Antitumor, Antihypertensive, Neuroprotective और Hypolipidemic Properties के बारे में पता चला है। अनार की इतनी अधिक जैविक क्रियाएँ होने के पीछे इसके अनोखे Phytochemicals का हाथ है। अनार के जूस में सबसे प्रमुख Phytochemicals होते हैं Polyphenols जिनमे Hydrolyzable Tannins भी शामिल हैं।

अनार के बीजों से जो तेल निकाला जाता है उसमे 65.3 प्रतिशत पुनिसिक अम्ल, 4.8 प्रतिशत पल्मिटिक अम्ल, 2.3 प्रतिशत स्टेअरिक अम्ल, 6.3 प्रतिशत ओलिक अम्ल और 6.6 प्रतिशत लिनोलिक अम्ल पाया जाता है। अनार के जूस का लाल रंग Anthocyanins पिगमेंट के कारण होता है जो फल पकने के दौरान और ज्यादा बढ़ जाता है।

Minerals and Vitamins in Pomegranate –

1. 100 ग्राम अनार में 83 किलो कैलोरी उर्जा होती है। इसके अतिरिक्त इसमें 18.7 ग्राम कार्बोहायड्रेट, 1.17 ग्राम वसा और 1.67 ग्राम प्रोटीन भी होता है।

2. अनार में 0.067 mg Vitamin B1/थायमिन, 0.053 mg Vitamin B2/रिबोफ्लेविन, 0.293 mg Vitamin B3/नियासिन, 0.377 mg Vitamin B5/पैंटोथेनिक एसिड, 0.075 mg Vitamin B6, 38 μg Vitamin B9/फोलेट और 7.6 mg कोलिन होता है।

3. इसके अतिरिक्त अनार में 10.2 mg Vitamin C, 0.6 mg Vitamin E और 16.4 μg Vitamin K भी पाया जाता है।

4. अनार में कई प्रमुख Major और Trace Minerals भी पाये जाते हैं। 100 ग्राम अनार में 10 mg कैल्शियम, 0.3 mg आयरन, 12 mg मैग्नीशियम, 0.119 mg मैंगनीज, 36 mg फॉस्फोरस, 236 mg पोटैशियम, 3 mg सोडियम और 0.35 mg जिंक होता है।

How and When You should eat Pomegranate : –

अनार को हमेशा खाली पेट ही खाना चाहिये, क्योंकि तभी आप इसके स्वास्थ्यप्रदायक गुणों का लाभ उठा सकेंगे। प्रातःकाल का समय अनार खाने के लिये सर्वोत्तम है, लेकिन यदि व्यस्त दिनचर्या के कारण सुबह इसे न खा सकें तो सांयकाल का समय भी बहुत अच्छा है। अनार खाने के पश्चात एक घंटे तक किसी भी प्रकार के गरिष्ठ भोजन और चाय, कॉफ़ी आदि का सेवन न करें क्योंकि इससे Gastrointestinal Imbalance की समस्या पैदा हो सकती है।

अनार के जूस में चीनी मिलाकर भी मत पीयें। अनार के जूस की तुलना में अनार खाना स्वास्थ्य के लिये अधिक लाभदायक है क्योंकि दुकानों पर शुद्ध जूस आसानी से उपलब्ध नहीं होता है। आज खाद्य वस्तुओं में मिलावट बहुत आम बात है। हमने स्वयं अपनी आँखों से विक्रेताओं को अनार के जूस में पानी मिलाते देखा है। इसके अलावा अनार खाने के कई अन्य लाभ भी है जिनके बारे में आप इसी लेख में नीचे पढेंगे।

Why should You eat Pomegranate : –

अनार की महत्ता से लगभग हर अनुभवी भारतीय परिचित है। सदियों पुरानी यह कहावत “एक अनार सौ बीमार” की उक्ति इसके अद्भुत औषधीय गुणों के कारण ही प्रचलन में आई थी। अनार को परम्परागत आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति में एक प्रभावशाली उपचार के रूप में भी प्रयुक्त किया जाता है।

