Meaning and Facts about Human Kidneys in Hindi

 

“किडनी, मूत्र-प्रणाली के अंग हैं। एक व्यस्क किडनी में आमतौर पर 10 से 20 लाख नेफ्रॉन्स होते हैं। इनके द्वारा इलेक्ट्रोलाइट, क्षार-अम्ल संतुलन और रक्तचाप का नियमन होता है। Kidney से उत्पन्न होने वाले मूत्र में, मुख्य रूप से यूरिया और अमोनिया होते हैं।

 

Meaning and Facts about Human Kidneys in Hindi
शरीर का जहर बाहर निकालने वाले गुर्दे बहुत अनमोल हैं

 

Kidney Meaning in Hindi किडनी का अर्थ

1. किडनी का अर्थ है – वृक्क या गुर्दा, जो मानव शरीर के 5 Vital Organs में से एक है। Kidney Meaning in Hindi में आज हम आपको इसी अद्भुत अंग के बारे में बतायेंगे। Kidney मानव शरीर में स्थित दो सेम के आकार वाले अंग हैं, जिनका मुख्य कार्य रक्त का शोधन करके और अतिरिक्त द्रव को बाहर निकालते हुए, मूत्र का उत्पादन करना है। Kidney ज्यादातर रीढधारी प्राणियों और कुछ अकशेरुकी जीवों में भी मिलती है।

2. मनुष्यों के शरीर में दोनों Kidney, उदर गुहा में रेट्रोपेरिटोनियम (Retroperitoneum) नामक खाली जगह में स्थित होती हैं। प्रत्येक गुर्दे के शीर्ष पर एक अधिवृक्क ग्रंथि होती है। किडनी का उपरी भाग, आंशिक रूप से ग्यारहवीं व बारहवीं पसली द्वारा सुरक्षित रहता है। Kidney में रक्त की आपूर्ति वृक्कीय धमनियों (Renal Artery) के जोड़े से होती है और फिर यहाँ से रक्त शुद्ध होकर, वृक्कीय शिराओं (Renal Veins) के एक जोड़े में चला जाता हैं।

3. प्रत्येक वृक्क से एक पतली नली, मूत्राशय में जाकर खुलती है, जिससे Kidney में बनने वाला मूत्र भेजा जाता है। हर गुर्दे में अवतल और उत्तल सतहें पाई जाती हैं। अवतल सतह, जिसे वृक्कीय नाभिका (Renal Hilum) भी कहते है, वह बिंदु है, जहां से वृक्क धमनी, Kidney में प्रवेश करती है और वृक्क शिरा तथा मूत्रवाहिनी बाहर निकलती है।

4. हमारी Kidney, सख्त रेशेदार ऊतकों, वृक्कीय कैप्सूल (Renal Capsule) से घिरी होती है, जो खुद पेरिनेफ्रिक (Perinephric) वसा, वृक्क पट्टी (गेरोटा की) तथा पैरानेफ्रिक वसा से घिरी होती है। इन टिश्यू की अगली सीमा पेरिटोनियम है, जबकि पिछली सीमा, ट्रांसवर्सैलिस पट्टी (Transversalis Fascia) है।

Kidney in Hindi गुर्दों की आन्तरिक संरचना

5. दायाँ गुर्दा (Right Kidney), उपर से यकृत से और बायाँ गुर्दा (Left Kidney) उपर से प्लीहा से छूता रहता है। इसलिये जब मनुष्य साँस लेता है, तो डायफ्राम के नीचे होने के साथ-साथ, हमारी किडनी भी नीचे की ओर जाती हैं। ह्रदय से निकलने वाली महाधमनी, ह्रदय से निकलने के पश्चात दो भागों में बंट जाती है। इसका एक भाग, जो पेट से होते हुए नीचे की ओर जाता है, औदरिक महाधमनी (Abdominal Aorta) कहलाता है।

6. गुर्दों के समीप आकर इस धमनी से भी दो शाखाएँ निकलती हैं। एक शाखा, बायें गुर्दें में और दूसरी शाखा, दायें गुर्दें के अन्दर चली जाती है। यहाँ से प्रत्येक वृक्कीय धमनी, अनेक छोटी-छोटी धमनियों में विभाजित हो जाती है, जो आगे चलकर और भी छोटी अंतर्खण्डात्मक धमनियों (Interlobar Arteries) में बंट जाती हैं, जो वृक्कीय कैप्सूल (Renal Capsule) को छेदकर वृक्कीय पिरामिडों के बीच स्थित वृक्कीय स्तंभों से होकर गुज़रती हैं।

7. इसके बाद अंतर्खण्डात्मक धमनियां, चापाकार धमनियों (Arcuate Arteries), जो गुर्दे की छाल तथा मज्जा की सीमा पर होती हैं, को रक्त की आपूर्ति करती हैं। प्रत्येक चापाकार धमनी, विभिन्न अंतर्खण्डात्मक धमनियाँ प्रदान करती है, जो अभिवाही धमनियों को भरती हैं, और जो फिर ग्लोमेरुली (Glomerulus) को रक्त की आपूर्ति करती हैं।

8. रक्त के पूरी तरह शुद्ध हो जाने पर रक्त शिरिकाओं के एक छोटे नेटवर्क से होकर गुज़रता है, जो अंतर्खण्डात्मक शिराओं (Interlobar Veins) से जाकर मिलती हैं। शिराएं भी धमनियों जैसे वितरण पैटर्न का ही पालन करती हैं, अभिवाही शिराएं, चापाकार शिराओं (Arcuate Veins) को रक्त प्रदान करती हैं। जहाँ से फिर यह उन अंतर्खण्डात्मक शिराओं की ओर जाता है, जो अंततः रक्त के Kidney से बाहर निकलने के लिये वृक्कीय शिरा (Renal Vein) का निर्माण करती हैं।

Structure of The Human Kidney in Hindi

Location & Size of Kidney गुर्दों का स्थान और आकार

9. Kidney शरीर में दाईं और बाई तरफ (पेट के पीछे और स्पाइन के दोनों तरफ) अवस्थित होती हैं। हमारे गुर्दों का जोड़ा, एक सीध में न होकर कुछ तिरछा (Lopsided) होता है। हमारा दायाँ वृक्क, बायें वृक्क से कुछ छोटा होता है और यह शरीर में कुछ नीचे की ओर अवस्थित होता है। क्योंकि इसे यकृत के लिये स्थान बनाना पड़ता है, जो शरीर का सबसे बड़ा अंदरूनी अंग है। Liver के बारे में जानने के लिये पढे – Liver Facts in Hindi

10. एक व्यस्क व्यक्ति की प्रत्येक किडनी (Adult Kidney) की लम्बाई लगभग 11-14 सेमी, चौड़ाई 6 सेमी और मोटाई 3 सेमी होती है। इसका औसत वजन लगभग 150 ग्राम होता है। आसान शब्दों में कहें तो Kidney इन्सान की बंद मुट्ठी, या कंप्यूटर माउस के आकार की होती है। हमारे गुर्दे वसा की एक मोटी परत वाले आवरण में सुरक्षित रहते हैं।

11. पुरुषों की किडनी, स्त्रियों की किडनी की तुलना में कुछ भारी होती हैं। जहाँ पुरुषों के गुर्दे का वजन 125 से 170 ग्राम होता है, वहीँ स्त्रियों के गुर्दे का वजन 115 से 155 ग्राम होता है।

12. किसी शिशु की Kidney का वजन उसके शरीर के भार की तुलना में 4 गुणा अधिक होता है। एक नवजात बालक के वृक्क का भार लगभग 25 ग्राम होता है।

13. एक Kidney का दूसरी किडनी से आकार में बड़ा या छोटा होना अत्यंत सामान्य बात है, इससे किसी भी व्यक्ति को बिल्कुल चिंतित नहीं होना चाहिये।

14. Kidney की संरचना बहुत ही ज्यादा जटिल होती है। एक व्यस्क मनुष्य के प्रत्येक वृक्क में 10 लाख से भी ज्यादा नेफ्रौंस होते हैं। हालाँकि एक चूहे की Kidney में सिर्फ 12500 नेफ्रौंस होते हैं।

15. यदि Kidney के इन नेफ्रॉन्स (Nephrons) को पूरी तरह से फैला दिया जाय, तो इनकी लम्बाई लगभग 8 किमी हो जायेगी।

Kidney in Hindi गुर्दों का मुख्य भाग हैं नेफ्रॉन्स

16. आपकी Kidney सिर्फ एक बड़ा फ़िल्टर करने वाला स्पंज नहीं है, बल्कि यह लाखों अत्यंत छोटे-छोटे फ़िल्टर का एक तंत्र है, जिन्हें Nephrons कहते हैं। यह नेफ्रॉन्स ही वृक्क का मुख्य भाग होते हैं, जो रक्त को छानकर उसकी अशुद्धि को अलग कर देते हैं। एक व्यस्क किडनी में आमतौर पर 10 से 20 लाख नेफ्रॉन्स होते हैं।

17. प्रत्येक नेफ्रॉन, रक्त की एक थोड़ी सी मात्रा को छानता है। नेफ्रॉन में दो भाग होते हैं – एक फ़िल्टर, जिसे ग्लोमेरुली (Glomerulus) कहते हैं और दूसरा ट्युब्यूल (Tubule)। नेफ्रॉन दो चरणों वाली प्रक्रिया के माध्यम से कार्य करता है।

18. रक्त सबसे पहले Glomerulus से होकर गुजरता है, जो अपनी बेहद सूक्ष्म छलनी (सूक्ष्म केशिकाओं का घना जाल) से विषाक्त पदार्थों (टोक्सिन) और अतिरिक्त द्रव को तो गुजरने देता है, लेकिन रक्त कोशिकाओं और प्रोटीन जैसे बड़े अणुओं को रोक लेता है।

19. इसके पश्चात, परिशुद्ध हुआ द्रव और टोक्सिन Tubule में जाते हैं, जहाँ Tubule उन मिनरल्स को इकठ्ठा कर लेता है, जिनकी शरीर को आवश्यकता होती है और फिर उन्हें वापस मुख्य रक्त प्रवाह (Bloodstream) में भेज देता है।

Kidney in Hindi मूत्र का निर्माण करते हैं गुर्दे

20. इस तरह यह ज्यादा से ज्यादा विषैले पदार्थों को छानकर शरीर से बाहर निकाल देता है। रक्त को छानने के दौरान, Kidney विषैले पदार्थों को दूर करने के लिये मूत्र का निर्माण करती है।

21. यह मूत्र दो पतली नलिकाओं (ट्यूब्स) जिन्हें मूत्रनलिका (Ureters) कहा जाता है, के जरिये मूत्राशय (Bladder) में भेज दिया जाता है। जहाँ से मूत्र Urethra के जरिये शरीर से बाहर निकल जाता है।

22. जब तक Bladder (मूत्राशय) Kidney से बनकर आने वाले मूत्र से भरता रहता है, इसकी दीवारों की मांसपेशियाँ शिथिल रहती हैं। लेकिन जब यह अपनी क्षमता तक भर जाता है, तब एक सन्देश मस्तिष्क में पहुँचता है जो हमें जल्दी से जल्दी टॉयलेट ढूँढने की सलाह देता है।

23. जब मूत्राशय खाली होता है, तब पेशाब इसके नीचे स्थित मूत्रनलिका यानि युरेथ्रा के माध्यम से शरीर से बाहर आ जाता है। पुरुषों में Urethra लम्बी होती है, जबकि स्त्रियों में यह छोटी होती है।

24. गुर्दों में पथरी बनने का सबसे बडा कारण है – पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीना। पानी नहीं पीने से अपशिष्ट पदार्थ किडनी में ही जमा होने लगते है और धीरे-धीरे घनीभूत होकर पत्थर जैसी कठोर संरचना के रूप में बदल जाते हैं।

Functions of The Human Kidney in Hindi

शरीर को विषैले और बेकार पदार्थों से मुक्त करते हैं गुर्दे

25. वृक्क रक्त को शुद्ध करके विषैले तत्वों को बाहर निकालने वाले शरीर के तीन मुख्य आंतरिक अंगों में से एक है। दूसरे महत्वपूर्ण अंग हैं – यकृत और फेफड़ें। Kidney शरीर के लिये इसलिये जरुरी हैं, क्योंकि यह रक्त के संघटन को स्थिर बनाये रखती हैं, जिसके आधार पर हमारा शरीर कार्य करने में सक्षम बना रहता है। शरीर में Kidney के 3 मुख्य कार्य हैं जो नीचे दिये जा रहे हैं –

