10 Deadliest Poisons on Earth in Hindi

 

“साइनाइड दुनिया के सबसे खतरनाक और जहरीले पदार्थों में से एक है, लेकिन यह संसार का सबसे तेज विष नहीं है। इससे कई गुणा अधिक तीव्र जहर इस दुनिया में मौजूद हैं जिनमे पोलोनियम, डाइऑक्सिन, डिमेथिलमरकरी और वीएक्स जैसे रासायनिक पदार्थ शामिल हैं। लेकिन इस संसार में एक विष ऐसा भी है जो इनसे भी अधिक तेज है और जिसकी एक किग्रा से भी कम मात्रा धरती से पूरी मानवजाति का अस्तित्व समाप्त कर सकती है।”

Deadliest Poison in The World in Hindi
धरती का सबसे घातक जहर है बोटुलिनम

कभी परसल्सस (Paracelsus) नाम के चिकित्सा विज्ञानी ने कहा था कि इस दुनिया में हर चीज़ जहर है, अगर उसे निर्धारित मात्रा से अधिक परिमाण में लिया जाय तो। ऐसी कोई चीज़ नहीं है जो जहरीली न हो और यदि आप कुछ गहराई से सोच सकें तो पायेंगे कि उनका यह कथन बिल्कुल सही था। आपने भी सुना ही होगा कि कभी-कभी जहर भी दवा बन जाता है और दवा जहर। इस प्रकृति में पाया जाने वाला कोई पदार्थ जहर है या नहीं, यह निर्भर करता है उस पदार्थ की मात्रा पर।

वायु और पानी जैसे जीवन के लिये अनिवार्य तत्व तथा दूध और घी जैसे बलिष्ठ पदार्थ भी अधिक मात्रा में लिये जाने पर जीवन के लिये खतरा बन जाते हैं। लेकिन इस लेख में हमारा विष से तात्पर्य उन पदार्थों से है जिनकी बहुत थोड़ी मात्रा भी जीवों की मृत्यु का कारण बन सकती है। इन तेज विषों में कई प्राकृतिक पदार्थ है तो कईयों का निर्माण मनुष्यों ने किया है।

आज हम आपको दुनिया के उन सबसे घातक विषों के बारे में बता रहे हैं जो जीव-जंतुओं और पेड़-पौधों से लेकर जहरीली गैसों और धातुओं तक में पाये जाते हैं और जिनका सेवन करने से या जिनके सम्पर्क में आने पर चंद मिनटों में ही किसी भी इंसान की मौत हो सकती है।

Most Dangerous Poisons in The World : –

Cyanide साइनाइड –

सन 1782 में एक स्वीडिश रसायन विज्ञानी ‘कार्ल विल्हेल्म स्चील’ द्वारा खोजे गये साइनाइड को दुनिया के 10 सबसे घातक जहर में से एक माना जाता है लेकिन यह संसार का सबसे तेज विष नहीं है। यह गैस और ठोस क्रिस्टल दोनों ही स्वरुप में पाया जाता है साइनाइड का सबसे खतरनाक यौगिक है हाइड्रोजन साइनाइड जो कि एक गैस है और जो साँस के द्वारा लिये जाने पर मार डालती है

जबकि ठोस रूप में पोटैशियम साइनाइड सबसे खतरनाक है ठोस साइनाइड या इसके विलयन की 200 मिग्रा मात्रा खाने पर या 270 पीपीएम गैसीय साइनाइड साँस के रूप में लिये जाने पर, यह विषैला तत्व 15 से 20 मिनट के अन्दर ही किसी भी इंसान को मौत की नींद सुला सकता है

Dioxin डाइऑक्सिन –

डाइऑक्सिन को मानव निर्मित सबसे जानलेवा और घातक विष माना जाता है यह साइनाइड से भी 60 गुणा अधिक तेज होता है इसकी मात्र 50 से 60 माइक्रोग्राम मात्रा भी किसी इन्सान की जान ले सकती है

Dimethylmercury डिमेथिलमरकरी –

डिमेथिलमरकरी भी एक बहुत तेज जहर है जो 20 मिनट के अंदर किसी भी इंसान को मार सकता है

Polonium पोलोनियम –

पोलोनियम एक दुर्लभ और उच्च रेडियोधर्मी धातु है जिसका कोई भी स्थायी आइसोटोप नहीं होता है इसे सन 1898 में क्यूरी दंपत्ति, पियरे और मैरी क्यूरी ने खोजा था पोलोनियम की बहुत अधिक रेडियोएक्टिविटी ही इसे बहुत तेज जहर बना देती है यह गुलाबी रंग का होता है लेकिन अल्फ़ा कणों के उत्सर्जन से जल्दी ही इसका रंग पीला पड़ जाता है यदि दोनों का समान भार हो तो पोलोनियम-210 हाइड्रोजन साइनाइड से लगभग  250,000 गुणा अधिक जहरीला होता है

एक औसत व्यस्क व्यक्ति के लिये 210Po की LD50 एक माइक्रोग्राम से भी कम होती है जबकि हाइड्रोजन साइनाइड के लिये यह 250 मिग्रा तक होती है इसे आप इस तरह से समझ सकते हैं कि पोलोनियम की एक ग्राम मात्रा ही 1 करोड़ लोगों को मार सकती है पर चूँकि पोलोनियम की अर्ध-आयु बहुत कम होती है इसीलिये यह तत्व प्रकृति में बहुत दुर्लभ है

क्रमशः ….

Spread Your Love