1. Pomegranate has Powerful Antioxidant Properties –

अनार के अन्दर एक Extremely Powerful Antioxidant प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिसे Punicalagin/ पनिकैलागिन के नाम से जाना जाता है। अनार के जूस की आधी से अधिक एंटीऑक्सीडेंट क्रियाशीलता के पीछे यही तत्व जिम्मेदार होता है। अनार की Antioxidant Capacity, रेड वाइन, अंगूर के जूस, ग्रीन टी और एकै जूस से भी ज्यादा होती है। नियमित रूप से अनार का जूस पीने से Oxidative Stress को कम करने में मदद मिलती है जो कि Free Radicals के दुष्प्रभाव से पैदा होती है।

2. Pomegranate protects Against Heart Disease –

अनार में पाये जाने वाले Phytochemicals, LDL Oxidation का स्तर कम करते हैं। इन Phytochemicals में बढे रक्तचाप (Systolic Blood Pressure) को कम करने का भी अनोखा गुण होता है। कुछ रोगियों पर हुए एक शोध में यह पाया गया है कि जिनकी धमनियाँ बुरी तरह अवरुद्ध थीं ऐसे रोगियों को एक वर्ष तक प्रतिदिन एक औंस (37.5 ग्राम) अनार का जूस देने से उनके Atherosclerotic Plaque में लगभग 30 प्रतिशत तक की कमी दर्ज की गयी थी।

जबकि जिन रोगियों को अनार का जूस नहीं दिया गया था उनमे यह 9 प्रतिशत तक बढ़ गया था। हालाँकि इस विषय पर और अधिक शोध की आवश्यकता है, पर इससे यह तो सिद्ध होता ही है कि दिल के रोगों में अनार काफी फायदेमंद है और कई लोगों के मन में बैठा यह भ्रम कि अनार दिल के लिये नुकसानदायक है, बिल्कुल निराधार है।

3. Pomegranate has Anticancer Properties –

अनार के Antioxidants कैंसर और Cognitive Impairment जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से भी शरीर का बचाव करते है। अनार में Natural Aromatase Inhibitors होते हैं जो एस्ट्रोजन के उत्पादन को रोकते हैं और स्तन कैंसर होने के खतरे को कम करते हैं। प्रोस्टेट कैंसर का इलाज होने के पश्चात अनार का जूस देने से PSA के बढ़ने की गति धीमी होती देखी गयी है।

अनार में Anti-angiogenic गुण होते हैं जिसका तात्पर्य है कि यह ट्यूमर को मिलने वाली रक्त आपूर्ति में बाधा डालकर उसे बढ़ने से रोक सकते हैं। जब ट्यूमर तक रक्त के जरिये आवश्यक Nutrients नहीं पहुंचेंगे जो उनका लगातार बढ़ता आकार भी रुक ही जायेगा।

4. Pomegranate Improves Memory and Brain Health –

मस्तिष्क के स्वास्थ्य और अच्छी स्मृति के लिये भी अनार बहुत लाभदायक है। अक्सर वृद्धावस्था में होने वाली खतरनाक याददाश्त की समस्या, जिसे अल्झाइमर (Alzheimer’s Disease) के नाम से जाना जाता है, के उपचार में अनार के सेवन के उपरांत सुधार होते देखा गया है।

एक हालिया शोध में (जिसमे स्मृतिनाश से पीड़ित 28 वृद्ध लोगों को शामिल किया गया था) के अनुसार प्रतिदिन लगभग 300 ग्राम अनार का जूस लेने से याददाश्त अच्छी होती है और भूलने की परेशानी दूर होती है। अनार Postoperative Memory Dysfunction में भी लाभदायक है जो कि Coronary Artery Bypass या Heart Valve Surgery से संबंधित समस्या है।

5. Pomegranate Boosts Immunity –

Pomegranate एक Immunity Booster Fruit है। इसका नियमित सेवन करने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढती है और शरीर को स्वस्थ, क्रियाशील और ओजस्वी बनाने में मदद मिलती है। Vitamin C और दूसरे Immune-boosting Nutrients जैसे विटामिन E न केवल बीमारी को बढ़ने से रोकते हैं, बल्कि संक्रमण से लड़ने में भी शरीर की सहायता करते हैं।

प्रयोगशालाओं में जाँच करने पर यह सिद्ध हो गया है कि अनार के जूस में ऐसे Antibacterial और Antiviral तत्व मौजूद हैं जो सामान्य संक्रमण और जीवाणुओं को नष्ट करने में सहायक हैं।

6. Pomegranate is Highly Beneficial in Anaemia –

वैसे तो अनार अनेकों रोगों में लाभदायक है लेकिन रक्ताल्पता में इससे बढ़कर कोई दूसरा फल नहीं है। शरीर में खून/हीमोग्लोबिन की कमी होने पर चिकित्सक अनार का जूस पीने की सलाह देते हैं। नियमित रूप से 30 दिनों तक एक गिलास (300 मिली) अनार का जूस लेने से न केवल शरीर में रक्त का स्तर बढ़ते देखा गया है, बल्कि ऑपरेशन के पश्चात होने वाली शारीरिक कमजोरी में भी इससे बहुत लाभ मिलता है।

यह उपाय हमारा अपना अनुभव किया हुआ है और इससे हमने दूसरे लोगों को भी आशातीत लाभ उठाते देखा है। लेकिन यह भी ध्यान रखने योग्य है कि यह उपाय भयंकर एनीमिया, जो रक्त कैंसर या हेपेटाइटिस आदि के कारण होता है, में विशेष लाभदायक न सिद्ध हो सकेगा क्योंकि फल और सब्जियाँ किसी रोग विशेष की प्रमाणित दवाई नहीं हैं। यह केवल शरीर को स्वस्थ और सबल बनाये रखने वाले तत्वों की पूर्ति का एक सरल माध्यम भर हैं।

7. Pomegranate has Anti-inflammatory Properties –

अनार में शक्तिशाली Anti-inflammatory गुण भी होते हैं जो कि इसके शानदार एंटीऑक्सीडेंट के कारण हैं। यह किसी भी कारण से शरीर के भीतर आई सूजन को कम करते हैं और अग्रिम क्षति को रोकते हैं। अनार में पाया जाने वाला Punicalagin/पनिकैलेगिन उस सूजन को कम करता है जो कई खतरनाक बीमारियों को अपने साथ लाती है।

एक शोध के अनुसार 12 सप्ताह तक नियमित 250 मिली जूस लेने से पाचन संस्थान में होने वाली सूजन में उल्लेखनीय कमी आई थी और Inflammatory Markers CRP और Interleukin-6 घटकर क्रमशः 68% और 70% ही रह गये थे।

8. Pomegranate improves Digestion –

अनार में Dietary Fiber की काफी मात्रा होती है, विशेषकर अनार के बीज या अनारदाना आँतों की कुदरती सफाई करने में बहुत ही उत्तम हैं। यह Crohn’s Disease, कब्ज, Ulcerative Colitis और आँतों की अनियमित गति से पीड़ित लोगों के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद करता है। आँतों की दीवारों पर जम चुका जो मल कठोर होने से आसानी से नहीं उतरता है, उसे अनार के बीज अपनी खुरदरी सतह से, आँतों पर से अलग करने में काफी प्रभावशाली सिद्ध हुए हैं।

9. Pomegranate helps in Bone Disease –

अनार के जूस में पाये जाने वाले Flavonols, Osteoarthritis और क्षतिग्रस्त उपस्थि के पुनर्निर्माण में सहायक हैं। हड्डियों से संबंधित Osteoporosis और Rheumatoid Arthritis जैसी बीमारियों में अनार की भूमिका पर अभी भी शोध जारी है। अनार का सत्व उन एंजाइम को रोकने में समर्थ है जो Osteoarthritis से पीड़ित लोगों के जोड़ों को क्षतिग्रस्त करने के लिये जिम्मेदार है।

जानवरों पर हुए एक शोध में पाया गया है कि आर्थराइटिस के कई रूपों में अनार का जूस लाभकारी सिद्ध हो सकता है। लेकिन मनुष्यों पर इसका क्या प्रभाव होता है इस बारे में अभी कोई विशेष शोध नहीं हुआ है।

10. Pomegranate vitalize Your Skin –

अनार में पाया जाने वाला विटामिन C त्वचा की चमक को बनाये रखने में मददगार है। यह विटामिन शरीर की मृत कोशिकाओं को हटाकर त्वचा की मरम्मत भी करता है। हमारे शरीर को प्रतिदिन जितने विटामिन C की जरुरत होती है उसकी पचास प्रतिशत पूर्ति एक गिलास अनार के जूस से आसानी से हो सकती है।

11. Pomegranate is a Great source of Vitamins and Minerals –

अनार Essential Minerals और Important Vitamins का बहुत ही अच्छा स्रोत है। इसमें कौन-कौन से खनिज और विटामिन पाये जाते हैं उनके बारे में हम ऊपर बता चुके हैं। यदि आप विटामिन और मिनरल्स के बारे में और जानना चाहते हैं तो कृपया Health Benefits of Minerals और Health Benefits of Vitamins in Hindi यह लेख पढ़ें। इनमें हमने सभी आवश्यक विटामिन और खनिजों के प्रकार, स्वास्थ्य के लिये उनकी महत्ता, उनके स्रोत और उनकी कमी से होने वाली बीमारियों के बारे में विस्तार से बताया है।

12. Pomegranate improves Sexual Health –

आयुर्वेदिक ग्रंथों के अनुसार अनार के सेवन से शुक्राणुओं में वृद्धि होती है और धातु पुष्ट होने से वीर्य की गुणवत्ता भी सुधरती है। आज आधुनिक चिकित्सा विज्ञान ने भी सिद्ध कर दिया है कि अनार का जूस Erectile Dysfunction (लिंगोत्थान की समस्या) को ठीक करने में उपयोगी सिद्ध हो सकता है। Oxidative damage के कारण Erectile Tissue समेत शरीर में कहीं पर भी रक्त प्रवाह बाधित होने की समस्या पैदा हो सकती है।
खरगोशों पर हुए एक शोध में पाया गया है कि अनार का जूस रक्त प्रवाह को तेज करने और इन्द्रिय में उत्तेजना बढ़ाने में सहायक है, हालाँकि मनुष्यों पर अभी भी काफी शोध होनी बाकी है। आयुर्वेद के अनुसार यदि अनार के साथ प्याज का रस मिलाकर पीया जाय तो इससे धातु-दौर्बल्य और लिंगोत्थान दोनों ही समस्याओं में आराम मिलता है।

13. Pomegranate is A Potential Worm Killer –

आयुर्वेद के अनुसार अनार के पत्ते और इसकी जड़ में कृमिनाशक गुण होते हैं। कुछ दिन तक नियमित रूप से इसके पत्तों और जड़ का क्वाथ (उबला हुआ रस) पीने से पेट के कीड़े मरकर बाहर निकल जाते हैं। हालाँकि आधुनिक चिकित्सा विज्ञान में अनार के इस गुण का परीक्षण किया जाना अभी बाकी है।

14. Pomegranate helps in Suppression of Negative Energy –

अनार की डाली से बनी हुई कलम पूजा-उपासना और तांत्रिक प्रयोगों में भी इस्तेमाल की जाती है। पुजारी/तांत्रिक एक स्वच्छ कागज़ पर अनार की कलम को लाल रंग की स्याही में डुबोकर रेखाओं और गणित के अक्षरों के जरिये एक यंत्र का निर्माण करते हैं जो शरीर पर धारण करने से व्यक्ति को नकारात्मक उर्जा के प्रभाव से बचाता है।

Who should not Eat Pomegranate : –

ऐसे लोग जिन्हें कुछ मीठा खाने के पश्चात पेट में acidity बनने की समस्या होने लगती है, अनार खाते समय सावधानी बरतनी चाहिये। चूँकि अनार एक मीठा फल है, इसीलिये Diabetes (मधुमेह) के रोगियों को इससे परहेज करना चाहिये, क्योंकि यह Blood Sugar का स्तर बढ़ा देता है। ऐसे लोग कम मीठे या खट्टे अनार का प्रयोग कर सकते हैं। अनारदाना भी इसका एक अन्य विकल्प हो सकता है।

“हम अपने अतीत को याद रखने से बुद्धिमान नहीं बनते हैं, बल्कि अपने भविष्य की जिम्मेदारी लेने से बनते हैं।”
– जॉर्ज बर्नार्ड शॉ

 

Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!

Spread Your Love