26. Kidney सिर्फ रक्त को छानकर उसकी अशुद्धियाँ ही दूर नहीं करती, बल्कि वह शरीर के लिये जरुरी हार्मोन्स भी बनाती हैं जो रक्त दाब (Blood Pressure) को नियंत्रित करने, लाल रक्त कणिकाओं का निर्माण करने और हड्डियों को मजबूत बनाने में मददगार होते हैं।

27. किडनी, शरीर में अनुपयुक्त पदार्थों और अतिरिक्त द्रव को बनने से रोकती है तथा रक्त के pH स्तर को संतुलित रखती है।

28. किडनी, महत्वपूर्ण इलेक्ट्रोलाइटस जैसे सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम और फास्फेट का स्तर स्थिर बनाये रखती है।

Kidney in Hindi हार्मोन्स भी पैदा करते हैं गुर्दे

29. Kidney, आपके शरीर में विटामिन D को भी Activate करती हैं, लेकिन सिर्फ तभी, जब दूसरा कोई विकल्प न बचा हो। जानकारी के लिये बता दें कि विटामिन D एक दुर्लभ विटामिन है और यह मुख्य रूप से दूध और मांसाहार में पाया जाता है। लेकिन हमारे शरीर को जितने विटामिन डी की आवश्यकता होती है, उसकी ज्यादातर पूर्ति सूर्य की रौशनी से होती है।

30. मुख्य रूप से हमारी त्वचा ही, सूर्य के माध्यम से हमारे शरीर को विटामिन डी उपलब्ध कराती है। यदि फिर भी इसकी पूर्ति नहीं होती, तब हमारा लीवर आवश्यक मात्रा की पूर्ति करता है। अगर आपका यकृत भी इस विटामिन की आवश्यकता को पूरा करने में असफल हो जाता है, तब आपकी Kidney इसकी पूर्ति करती है।

31. Kidney, जल, ग्लूकोज़ और अमिनो अम्लों के पुनर्वशोषण के लिये भी ज़िम्मेदार होती हैं। यह जिन हार्मोन्स को उत्पन्न करते हैं, उनमे कैल्सिट्रिओल (Calcitriol), रेनिन (Renin) और एरिथ्रोपिटिन (Erythropoietin) शामिल हैं।

32. 40 वर्ष की उम्र के बाद, गुर्दों के नेफ्रॉन्स 1% प्रति वर्ष की दर से काम करना बंद कर देते हैं, लेकिन बाकी बचे हुए नेफ्रॉन फैलकर, इस कुदरती क्षति की पूरी तरह से भरपायी कर देते हैं।

Kidney in Hindi बेहद महत्वपूर्ण कार्य करते हैं गुर्दे

33. Kidney शरीर के रक्त को शुद्ध करके, उसके 99 प्रतिशत भाग को वापस रक्त परिसंचरण तंत्र में भेज देती हैं और बाकी 1 प्रतिशत छना हुआ रक्त मूत्र बन जाता है।

34. हर दिन, हमारे वृक्क, लगभग 180 लीटर, अपशिष्ट पदार्थ (Filtrate) पैदा करते हैं। चौंकिये मत, इसका तात्पर्य है कि Kidney हर रोज 180 लीटर रक्त छानती हैं।

35. क्योंकि शरीर का सारा रक्त हर 35-40 मिनट बाद किडनी से छनकर वापस भेज दिया जाता है। इस छने हुए रक्त से ही लगभग 1.5 से 2.5 लीटर मूत्र तैयार होता है।

36. मानव शरीर में सबसे अधिक रक्त न तो Heart में प्रवाहित होता है, न ही यकृत और न ही मस्तिष्क में, बल्कि हमारे गुर्दों में ही रक्त की सबसे अधिक आपूर्ति होती है।

37. Kidney के छोटे आकार के बावजूद, शरीर के सम्पूर्ण रक्त का 22 प्रतिशत भाग, हर समय वृक्कों से ही प्रवाहित होता रहता है।

38. क्रेटेनिन (Creatinine) एक बेकार पदार्थ है जिसे हमारी किडनी रक्त से अलग कर देती हैं। अगर रक्त में क्रेटेनिन का स्तर ज्यादा बढ़ जाय, तो यह गुर्दों के रोग (Kidney Disease) का संकेत हो सकता है।

Amazing Facts about Human Kidney in Hindi

39. दुनिया में 99 प्रतिशत लोगों के शरीर में जन्म से ही दो किडनी होती हैं। लेकिन चिकित्सा विज्ञानियों के अनुसार, हमें एक सामान्य जीवन जीने के लिये दोनों Kidney की आवश्यकता नहीं होती है। सिर्फ एक किडनी का 50 प्रतिशत भाग भी, किसी इंसान के स्वस्थ जिंदगी जीने के लिये पर्याप्त है।

40. यदि कोई व्यक्ति सिर्फ एक ही Kidney के साथ जन्म लेता है, तो उसका वह वृक्क अतिरिक्त कार्य का भार वहन करने के लिये आकार में बढ़ जाता है। साथ ही उसका भार भी लगभग उतना ही हो जाता है जितना कि दोनों गुर्दों को मिलाकर होता। ऐसी स्थिति में यह अकेला गुर्दा 40 प्रतिशत अधिक क्षमता से कार्य करता है।

Kidney in Hindi किडनी की क्षमता से जुडे अद्भुत तथ्य

41. जिनके शरीर में जन्म से केवल एक ही किडनी होती है, उनके गुर्दे में Nephrons की संख्या 15 लाख तक हो सकती है। इतना ही नहीं यह नेफ्रॉन्स, अतिरिक्त बढे बोझ को सहने के लिये आकार में भी बढ़ जाते हैं। इस प्रक्रिया को Hypertrophy कहा जाता है।

42. वैज्ञानिकों के अनुसार, किसी भी इन्सान को अपने शरीर का रक्त शुद्ध करने के लिये कम से कम 3 लाख नेफ्रोंस की आवश्यकता होती है।

43. यदि एक किडनी किसी कारण से खराब हो जाय या अपना कार्य बंद कर दे, तो दूसरी किडनी के सहारे भी व्यक्ति पूर्णतया सामान्य जीवन जी सकता है।

44. 40 वर्ष की आयु के पश्चात, किडनी की कार्यक्षमता (एक प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से) Nephrons के कारण कमजोर पड़ने लगती है।

Kidney in Hindi गुर्दों से जुड़े ऐतिहासिक तथ्य

45. सन 2018 से पहले तक यही माना जाता था कि शायद प्राचीन मिस्रवासियों को Kidney के बारे में कोई जानकारी नहीं थी, भले ही चिकित्सा विज्ञान और मानव शरीर के बारे में उनकी जानकारी अधिक रही हो। लेकिन जब 3500 साल पुराना एक प्राचीन पेपेरस मिला, तब यह तथ्य भी प्रकट हो गया कि उन्हें वास्तव में गुर्दों की भी जानकारी थी और यह Kidney के विषय में ज्ञात संसार का पहला चिकित्सा संबंधी अभिलेख था।

46. ईसाईयों के पवित्र धार्मिक ग्रन्थ बाइबिल में Kidney का 30 से भी ज्यादा बार उल्लेख किया गया है, यहाँ तक कि दिल से भी ज्यादा, जो कि आश्चर्यजनक है। बाइबिल में इसे चेतना, भावनाओं, इच्छाओं, और बुद्धिमानी का स्रोत बाताया गया है।

47. Kidney शरीर में रक्त के प्राकृतिक शोधक के रूप में कार्य करते हैं और अपशिष्ट को हटाते हैं, जिसे मूत्राशय की ओर भेज दिया जाता है।

Facts about The Disease of Kidney in Hindi

किडनी के रोगों से जुडी महत्वपूर्ण बातें

48. किडनी के ज्यादातर रोग नेफ्रॉन्स को ही नुकसान पहुँचाते हैं, जिससे इनकी फिल्टर करने की सामर्थ्य खत्म हो जाती है। नेफ्रॉन चोट या जहर के कारण अचानक भी क्षतिग्रस्त हो सकते हैं, लेकिन ज्यादातर Kidney Disease नेफ्रॉन को धीमे-धीमे और चुपचाप ही खत्म करती हैं। जिससे सिर्फ कुछ वर्षों या दशकों बाद ही गुर्दों को पहुंचे नुकसान के बारे में पता चल पाता है।

49. एक्यूट किडनी फैल्योर का अर्थ है – किडनी का अचानक काम करना बंद कर देना। हालाँकि यह ठीक हो सकता है, लेकिन अगर वक्त पर इलाज न मिले, तो यह प्राणघातक सिद्ध होता है। लेकिन क्रोनिक किडनी डिजीज ठीक नहीं होती और गुर्दों का प्रत्यारोपण ही एकमात्र विकल्प बचता है।

50. आम तौर पर स्त्रियाँ Chronic Kidney Disease की ज्यादा शिकार होते देखी गयी हैं। लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि CKD से ग्रस्त पुरुषों की किडनी फेल होने का खतरा, स्त्रियों की तुलना में 50 प्रतिशत ज्यादा होता है।

51. किडनी को नुकसान पहुँचाने वाले कई कारण हैं – जैसे टाइप 1 और 2 डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, मूत्र मार्ग की बाधा और किडनी के दूसरे हिस्सों में सूजन। लेकिन किडनी का फेल होकर अपना काम बंद कर देना Kidney Disease का सबसे खतरनाक रूप है।

52. ब्रिटेन में 35 लाख लोग गुर्दों के दीर्घकालीन रोग (Chronic Kidney Disease) यानि CKD से ग्रस्त हैं।

53. अनियंत्रित मधुमेह और उच्च रक्त चाप CKD के सबसे बड़े कारण हैं।

Kidney in Hindi लाखों लोग पीड़ित हैं गुर्दा रोगों से

54. Acute Kidney Injury (AKI) का अर्थ है – गुर्दों की कार्यक्षमता में अचानक कमी आ जाना, जो अक्सर किसी दूसरी गंभीर बीमारी का लक्षण होती है। AKI, हार्ट अटैक की तुलना में ज्यादा खतरनाक हो सकता है।

55. ब्रिटेन में हर साल 1 लाख से ज्यादा और अमेरिका में 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत, AKI से होती है। रिसर्च बताते हैं कि इनमे से 30 प्रतिशत मौते, सही उपचार और परिचर्या से रोकी जा सकती हैं।

56. डायबिटीज (मधुमेह) जो एक साइलेंट किलर के रूप में बदनाम है, शरीर के बाकी अंगों की तरह Kidney का भी दुश्मन है। यह धीरे-धीरे इसके नेफ्रॉन को खत्म करता चला जाता है।

57. गुर्दों का कैंसर (Kidney Cancer) 7वां सबसे आम कैंसर है। मेयो क्लिनिक के अनुसार, किडनी का सबसे आम कैंसर है – वृक्क कोशिका कर्कट (Renal Cell Carcinoma)।

58. ब्रिटेन में AKI पर होने वाला सालाना खर्च 45 करोड़ से 65 करोड़ पौंड है, वहीँ अमेरिका में यह खर्च 3 अरब डॉलर से भी ज्यादा है।

59. Kidney के ज्यादातर रोग, एक ही समय में, दोनों गुर्दों पर आक्रमण करते हैं। जिससे आदमी के जीवन पर आया संकट और ज्यादा बढ़ जाता है।

Kidney in Hindi गुर्दा फेल होने पर ट्रांसप्लांट है आखिरी उपचार

60. किडनी फैल्योर से ग्रस्त लोगों को जीने के लिये या तो डायलेसिस की या फिर किडनी ट्रांसप्लांट की जरुरत होती है। ज्यादातर मामलों में ऐसे रोगियों को बचाने के लिये उन्हें किसी स्वस्थ आदमी का गुर्दा लगा दिया जाता है। अमेरिकन नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार, किडनी ट्रांसप्लांट, अमेरिका में सबसे आम तरह की सर्जरी है।

61. ब्रिटेन में हर रोज लगभग 20 लोगों के गुर्दें अपना काम करने में अक्षम हो जाते हैं और हर साल 3000 से भी ज्यादा किडनी ट्रांसप्लांट की जाती हैं। फिर भी रोगियों की एक बड़ी संख्या एक अदद गुर्दे की तलाश में इंतजार करती रहती है।

62. Kidney के कार्य बंद करने पर व्यक्ति डायलिसिस के जरिये कुछ वर्ष तक जीवित रह सकता है। लेकिन एक सामान्य जीवन जीने का उपाय सिर्फ गुर्दे का प्रत्यारोपण (Kidney Transplant) ही है।

63. क्या आप जानते हैं आपके ब्लड प्रेशर को लम्बे समय तक नियंत्रित रखने का काम भी मुख्य रूप से Kidney पर निर्भर करता है। इसीलिये अपने गुर्दों को स्वस्थ रखना बहुत जरुरी है।

जीवनसूत्र को अपना प्यार बाँटें
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •