Incredible Health Benefits of Fruits in Hindi

 

“वह सबसे अच्छा चिकित्सक है जो अधिकांश दवाइयों की निरर्थकता को समझता है।”
– बेंजामिन फ्रेंक्लिन

 

Health Benefits of Fruits in Hindi
कुदरत की अनमोल नेमत है फल

Why Should You eat Fruits आपको फल क्यों खाने चाहियें : –

जब बात अच्छी सेहत की आती है तो हर जागरूक इंसान का ध्यान सबसे पहले कुदरत की उन अनमोल नेमतों पर ही जाता है जो सौंदर्य, ओज, शक्ति और स्वाद का खजाना है। जिनसे शरीर को किसी भी तरह के नुकसान पहुँचने की आशा नहीं है। जी हाँ बात हो रही है इंसानों के भोजन के मुख्य भाग फलों और सब्जियों की, जिनकी महत्ता को हर चिकित्सक स्वीकार करता है।

और जो अपने मूल रूप में ग्रहण किये जाने पर स्वास्थ्य के लिये हमेशा लाभदायक ही सिद्ध होती हैं, बशर्ते कि उनके उत्पादन में असावधानी और लोभ को दूर रखा गया हो। वैसे तो अधिकांश फल आजकल हर मौसम में उपलब्ध होने लगे हैं, क्योंकि वे भी Industrialization से अछूते नहीं रह गये हैं, लेकिन फलों को उनके अनुकूल मौसम में ही खाना चाहिये।

क्योंकि उसी समय वे अपने उन नैसर्गिक गुणों से युक्त होते हैं जिनके लिये वे प्रसिद्द हैं। जैसे सेव वैसे तो पूरे साल उपलब्ध रहता है लेकिन उसकी फसल का समय अक्टूबर से दिसम्बर तक ही है। अपने मौसम में अच्छी तरह से पके हुए सेव में जो गुण रहते हैं वह उस सेव में उतनी मात्रा में नहीं रहते हैं, जो महीनों तक cold stores में रखा रहता है।

यदि उस समय उसका सेवन किया जाय तो उससे वह सारे लाभ मिल सकेंगे जिनके लिये वह विख्यात है। Health Benefits of Vegetables in Hindi में आप सब्जियों के फायदों के बारे में पहले ही पढ़ चुके हैं। आज हम आपको बता रहे हैं कि फलों के क्या फायदे हैं तथा इन्हें कब और किस तरह से खाना चाहिये।

When and How to eat Fruits फलों को कब और किस तरह खाना चहिये : –

फलों का पूरी तरह से लाभ उठाने के लिये, जहाँ तक भी संभव हो सके उन्हें उनकी ताज़ी, पकी हुई और सहज अवस्था (कच्चा) में ही प्रयोग में लाना चाहिये। उन्हें प्रसंस्करित (process) करने या पकाने से उनके अधिकतम गुण नष्ट हो जाते हैं। एक अध्ययन के अनुसार आपकी खाने की प्लेट का आधा हिस्सा फल और सब्जियों से भरा होना चाहिये।

फलों का सेवन खाली पेट ही करना चाहिये। प्रातः काल का समय फल खाने के लिहाज से सबसे उत्तम है। यदि व्यस्त दिनचर्या के कारण आप सुबह फल न खा सकें तो शाम का समय भी बहुत अच्छा है, बस आपने दो या तीन घंटे से कुछ न खाया हो। फल खाने के बाद एक घंटे तक कुछ नहीं खाना चाहिये।

इनके पाचन के लिये इतना समय पर्याप्त होता है। यदि आप फल खाने के तुरंत बाद भोजन, चाय, कॉफ़ी या दूसरी चीज़ें खा लेते हैं तो फिर फलों का लाभ शून्य हो जाता है। क्योंकि गरिष्ठ भोजन और processed food में पाये जाने वाले तत्व और इन्हें पचाने के लिये उत्सर्जित होने वाले तीव्र पाचक रस Metabolism की प्रक्रिया में फलों के सार को निष्प्रभावी बना देते हैं।

इसके अतिरिक्त, फल हल्के अम्लीय होते हैं तथा भोजन के साथ  लिये जाने पर यह जबरदस्त acidity पैदा कर सकते हैं। यह पाचन संस्थान के लिये परेशानी का कारण न बनें, इसलिये भी इन्हें खाली पेट ही खाना चाहिये। फलों के तुरंत बाद पानी भी नहीं पीना चाहिये, क्योंकि इससे भी acidity का खतरा पैदा हो सकता है।

वैसे भी फलों का अधिकांश भाग पानी ही होता है, इसलिये अलग से पानी पीने की कोई आवश्यकता होनी भी नहीं चाहिये। फलों का भण्डारण करते समय यह बातें ध्यान रखें कि न तो इन्हें बहुत गर्म स्थान पर रखें और न ही बहुत ठंडे स्थान पर, अन्यथा इनकी रासायनिक संरचना बदल जाती है जिसके कारण यह फिर खाने योग्य नहीं रहते हैं।

Incredible Health Benefits of Fruits फलों के अविश्वसनीय लाभ : –

1. फल वृद्धावस्था को दूर रखते हैं, क्योंकि फलो में antioxidants काफी मात्रा में पाये जाते हैं जो शरीर को नुकसान पहुँचाने वाले Free Radicals से शरीर का बचाव करते हैं। यह तत्व metabolism की प्रक्रिया में पैदा होते हैं और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को कम करते हुए उसे बीमारियों का शिकार बना देते हैं।

2. सप्ताह में एक दिन अन्न न लेना और केवल फल और जल ही ग्रहण करना, प्राकृतिक चिकित्सा का एक ऐसा अनूठा प्रयोग है जो नियमित रूप से करने पर अविश्वसनीय परिणाम उपस्थित करता है। क्योंकि फल पचने में अत्यंत हल्के होते हैं जिससे पाचन संस्थान पर कोई दबाव नहीं पड़ता है। परिणामस्वरूप आमाशय, यकृत व् आँतों समेत हर पाचक अंग को एक नया जीवन प्राप्त होता है। आखिरकार शरीर को भी तो, इंसानों की तरह एक दिन का विश्राम चाहिये ही।

3. खून की कमी होने पर चिकित्सक Vitamin A, Vitamin C और लौह तत्व से भरपूर फलों के जूस का सेवन करने को कहते हैं, जैसे – मौसमी, अनार, चुकंदर और गाजर का जूस। लेकिन जहाँ तक संभव हो सके, फलों के जूस का सेवन तुरंत ही करना चाहिये और उनमे किसी अन्य भोज्य पदार्थ जैसे चीनी आदि की मिलावट नहीं करनी चाहिये। अन्यथा उनके गुण या तो नष्ट हो जाते हैं या फिर बहुत कम।

4. फल उन Essential Minerals, Important Vitamins और उर्जा को हासिल करने का सबसे अच्छा और सबसे आसान जरिया होते हैं जो मनुष्य शरीर के सुचारू रूप से कार्य करने के लिये अनिवार्य हैं।

5. फल हमारे प्रजनन संस्थान को स्वस्थ बनाये रखने में प्रभावी भूमिका निभाते हैं। विशेषकर Dry Fruits जैसे बादाम, छुआरा, खजूर व् मुनक्के आदि जिनके बारे में आप Health Benefits of Dry Fruits in Hindi में पढ़ चुके होंगे।

6. सभी फल तुरंत शक्ति प्रदान करने वाले होते हैं, क्योंकि इनमे प्रोटीन और वसा जैसा कोई जटिल तत्व नहीं होता जिसे पचाने के लिये शरीर को बहुत मेहनत करनी पड़े। इसलिये व्यस्त दिनचर्या और workout करने वाले लोगों के लिये यह energy पाने का बहुत ही आसान जरिया हैं।

7. गर्मियों के मौसम में मिलने वाले सभी फल पानी और उन पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं जो शरीर को खतरनाक लू और गर्मी से उपजने वाली दूसरी समस्याओं से बचाते हैं।

8. फल एक शानदार laxative agent होने के साथ-साथ आँतों की आकुँचन-प्रकुंचन क्षमता को भी बढ़ाते हैं, जिससे मलों का उचित निष्कासन संभव हो पाता है और शरीर constipation, gastritis और IBS यानी Intestine Bowel Syndrome जैसी तकलीफदेह बीमारियों से आसानी से बचा रहता है।

9. कई फलों का chemical structures और उनके function अन्य फलों से अलग होते हैं, जिस कारण से चिकित्सक कुछ विशेष बीमारियों में विशेष तरह के फल का सेवन करने को कहते हैं। जैसे खून की कमी होने पर अनार का, बुखार में कीवी और चीकू का तथा कब्ज और गैस में पपीते और अमरुद का सेवन करना लाभदायक होता है।

10. चूँकि फलों में शरीर के लिये आवश्यक लगभग हर पोषक तत्व होता है इसलिये यह न केवल न केवल मोटापे को नियंत्रित करते हैं, बल्कि दिल की बीमारियों (Cardiovascular Disease) के खतरे को कम करने में भी बहुत मदद करते है, क्योंकि इनमे कोलेस्ट्रोल नहीं होता।

11. फल न केवल त्वचा की रंगत को निखारते हैं, बल्कि फोड़े-फुंसियों, कील-मुंहासों जैसी परेशान करने वाली समस्याओं से भी बचाते हैं, कमोबेश जिनका सामना लगभग हर उम्र के व्यक्ति को करना पड़ सकता है।

12. वैसे तो फल सभी के लिये लाभदायक होते हैं, लेकिन जो लोग लम्बे समय तक बीमार रहे हों या फिर जिनका शरीर जीर्ण हो चला हो उनके लिये फल किसी वरदान से कम नहीं हैं।

13. चूँकि फलों में 90 प्रतिशत से अधिक अंश पानी का होता है, इसलिये यदि इनका नियमित रूप से सेवन किया जाय तो यह शरीर में पानी की कमी नहीं होने देते हैं जिससे हमारे उत्सर्जन तंत्र के मुख्य अंग Kidney, Bladder आदि स्वस्थ और क्रियाशील बने रहते हैं ।

14. गर्भवती स्त्रियों के लिये फलों का सेवन करना उनके अपने स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके गर्भस्थ शिशु के स्वास्थ्य के लिये भी बहुत उत्तम माना गया है।

15. अनिद्रा, अवसाद समेत कुछ अन्य मानसिक समस्याओं में फलों का सेवन करना, उन रोगों की तीव्रता को कम करता है।

16. सभी फलों में महत्वपूर्ण Dietary Fiberहोता है जो पाचन संस्थान को सही रखने में मदद करता है।

17. इसके अतिरिक्त फल, उच्च रक्तचाप, डायबिटीज और कैंसर सहित दूसरी बीमारियों की रोकथाम में भी काफी असरदायक होते हैं।

18. त्वचा से संबंधित रोगों में विटामिन C से युक्त फलों का सेवन करना चिकित्सा की दृष्टि से भी काफी लाभदायक होता है।

19. बालों को स्वस्थ रखने और उनके बेहतर पोषण के लिये भी फलों का सेवन करना उत्तम माना जाता है।

20. कुछ विशेष फल जैसे केला, संतरा, नींबू आदि को छोड़कर (क्योंकि इनका छिलका मोटा होता है) बाकी सभी फलों को छिलकेसहित ही उपयोग में लाना चाहिये, क्योंकि इनके छिलके fiber से भरपूर होते हैं।

21. फल एक शानदार Electrolyte का भी काम करते हैं। यह रक्त में अम्ल और क्षार का आवश्यक संतुलन बनाये रखते हैं।

22. फल उन phytochemicals का भी प्रचुर स्रोत हैं जो antioxidants और antiinflammatory agents के रूप में काम करते हैं और स्वास्थ्य को बेहतर बनाये रखने में हमारी मदद करते हैं।

23. जामुन, आलूबुखारा जैसे फल diabetes के रोगियों के लिये बहुत लाभदायक है, क्योंकि यह इंसुलिन कोशिकाओं की क्रियाशीलता को बढ़ाते हैं।

24. फल नाड़ियों की दुर्बलता को दूर करते हैं और आँखों के स्वास्थ्य को उत्तम बनाते हैं।

25. फल न केवल रसीले और स्वादिष्ट होते हैं, बल्कि यह इस बात को भी सुनिश्चित करते हैं कि लम्बे समय तक आपका स्वास्थ्य और शरीर दोनों उत्तम बने रहें।

फलों के इतने ज्यादा लाभ देखकर, अब तो आप भी समझ ही गये होंगे कि भारत में चली आ रही यह सदियों पुरानी कहावत ‘एक अनार सौ बीमार” बिल्कुल भी गलत नहीं है। जो शायद फलों की महत्ता को आधार मानकर ही बनाई गयी थी, भले ही आज इसका अर्थ कुछ अन्य उद्देश्य से भी प्रयोग में लाया जाने लगा हो।

अगले लेख में हम आपको प्रत्येक फल के बारे में विस्तार से बतायेंगे जिनका सेवन आपको कई शारीरिक समस्याओं से निजात दिला सकता है और एक स्वस्थ जीवन जीने के सपने को पूरा करने में आपकी आशातीत सहायता कर सकता है।

Read more at : Benefits of Fruits

“मनुष्य के स्वास्थ्य के लिये प्राकृतिक आहार से बढ़कर दूसरा कोई भोजन नहीं है।”
– अरविंद सिंह

 

Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!