Meaning and Facts about Large Intestine in Hindi

 

“हमारी आँतें, हमारे शरीर का अत्यंत महत्वपूर्ण अंग हैं। आँते, माँसपेशियों से बनी हुई, वह लंबी, खोखली और वर्तुलाकार नलियाँ हैं, जो उदर में आमाशय से लेकर गुदा तक गयी हैं।”

 

Surprising Facts about Large Intestine in Hindi
मानव की बड़ी आँत 1.5 से 2 मीटर तक लम्बी होती है

Intestine Meaning in Hindi इंटेसटाईन का अर्थ

Intestine Meaning in Hindi में आज हम आपको इंटेसटाईन का अर्थ और उनके कार्य के बारे में विस्तार से बतायेंगे। Intestine का अर्थ है – आँत, आंत्र, या अंतड़ी। आँत मनुष्य के साथ-साथ सभी रीढधारी प्राणियों के शरीर का वह अत्यंत महत्वपूर्ण अंग है, जहाँ उनके द्वारा खाये गये भोजन का पाचन और अवशोषण होता है तथा वह मल के रूप में परिवर्तित होता है। अगर आप भी आँतों से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्यों को खोज रहे हैं तो फिर यह लेख आपके ही लिये है।

आँते, माँसपेशियों से बनी हुई, वह लंबी, खोखली और वर्तुलाकार नलियाँ हैं, जो उदर में आमाशय से लेकर गुदा तक गयी हैं। यह पाचन संस्थान का प्रमुख अंग हैं। संरचना और कार्य की दृष्टि से आँतों को दो भागों में बाँटा जाता है – छोटी आंत (Small Intestine) और बड़ी आँत (Large Intestine)। यह दोनों ही एक दूसरे से जुडी रहती हैं।

जहाँ छोटी आँत की औसत लम्बाई, 4.5 से 6.9 मीटर (15 से 22.5 फुट) तक होती है, वहीँ बडी आँत की लम्बाई सिर्फ 1.5 से 2 मीटर ही होती है। भोजन का पाचन और अवशोषण तो मुख्यतः छोटी आँत में ही होता है, क्योंकि बड़ी आँत में केवल पानी ही अवशोषित किया जाता है।

Intestines in Hindi शरीर का महत्वपूर्ण अंग हैं आँतें

छोटी आँत की संरचना और कार्य प्रणाली से जुडी महत्वपूर्ण बातों का वर्णन, हमने Small Intestine Facts in Hindi में किया है। इस लेख में हम सिर्फ इन्सान की बड़ी आँतों से जुड़े तथ्यों की ही चर्चा करेंगे। Large Intestine या बड़ी आँत, पाचन संस्थान का एक महत्वपूर्ण अंग है।

इसे बृहदान्त्र, Large Bowel या Colon (कोलन) के नाम से भी जाना जाता है। यह हमारे Gastrointestinal Tract और Digestive System का अंतिम भाग है। बड़ी आँत सभी रीढ़धारी प्राणियों में पायी जाती है और इसकी आकृति किसी उलटे U की तरह होती है।

अगर आप यह सोचते हैं कि बड़ी आँत को इसलिये बड़ी आँत कहते हैं, क्योंकि यह ज्यादा बड़ी/लम्बी होती है, तो आप गलत हैं। दरअसल Large Intestine को यह नाम इसकी लम्बाई के लिये नहीं, बल्कि इसकी चौड़ाई की वजह से मिला है।

Structure of The Human’s Large Intestine in Hindi

ऐसी होती है इंसानों की बड़ी आँत की संरचना

1. स्त्रियों की छोटी आँत की लम्बाई, आम तौर पर पुरुषों की छोटी आँत से ज्यादा ही होती है, लेकिन उनकी बड़ी आँत की लम्बाई, पुरुषों की Large Intestine की तुलना में कम होती है। एक व्यस्क नर की बड़ी आँत की लम्बाई 166 सेमी (80-313 सेमी) और स्त्री की बड़ी आँत की लम्बाई, 155 सेमी (80-214 सेमी) होती है।

2. वास्तव में तो बड़ी आँत छोटी, आँत की तुलना में कहीं ज्यादा छोटी होती है। इसकी औसत लम्बाई इन्सान की छोटी आँत का सिर्फ 25 प्रतिशत होती है। Large Intestine की लम्बाई छोटी आँत से कम जरुर होती है, लेकिन इसकी मोटाई/चौड़ाई इससे दोगुनी होती है।

3. ऐसा इसलिये ताकि सतह का क्षेत्रफल बढ़ने से, मल इसमें सरलता से आगे बढ़ सके। भले ही दोनों आँतों की मोटाई में अंतर हो, लेकिन इससे इनके काम करने के तरीके पर कोई फर्क नहीं पड़ता। बड़ी आँत भी उसी तरह से काम करती है जैसे कि छोटी आंत।

4. एक व्यस्क व्यक्ति की बड़ी आँत की लम्बाई 1.5 मीटर (5 फीट) होती है, जो हमारे गैस्ट्रोइंटेसटाईनल ट्रैक्ट की कुल लम्बाई का पाँचवां हिस्सा है। स्तनधारियों की Large Intestine 5 भागों में बंटी होती है, जिनके नाम क्रमशः इस प्रकार हैं –

1. बड़ी आँत का उपर चढ़ने वाला हिस्सा (Ascending Colon)
2. बड़ी आँत का सीधा हिस्सा (Transverse या Slanting Colon)
3. बड़ी आँत का नीचे उतरने वाला हिस्सा (Descending Colon)
4. सिगमोईड कोलोन (Sigmoid Colon)
5. मलाशय (Rectum)

Large Intestine in Hindi यह हैं बड़ी आँत के भाग

5. अस्सन्डिंग कोलन में सकुम (Cecum) और अपेंडिक्स (Appendix) भी शामिल हैं। सकुम वह हिस्सा है, जहाँ छोटी आँत और बड़ी आँत एक साथ जुडती हैं। बड़ी आँत का औसत आन्तरिक व्यास, इसके हर हिस्से में अलग-अलग रहता है।

6. जैसे कि सकुम का व्यास 8.7 सेमी, अस्सन्डिंग कोलन का व्यास 6.6 सेमी, ट्रांस्वर्स कोलन का व्यास 5.8 सेमी, डिसेंडिंग कोलन का व्यास 6.1 सेमी, सिगमोईड कोलन का व्यास 6.3 सेमी और मलाशय का व्यास 5.7 सेमी होता है।

7. सकुम भोजन के पाचन में सहायता करता है और अपेंडिक्स जिसका विकास इससे ही होता है, बड़ी आँत का हिस्सा होने के बावजूद, भोजन के पाचन में कोई सहायता नहीं करती है।

8. सिगमोईड कोलोन, Large Intestine का ही एक भाग है, जहाँ ठोस मल को बाहर निकालने से पहले रखा जाता है।

9. बड़ी आँत, सिम्पेथेटिक नर्व सप्लाई के माध्यम से तंत्रिका तंत्र से भी जुडी रहती है, जो इसकी मुख्य गतिविधियों को नियंत्रित करता है।

10. बड़ी आँत को शुद्ध रक्त की आपूर्ति (धमनीय आपूर्ति) Superior और Inferior Mesenteric Artery की शाखाओं से होती है।

Large Intestine in Hindi क्या काम करती है अपेंडिक्स

11. हालाँकि अपेंडिक्स का काम अभी तक अज्ञात है, लेकिन कुछ स्रोतों का मानना है कि अपेंडिक्स बड़ी आँत के माइक्रोफ्लोरा के एक नमूने को सुरक्षित रखती है। अगर कभी इम्यून सिस्टम की प्रतिक्रिया की वजह से Large Intestine का माइक्रोफ्लोरा क्षतिग्रस्त हो जाय, तो यह बड़ी आँत में फिर से जीवाणुओं को बसाने में मदद करने में सक्षम है।

12. इसके अतिरिक्त अपेंडिक्स में लिम्फेटिक कोशिकाओं का उच्च घनत्व होता है जो इसे प्रतिरक्षा प्रणाली का महत्वपूर्ण अंग बनाती हैं।

13. अपेंडिक्स वास्तव में उन जीवाणुओं के लिये लाभदायक है जो पाचन संस्थान की मदद करते हैं।

14. इसके अलावा कई हजार प्रोटीन कोडिंग जीन्स में से लगभग 150 की अभिव्यक्ति, बड़ी आँत में भी होती है।

15. बड़ी आँत, छोटी आँत के अंतिम सिरे से, इलियोसकल वाल्व (Ileocecal Valve) के जरिये जुडी रहती है।

Wonderful Functions of The Large Intestine in Hindi

कैसे काम करती है इन्सान की बड़ी आँत

16. बड़ी आँत पाचन संस्थान का अंतिम भाग है, जहाँ शरीर खाये गये भोजन से सभी पोषक तत्वों को निकालने के लिये अपना अंतिम प्रयास करता है। ऐसी कोई भी चीज जिसे हमारा शरीर इस्तेमाल नहीं कर सकता, Large Intestine के माध्यम से हर हाल में बाहर निकाल दी जाती है। इसे ही हम वेस्ट प्रोडक्ट यानि मल (स्टूल) के रूप में जानते हैं।

17. बड़ी आँत वह अंतिम स्थान है, जहाँ शरीर पचाये गये भोजन से बाकी बचे पोषक तत्वों को खींचने का प्रयास करता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, आपका यह अंग विस्थापित भी किया जा सकता है। अर्थात अगर Large Intestine को शरीर से पूरी तरह बाहर निकाल दिया जाय, तो भी इन्सान जिन्दा रह सकता है।

18. बड़ी आँतों के अन्दर भोजन माँसपेशियों की विशेष गति (क्रमानुकुंचन गति) के आधार पर आगे बढ़ता है। इस प्रक्रिया में भोजन से पानी और लवणों को खींचा जाता है।

19. कई लोग सोचते हैं कि बड़ी आँत में भी भोजन से कुछ न कुछ पोषक तत्व, अवशोषित किये जाते होंगे, पर यह कतई सत्य नहीं है।

20. बड़ी आँत वह स्थान है, जहाँ अवशोषित न हुए पदार्थ का खमीरीकरण होता हैं। यह अक्सर जीवाणुओं के द्वारा होता है।

21. बड़ी आँत ज्यादातर पानी का ही अवशोषण करती है और हर रोज इसमें 1.5 लीटर पानी पहुँचता है।

22. Large Intestine, ठोस अपशिष्ट भोजन से केवल पानी और नमक का ही अवशोषण करती है।

Large Intestine in Hindi मल का निर्माण करती है बड़ी आँत

23. बड़ी आँत कई प्रकार के माइक्रोब्स (सूक्ष्म जीवाणुओं) का घर होती है। यह बैक्टीरिया ही बड़ी आँत के अन्दर उपस्थित भोजन को तोड़ते हैं। कुछ जीवाणु तो ऐसे भी होते हैं जो हमारे शरीर के अन्दर पूरे पाचन तंत्र से गुजरने के बावजूद जिन्दा बच जाते हैं और अंततः Large Intestine के अन्दर उपस्थित भोजन को खमीरीकृत करने का काम करते हैं।

24. भोजन के इस खमीरीकरण से ही आँतों में गैस बनती है और पेट फूलने लगता है। हालाँकि ज्यादातर मामलों में शरीर इस गैस से खुद ही निपटने में सक्षम होता है और घंटे-दो घंटे में यह गुदा से बाहर निकलती रहती है।

25. गुदामार्ग से निकलने वाली गैस में, मुख्य रूप से नाइट्रोजन और कार्बन डाई ऑक्साइड गैसे उपस्थित होती हैं। इसके अलावा इसमें हाइड्रोजन, मीथेन, और हाइड्रोजन सल्फाइड जैसी गैसे भी उपस्थित होती हैं।

26. बिना पचे पोलीसैक्राइडस उत्पादों के जीवाणुओं द्वारा खमीरीकरण करने से, यह गैसे उत्पन्न होती हैं।

27. हमारा मल ठोस इसलिये होता है, क्योंकि बड़ी आँत भोजन से पानी का सारा अंश सोख लेती है।

28. शरीर से मल निष्कासित होने से पहले, यह बड़ी आँत में 8 से 12 घंटे तक रुका रहता है।

Health and Disease of The Large Intestine in Hindi

बड़ी आँत के बिना भी जी सकता है इन्सान मगर मुश्किल होगी

29. अगर कैंसर या फिर अन्य किसी प्रकार की क्षति के कारण, बड़ी आँत अपना काम सही प्रकार से करने में असफल हो जाय और बिगड़ी हुई Large Intestine बाकी शरीर के लिये मुसीबत बन जाय, तो इसे हटाकर शरीर से बाहर भी निकाला जा सकता है।

30. लेकिन अगर शरीर बड़ी आँत के बिना जीने को मजबूर हो जाय तो फिर क्या होगा? कुछ नहीं इन्सान तब भी जिन्दा रह सकेगा। बस उसे थोड़ी-थोड़ी देर में मल त्याग करते रहना पड़ेगा। हालाँकि यह एक पीड़ाजनक अनुभव होगा।

31. आपमें से कई लोग यह सोच रहे होंगे कि अगर Large Intestine की वाकई कोई जरुरत नहीं है, तो फिर शरीर में इसका क्या काम है? चलिये हम आपको बताये देते हैं। बड़ी आँत वास्तव में शरीर को निर्जलीकरण से बचाने और मल त्याग के लिये एक सरल माध्यम प्रदान करने के लिये बनी है। पर बड़ी आँत शरीर को निर्जलीकरण से कैसे बचाती है?

32. इसका जवाब यह है कि जब आप भोजन खाते हैं, तो शरीर में उपस्थित पानी के अंश को बड़ी आँत अवशोषित कर लेती हैं और वापस शरीर में पहुँचा देती है। इसलिये अगर आपका यह अंग पूरी तरह से हटा दिया जाय, तो हाइड्रेशन का स्रोत ख़त्म हो जायेगा और फिर निर्जलीकरण की समस्या से बचने के लिये इन्सान को जल्दी-जल्दी पानी पीना पड़ेगा।

33. इसका तात्पर्य है कि इन्सान को जिन्दा रखने के लिये, उसके शरीर के सारे अंगों को ज्यादा क्षमता से काम करना पड़ेगा।

Intestine in Hindi बड़ी आँत के रोगों के बारे में यह बातें ध्यान रखें

34. अगर बड़ी आँत के स्वास्थ्य का सही प्रकार से ध्यान न रखा जाय, तो यह दर्जनों बीमारियों का शिकार बन सकती हैं, जिसमे कब्ज (Constipation), डायरिया, कोलाईटिस, अपेंडिक्स की सूजन, क्रोन डिजीज, इरिटेबल बोवेल सिंड्रोम और आँतों का कैंसर (कोलोरैक्टल कैंसर) उल्लेखनीय हैं।

35. बड़ी आँत की जाँच करने के लिये कोलोनोस्कोपी का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमे गुदामार्ग से एक लचीली ट्यूब, एक CCD कैमरा और एक फाइबर ऑप्टिक्स कैमरा, बड़ी आँत में भेजकर, इसकी सूक्ष्मता से जाँच की जाती है।

36. कोलोनोस्कोपी भी सिगमोईडोस्कोपी की ही तरह ही होती है। दोनों में अंतर बस यह होता है कि जाँच, आँत के किस हिस्से की की जा रही है।

Amazing Facts about The Small Intestine in Hindi

बड़ी आँत के बारे में यह अविश्वसनीय बातें नहीं जानते होंगे आप

37. हमारी बड़ी आँत में बहुत सारे सूक्ष्म जीव निवास करते हैं, पर क्या आप जानते हैं कि वह कितने होते हैं? वास्तव में हमारी बड़ी आँत में अलग-अलग प्रजातियों के 700 से भी ज्यादा माइक्रोब्स रहते हैं, जो ऐसे अनेकों उपयोगी पदार्थों का संश्लेषण करते हैं जिनकी शरीर को बहुत जरुरत होती है।

38. नवीनतम अनुमानों के अनुसार हमारी बड़ी आँत में 100 ट्रिलियन यानि 1000 खरब से भी ज्यादा माइक्रोब्स रहते हैं और इनका वजन 200 ग्राम तक हो सकता है।

39. यह बैक्टीरिया विटामिन्स की बड़ी मात्रा भी पैदा करते हैं, विशेषकर विटामिन K और विटामिन B (बायोटिन) की। बड़ी आँत के माध्यम से अवशोषित होकर, यह महत्वपूर्ण विटामिन रक्त में पहुँच जाते हैं।

40. हालाँकि विटामिनों का यह स्रोत रोजमर्रा की जरूरतों का एक छोटा अंश ही प्रदान करता है, लेकिन अगर भोजन से होने वाली विटामिन्स की आपूर्ति कम है, तो यह योगदान भी महत्वपूर्ण सिद्ध होता है।

41. बड़ी आँत वह स्थान है, जहाँ बचे हुए और न पच सकने वाले भोजन को मल में बदला जाता है, जिसे फिर गुदामार्ग से शरीर से बाहर निकाल दिया जाता है।

Large Intestine in Hindi बड़ी आँत से जुडे कुछ हैरतंगेज तथ्य

42. बड़ी आँत किसी इन्सान द्वारा अपने पूरे जीवनकाल में खाये गये लगभग 50 टन भोजन को प्रोसेस करके मल का निर्माण करती है। हालाँकि यह मात्रा इससे कम या ज्यादा भी हो सकती है, क्योंकि सभी इन्सानों की खुराक एक जैसी नहीं होती।

43. आवश्यकता पड़ने पर बड़ी आँत (Large Intestine) एक वेयरहाउस (भंडारगृह) की तरह से भी काम कर सकती है। क्योंकि इसमें इतना स्थान होता है कि 2 से 3 दिन का अपशिष्ट भोजन भी आसानी से समा सकता है।

44. हममे से हर कोई फिर चाहे वह बच्चा हो, बूढा हो, जवान हो, आदमी हो या औरत हो, कभी न कभी गैस जरुर पास करता है। और क्या आप जानते हैं, यह गैस वास्तव में कहाँ पैदा होती हैं? जी हाँ यह स्थान बड़ी आँत ही है।

45. बड़ी आँत मुख्य रूप से रीढ़धारी प्राणियों में ही पायी जाती है। कुछ प्राणी जैसे कि मछली में Large Intestine नहीं होती है। उनमे पाचन तंत्र के अंत में बस एक छोटी सी गुदा जुडी होती है।

46. चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार, बड़ी आँत की माँसपेशियाँ इतनी शक्तिशाली होती हैं कि वह बिना किसी समस्या के ग्रेविटी के विरुद्ध जाकर भी काम कर सकती हैं।

47. इन्सान एक दिन में औसतन 15 बार गैस पास करता है।

“आप बड़ी आँत के बिना भी एक सामान्य जिंदगी जी सकते हैं, पर अगर आपकी उस नार्मल लाइफ में, स्थायी दस्त शामिल रहे तों।

जीवनसूत्र को अपना प्यार बाँटें
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •