Avocado Fruit Benefits in Hindi

 

“एवोकैडो दुनिया के सबसे लोकप्रिय और कीमती फलों में से एक है जो कई देशों में उगाया और खाया जाता है। यह हरे रंग का नाशपाती जैसा और मोटे छिलके वाला फल होता है जिसके अन्दर से नर्म और मुलायम गूदा निकलता है। इसे एक सुपरफूड माना जाता है और कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है।”

 

Avocado Fruit Benefits in Hindi
रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने के लिये अवोकेडो का सेवन करिये

 

एवोकैडो (Avocado) एक प्रसिद्ध फल है जो इसी नाम के एक पेड़ पर लगता है। माना जाता है कि एवोकैडो की उत्पत्ति 8 हजार से 15 हजार साल पहले, अमेरिका महाद्वीप के अंतर्गत आने वाले पेरू और मैक्सिको देशों में हुई थी। इसका वानस्पतिक नाम पर्सिया अमेरिकाना (Persea americana) है। एवोकैडो, भले ही उत्तरी अमेरिका के मैक्सिको देश में पैदा हुआ था, लेकिन आज पूरी दुनिया में उष्णकटिबंधीय और भूमध्यसागरीय जलवायु में इसकी खेती की जाती है। Avocado Fruit Benefits in Hindi में आज हम इसी फल की चर्चा करेंगे।

What is Avocado in Hindi आखिर क्या है एवोकैडो

Avocado in Hindi: एवोकैडो को रुचिरा कहते हैं। इसका एक नाम बटरफ्रूट (Butter Fruit) यानि मक्खनफल भी है, क्योंकि इसका गूदा, अन्दर से मक्खन की तरह मुलायम और कुछ-कुछ वैसे ही स्वाद वाला होता है। इसके अलावा इसे एलीगेटर पेअर (Alligator Pear) यानि मगरमच्छ जैसी नाशपाती के नाम से भी जाना जाता है। वैसे वानस्पतिक रूप से एवोकैडो को एक बड़ी बेरी ही माना जाता है जिसके अन्दर एक बड़ा बीज होता है।

एवोकैडो का पेड़ काफी लम्बा होता है, क्योंकि यह बहुत ऊँचाई तक बढ़ सकता है। दूसरे शब्दों में कहा जाय तो एवोकैडो खाने योग्य फलों के दुनिया के सबसे ऊँचे पेड़ों में से एक है। इसका पेड़ आम तौर पर 12 से 16 मीटर का होता है, लेकिन यह 20 मीटर (66 फीट) तक की ऊंचाई तक बढ़ सकता हैं।

एवोकैडो की पत्तियाँ (Avocado Leaves) भी लम्बी होती हैं और इसका फूल हरे-पीले रंग का होता है। एवोकैडो के नाशपाती जैसे फल, लगभग 7 से 20 सेमी लम्बे होते हैं और इनका वजन 100 ग्राम से लेकर 1 किग्रा तक हो सकता है।

Avocado Fruit in Hindi एवोकैडो की सामान्य जानकारी

एवोकैडो व्यावसायिक रूप से मूल्यवान फल है और इसकी गिनती दुनिया के चुनिंदा लोकप्रिय फलों में होती है। इसके कई आकार देखने में आते हैं। यह नाशपाती जैसा, अंडे के आकार में या फिर गोलाकार भी हो सकता है। एवोकैडो का कच्चा फल गहरे हरे रंग का, जबकि पका फल हरे के साथ हल्के भूरे रंग की आभा लिये होता है। एवोकैडो की चमड़ी (फल की बाहरी परत) काफी कठोर होती है।

बहुत मोटी त्वचा होने के कारण ही एवोकैडो, ज्यादातर पेस्टीसाइट्स या कीटनाशकों के दुष्प्रभाव से बच जाता है, इसीलिये इसे सबसे ज्यादा सुरक्षित फलों में से एक माना जाता है। यही कारण है कि आपको ऑर्गेनिक एवोकैडो खरीदने की कोई जरुरत नहीं होती। दुनियाभर में एवोकैडो की कई किस्में उगायी और खायी जाती हैं जिनमे ग्वेन, लूला, मलूमा, रीड, पिंकर्टन, मुनरो, शर्विल, बेकन और हास मुख्य हैं।

लेकिन इन सभी में सबसे लोकप्रिय और प्रसिद्ध है, हास एवोकैडो। चूँकि इस किस्म के एवोकैडो में पोषक तत्व काफी ज्यादा मात्रा में होते हैं, कीटों का प्रकोप भी कम होता है और उपज भी काफी अच्छी मिलती है, इसीलिये दुनिया के ज्यादातर देशों में इस किस्म की ही खेती (80 प्रतिशत तक) की जाती है। एवोकैडो के पेड़ों की खेती, ग्राफ्टिंग यानि कलम लगाकर की जाती है और इसके फलों को प्रायः कच्चा ही तोडा जाता है।

एवोकैडो भी, केले की तरह, कच्चे ही तोड़े जाते है और बाद में पकाये जाते हैं। आज इनकी खेती, संयुक्त राज्य अमेरिका, इंडोनेशिया, डोमिनिक गणराज्य, पेरू, इंडोनेशिया, कोलंबिया और कैरेबियाई देशों में की जाती है। लेकिन इसका सबसे बड़ा उत्पादक देश है, मैक्सिको जो हर साल एक करोड़ टन से भी अधिक एवोकैडो पैदा करता है। सन 2017 में मेक्सिको ने अकेले ही पूरे संसार के लगभग 34% एवोकैडो का उत्पादन किया था।

Nutritional Facts about Avocado Fruit in Hindi

यह हैं एवोकैडो में उपस्थित पोषक तत्व

एवोकैडो गर्म जलवायु में उत्पन्न होने वाला कठोर फल है जिसमे दूसरे फलों की अपेक्षा एक अनोखी विशेषता है। अन्य फलों में जहाँ कार्बोहाइड्रेट का स्तर अधिक होता है, वहीँ अवोकेडो में वसा का स्तर अधिक होता है। लेकिन यह वसा शरीर के लिये लाभदायक होती है। एवोकैडो पोषक तत्वों से भरपूर फल है जिसमे अनेकों विटामिनों और खनिजों की प्रचुर मात्रा होती है। यह दिल, आँखों और हड्डियों के लिये विशेष रूप से लाभकारी है।

एवोकैडो (Avocado in Hindi) में शुगर की मात्रा कम होती है, जबकि खाने योग्य फाइबर और असंतृप्त वसा (मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड) ज्यादा होती है। एवोकैडो अनेक कार्बनिक यौगिक जैसे कि फायटोस्टेरोल्स (Phytosterols), कैरोटीनोईडस (Carotenoids) और फ्लेवेनोईडस (Flavonoids) से युक्त होता है जो इसके गुणों को और बढ़ा देते हैं। 100 ग्राम एवोकैडो में पाये जाने वाले विटामिन्स और मिनरल्स का संघटन इस प्रकार हैं –

Amazing Health Benefits of Avocado in Hindi

एवोकैडो (Avocado in Hindi) एक शानदार फल है। अपने स्वास्थ्यप्रद गुणों के कारण ही यह लोगों की जुबान पर चढ़ा हुआ है। शरीर को रोगों से बचाने और उसे लम्बे समय तक स्वस्थ रखने में, इसके पोषक तत्वों की अहम् भूमिका है। यही कारण है कि ज्यादातर बीमारियों की रोकथाम में इसका सेवन किया जाता है। नीचे हम एवोकैडो के विस्तृत लाभों की जानकारी दे रहें हैं, ताकि आप भी इस फल से पर्याप्त लाभ उठा सकें।

1. विटामिन और मिनरल्स का शानदार स्रोत है एवोकैडो

Avocado is A Great Source of Vitamins and Minerals in Hindi: एवोकैडो विभिन्न पोषक तत्वों, विटामिन्स और खनिजों से समृद्ध फल है। इसमें लगभग 20 ऐसे विटामिन्स और मिनरल्स पाये जाते हैं, जिनकी शरीर को बड़ी आवश्यकता रहती है। इसके अतिरिक्त यह मोनोअनसेचुरेटेड फैटी एसिड और ऊर्जा का भी अच्छा स्रोत हैं। एवोकैडो अकेला ऐसा ताजा फल है जिसमे ताज़ी अवस्था में ही सुपाच्य वसा की उच्च मात्रा पायी जाती है। इसका यही गुण इसे दूसरे फलों से अलग करता है।

एवोकैडो में अनेकों पोषक तत्वों की प्रचुर मात्रा पायी जाती है, जिनमे कैल्शियम, लोहा, मैग्नीशियम, पोटेशियम, तांबा, मैंगनीज, और फॉस्फोरस जैसे Minerals और विटामिन सी, ई, के और बी-6 जैसे विटामिन शामिल हैं। इसके अलावा एवोकैडो में शुगर भी बहुत कम मात्रा में होता है जो इसकी खूबियों को और ज्यादा बढ़ा देता है। जानकारी के लिये बता दें कि विटामिन A, E और K वसा में घुलनशील विटामिन्स होते हैं।

और यह अनिवार्य खनिजों जैसे कि मैग्नीशियम और जिंक के साथ मिलकर महत्वपूर्ण चयापचय अभिक्रियाओं को अंजाम देते हैं, जबकि विटामिन B और C जल में घुलनशील विटामिन होते हैं। यह दोनों विटामिन आपके शरीर में ज्यादा समय के लिये स्टोर नहीं होते हैं और आपको इन्हें रोज लेना पड़ता है। इसलिये अगर आप रोजाना एक एवोकैडो खाते हैं, तो यह फल चिकित्सकों को आपसे दूर ही रखेगा।

2. आपके दिल के लिये बहुत अच्छा फल है एवोकैडो

Avocado is Good for Your Heart in Hindi: एवोकैडो ह्रदय के लिये एक बलकारक फल माना जाता है, इसीलिये यह हृदय को स्वस्थ रखने में भी काफी उपयोगी है। एवोकैडो में बीटा-सिटोस्टीरॉल पाया जाता है जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करके हृदय को रोगों से दूर रखता है। कुछ शोध में पाया गया है कि नियमित रूप से एवोकैडो खाने से HDL कोलेस्ट्रॉल (अच्छा कोलेस्ट्रॉल) के एंटीएथेरोजेनिक गुण बढ़ते हैं, जो हृदय को एथेरोस्क्लेरोसिस से दूर रखने में मदद करते है।

एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, एवोकैडो LDL कोलेस्ट्रॉल (खराब कोलेस्ट्रॉल) के स्तर को कम करता है और दिल की बीमारी होने के खतरे से बचाव कर सकता है। इसके अलावा एवोकैडो में मौजूद, पोटैशियम हाइपरटेंशन (उच्च तनाव) से लड़ता है और रक्त वाहिनियों और धमनियों के तनाव को कम करता है। इससे हॉर्ट अटैक और स्ट्रोक होने का खतरा कम होता है।

साथ ही एवोकैडो में मौजूद मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड, फोलिक एसिड और विटामिन B6 भी इसे एक खास डाइट बनाते हैं जो आपके दिल को लम्बे समय तक बीमारियों से दूर रखने में मदद करते हैं। इसीलिये अगर आप भी अपने दिल को लम्बे समय तक शक्तिशाली और स्वस्थ रहते हुए काम करते देखना चाहते हैं, तो आज से ही एवोकैडो का सेवन शुरू कर दें।

3. गुर्दों के स्वास्थ्य में भी मददगार है एवोकैडो

Avocado is Beneficial in Kidney Health in Hindi: एवोकैडो आपकी किडनी के लिये भी बहुत ही फायदेमंद फल है, क्योंकि इसमें पोटैशियम काफी ज्यादा मात्रा में होता है। पर क्या आप जानते हैं कि एक एवोकैडो से ही आपको इतना पोटैशियम मिल जाता है जितना कि दो केलों को खाने से मिलता। क्रोनिक या बार-बार किडनी विकारों से पीड़ित लोगों में खनिजों और द्रवों के संतुलन को बनाये रखने में आहार बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

क्योंकि आहार में पाया जाने वाला पोटैशियम, सामान्य हृदय गति को बनाये रखने में मदद करता है। एक रिपोर्ट के अनुसार क्रोनिक किडनी रोग, उच्च रक्तचाप, हृदय रोग और स्ट्रोक से सीधे जुड़ा होता है और पोटैशियम रक्तचाप को कम करने का काम कर सकता है। पोटैशियम रासायनिक चैनलों के माध्यम से कोशिकाओं और अंगों में द्रवों का संतुलन बनाये रखता है।

और तरल पदार्थों का यह संतुलन गुर्दे के कामकाज के लिये भी उतना ही जरुरी है, क्योंकि यह शरीर में तरल पदार्थ और विषाक्त पदार्थों की गति को संभालता है। लेकिन यह सुनिश्चित करना भी जरुरी है कि पोटैशियम का स्तर बहुत ज्यादा न हो, क्योंकि यह हृदय के लिए खतरनाक भी हो सकता है।

4. आपके दाँतों के लिये भी अच्छा है एवोकैडो

Avocado Protects Your Teeth in Hindi: क्या आप जानते हैं कि एवोकैडो आपके दाँतों को भी लम्बे समय तक स्वस्थ और मजबूत बनाये रखने में सक्षम है। जी हाँ, यह सच है क्योंकि “जर्नल ऑफ पेरिओडोन्टोलोजी” के दिसंबर 2001 के अंक में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, एवोकैडो का तेल (Avocado’s Oil), मसूड़ों में सूजन को कम करके पेरिओडोंटल रोग को होने से रोक सकता है।

पेरिओडोंटाइटिस, मसूड़ों के संक्रमण से जुड़ा वह रोग है जो जबड़े की हड्डियों और दांतों के टूटने का कारण बनता है। शोधकर्ताओं के अनुसार, एवोकैडो में मौजूद सूजन को कम करने वाले (एंटी-इंफ्लेमेटरी ) गुण, पेरिओडोंटल रोग से जुड़े हड्डी के कटाव को रोकने में मददगार सिद्ध होते हैं।

इसके अलावा एवोकैडो में लाभदायक फैटी एसिडस, फाइबर, और विटामिन-D भी होता है, जो मसूड़े की सूजन से निजात दिलाने का काम कर सकता है। तो अगर आप भी अपने दांतों को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आज से ही एवोकैडो का सेवन शुरू कर दें।

5. वजन को नियंत्रित रखने में कारगर है एवोकैडो

Avocado Aids in Weight Management in Hindi: एवोकैडो में फैटी एसिडस की उच्च मात्रा पायी जाती है, लेकिन इसमें कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत कम होता है। बहुत सारे लोग, हाई कैलोरी के कारण एवोकैडो को खाना छोड़ देते हैं, क्योंकि वह सोचते हैं कि इसे खाने से उनका वजन बढ़ सकता है। लेकिन आपको बता दें कि वास्तव में एवोकैडो में कैलोरी की मात्रा, माँस, मक्खन और ऐसी ही दूसरी उच्च कैलोरी वाले आहारों की तुलना में बहुत कम होती है।

पहली बात तो सिर्फ एवोकैडो का सेवन करने से मोटापा नहीं आता, लेकिन अगर एवोकैडो का सेवन करने के बाद थोड़ा-बहुत मोटापा आ जाता है, तो वह अक्सर वसा के दूसरे स्रोतों के कारण ही पैदा होता है। एवोकैडो से आपको वज़न कम करने में मदद इसलिये भी मिलती है, क्योंकि इसे खाने के बाद भोजन कम खाने की इच्छा होती है।

वजन को नियंत्रित करने के पीछे एवोकैडो में मौजूद, मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड और फाइबर तत्व जिम्मेदार होते हैं। जो लोग एवोकैडो का सेवन करते हैं, उनका वजन और बीएमआई नियंत्रित रहता है। यह फल  मेटाबॉलिक सिंड्रोम के जोखिम को भी कम करता है।

6. आपके जिगर की देखभाल करता है एवोकैडो

Avocado Cares for Your Liver in Hindi: हमारा Liver शरीर के पाँच वाइटल ओर्गंस में से एक है और शरीर शक्तिशाली और स्वस्थ रहे, इसके लिये यकृत का सही रहना बहुत जरुरी है। एवोकैडो में ऐसे कार्बनिक यौगिक पाये जाते हैं जो यकृत का स्वास्थ्य सुधारने और उसे मजबूत बनाये रखने में बड़ी सहायता करते हैं।

यकृत को क्षति पहुँचने का सबसे बड़ा कारण है, हेपेटाइटिस-सी। एक हालिया शोध अध्ययन में पता चला है कि एवोकैडो आपके यकृत को ऐसी कई प्रकार की परिस्थितियों से बचाता है जो इसके लिये घातक हो सकती हैं। तो अगर आप भी अपने जिगर को जोखिम से बचाकर रखना चाहते हैं, तो एवोकैडो को हर रोज अपनी डाइट में शामिल करें।

7. ब्लड प्रेशर को नार्मल रखता है एवोकैडो

Avocado Normalize Your Blood Presure in Hindi: अप्रैल 2005 में ‘जर्नल ऑफ एथनोफर्माकोलोगी’ में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार, एवोकैडो, रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा संयुक्त राज्य अमेरिका की केंटुकी यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध के अनुसार, एवोकैडो में फाइबर की अधिक मात्रा, ब्लड प्रेशर को कम करने के साथ-साथ, कोलेस्ट्रोल का स्तर भी सुधारती है, इन्सुलिन की संवेदनशीलता बढाती है और मोटे लोगों में वेट लोस को बढाती है।

प्रयोगशाला में जानवरों पर हुए एक अध्ययन के अनुसार, एवोकैडो से भरपूर आहार, किडनी में आवश्यक फैटी एसिड के स्तर में परिवर्तन करते हैं। जिसके परिणामस्वरूप गुर्दे, रक्तचाप को नियंत्रित करने वाले हार्मोन को उत्पन्न करके अपनी प्रतिक्रिया देते हैं। इसके साथ-साथ एवोकैडो, दिल की फैटी एसिड संरचना को भी प्रभावित करता है। तो अगर आप भी अपना ब्लड प्रेशर सही रखना चाहते हैं, आज से ही अपने आहार में एवोकैडो का इस्तेमाल करना शुरु कर दें।

Incredible Benefits of The Avocado Fruit in Hindi

8. ओरल हेल्थ प्रोब्लम्स का सोल्यूशन है एवोकैडो

Avocado is A Great Oral Health Solution in Hindi: एवोकैडो मुँह के स्वास्थ्य के लिए भी एक अच्छा फल है। अगर आप अपनी सांसों की बदबू को दूर भगाना चाहते हैं, तो रोज एक एवोकैडो खाइये। खराब सांस का मुख्य कारण है अपच, कब्ज और पेट की परेशानी। अगर आपका पाचन तंत्र लगातार खराब रहता है, तो कुछ ही समय बाद आपके मुँह से दुर्गन्ध आने की समस्या पैदा हो जाती है।

चूँकि एवोकैडो में उपस्थित मोनोअनसेचुरेटेड फैटी एसिड्स, सुपाच्य फाइबर, विटामिन D, और B जैसे महत्वपूर्ण तत्व भोजन के सही पाचन में सहायता करते हैं, इसीलिये इसे खाने से सांसों की बदबू दूर करने में मदद मिलती है। इसके अलावा एवोकैडो में पाये जाने वाले फ्लॉवोनोइड्स जैसे एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंटस तत्व, आपके मुख में उपस्थित दुर्गन्ध पैदा करने वाले बैक्टीरिया को मार डालते हैं।

इसी कारण से एवोकैडो का तेल, ज्यादातर माउथवॉश में मुख्य घटक के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। हेल्थ जर्नल ”रिव्‍यू डी स्टोमाटोलॉगिये एट डी चिरुर्गी मक्सिल्लो-फैसिले” के जून 2010 अंक में प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार, कुछ पौधों में ऐसे तत्व होते हैं जो प्राकृतिक एंटीसेप्टिक का काम करते हैं। एवोकैडो भी इनमे से एक है। यही कारण है कि इसका इस्तेमाल, खराब साँस के लिये जिम्मेदार बैक्‍टीरिया को मारने में होता है।

9. कब्ज के उपचार में कारगर है एवोकैडो

Avocado Aids in Digestion in Hindi: चूँकि Avocado में रेशे की उच्च मात्रा पायी जाती है, इसीलिये यह पाचन संस्थान को स्वस्थ रखने में विशेष रूप से मददगार है। इसमें घुलनशील और अघुलनशील दोनों तरह के फाइबर होते हैं जो गैस्ट्रोइंटेसटाईनअल ट्रैक्ट को सही प्रकार से काम करने में सहायता करते हैं। शरीर विज्ञान से परिचित हर विद्यार्थी जानता है कि फाइबर, पाचन संस्थान के लिए कितना जरुरी होता है।

यह न सिर्फ मल को बढ़ाते हैं, बल्कि आँतों की दीवारों पर न चिपकते हुए कब्ज को रोकने में भी मदद करते हैं। इसके अलावा यह आमाशय और आँतों में पाचक अम्लों के स्राव की प्रक्रिया को भी उत्तेजित करते हैं, ताकि पोषक तत्व अच्छे तरीके से अवशोषित हो सकें। इसके अलावा, इसमें उपस्थित पोटैशियम की उच्च मात्रा भी पाचन क्रिया को बढ़ावा देती है।

चूँकि एवोकैडो में फ्रुक्टोज कम होता है, इसीलिये इसके सेवन से पेट में गैस बनने की आशंका भी कम रहती है। सुपाच्य और लाभदायक वसा की उपस्थिति के कारण, एवोकैडो एक मृदु विरेचक के रूप में काम करते हुए मल को सरलता से बाहर निकालने में मदद करता है। इसलिये जिन लोगों को शौच खुलकर न आता हो, वह इसका सेवन करके देखें।

10. आपकी हड्डियों को मजबूत बनाता है एवोकैडो

Avocado Makes Your Bones Strong in Hindi: एवोकैडो आपकी हड्डियों को मजबूत बनाता है और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी गंभीर बीमारी को लंबे समय तक दूर रखने में मदद करता है। एवोकैडो में बोरॉन नामक खनिज पाया जाता है, जो कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाकर हड्डियों को लाभ पहुंचाता है। एवोकैडो में पाया जाने वाला विटामिन-K भी, हड्डीयों के स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

यह पोषक तत्व हड्डियों को ऑस्टियोप्रोटेक्टिव लाभ पहुंचाने का काम करता है । एवोकैडो में ल्यूटिन और ज़ेक्सानथिन जैसे कैरोटिनॉयडस पाये जाते हैं जो कार्टिलेज की क्षति (ऑस्टियोआर्थराइटिस) के खतरे को कम करते हैं। एवोकैडो और सोयाबीन जैसे खाद्य पदार्थ इस बीमारी के खतरे को काफी कम कर सकते हैं। इसके अलावा इसमें पाये जाने वाले जिंक, फास्फोरस, कॉपर और कैल्शियम जैसे मिनरल्स भी हड्डियों के घनत्व को बढ़ाते हैं।

11. शानदार एंटीऑक्सीडेंट्स का प्रचुर स्रोत है एवोकैडो

Avocado has Powerful Antioxidant Properties in Hindi: एवोकैडो शानदार एंटीऑक्सीडेंट्स का प्रचुर स्रोत है। इसमें पायी जाने वाली एंटीऑक्सीडेंटस की उच्च मात्रा, शरीर को हानि पहुँचाने वाली पराबैंगनी किरणों से बचाव करती हैं और उन फ्री रेडिकल्स से भी सुरक्षा प्रदान करती है जो शरीर को तरह-तरह की बीमारियों का शिकार बना देते हैं। एवोकैडो में एपिक्टेचिन, वाइलाजैन्थिन, नियोक्रोम और दूसरे एक दर्जन से भी ज्यादा तरह के एंटीऑक्सीडेंट्स पाये जाते हैं।

एंटीऑक्सीडेंट और बीटा-सीटोस्टेरोल, ग्लुटाथियोन और ल्यूटिन, जैसे फायटोकेमिकल्स मिलकर, ऑक्सीडेटिव डैमेज पैदा करने वाले उन फ्री रेडिकल्स को दूर रखते हैं जो कोशिकाओं की चयापचय प्रक्रिया (Cellular Metabolism) का बायप्रोडक्ट होते हैं और जिनमे डीएनए को भी बदलने की ताकत होती है। यह तत्व आगे चलकर कोशिकाओं में म्यूटेशन भी पैदा कर सकते हैं।

12. बुढ़ापे की रफ़्तार को मंदा करता है एवोकैडो

Avocado Delays Ageing Process in Hindi: एवोकैडो में बीटा कैरोटिन और लाइकोपिन जैसे दो ऑर्गेनिक यौगिक बहुत अधिक मात्रा में पाये जाते हैं, जो सेहत को ठीक रखने के साथ ही स्किन को टोन करते हैं और बढ़ती उम्र के असर को रोकते हैं। इसके अलावा इसमें पाये जाने वाले जैन्थोफिल में भी एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। एक शोध में पाया गया है कि जैन्थोफिल की उचित मात्रा लेने से, शरीर के कई अंगों पर असमय ही दिखने वाले बुढ़ापे के लक्षणों को रोकने में मदद मिलती है।

इसके अलावा एवोकैडो, कई प्रकार के दीर्घकालीन रोगों (क्रोनिक डिजीज) से भी सुरक्षा प्रदान करता है। यह आँतों के कार्यों को सरल बनाता है और भोजन आसानी से पच जाता है। एवोकैडो, गैस्ट्रिक और डाइजेस्टिव जूस की अभिक्रिया को तेज करता हैं जिससे शरीर पोषक तत्वों को आसानी से अवशोषित कर लेता है। इससे व्यक्ति को डायरिया और कब्ज की शिकायत नहीं होती और स्वास्थ्य ठीक बना रहता है।

13. एथलीट के लिये भी फायदेमंद है एवोकैडो का फल

Avocado is Beneficial for Athletes in Hindi: एवोकैडो जिम में वर्क आउट करने वाले लोगों, खिलाडियों और एथलीट के लिये भी बहुत ही फायदेमंद है। क्योंकि यह उनके शरीर को भरपूर उर्जा तो देता ही है, साथ ही इसमें उपस्थित पोषक तत्व, उनकी माँसपेशियों को पुष्ट करते हुए, उनकी मस्कुलर एबिलिटी को भी बढ़ाते हैं।

शारीरिक परिश्रम करने वाले लोगों को, सामान्य व्यक्ति की तुलना में 3 से 4 गुणा ज्यादा पोषण की आवश्यकता होती है और एवोकैडो का सेवन करने से, यह उन्हें शरीर पर कोई विपरीत प्रभाव डाले बिना आसानी से हासिल हो जाता है। एवोकैडो में फाइटोस्टोरोल (Phytosterols) पाया जाता है, जो फिजिकल एक्सरसाइज करने वालों के लिये कई कारणों से फायदेमंद होता हैं।

25 Surprising Benefits of The Avocado in Hindi

14. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाता है एवोकैडो

Avocado has Antibacterial and Antifungal Properties in Hindi: एवोकैडो में ऐसे तत्व होते हैं जो जीवाणुओं के विरुद्ध क्रियाशीलता (Antimicrobial Activity) प्रदर्शित करते हैं। विशेषकर ई. कोलाई (Escherichia coli) के विरुद्ध, जो फूड पाइजनिंग (Food Poisoning) की बीमारी का मुख्य कारण है। एवोकैडो एक प्राकृतिक विषहर (Natural Detoxifier) है जो मल-मूत्र के माध्यम से शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालने में सहायता करता है।

हालिया शोध में पाया गया है कि इसमें पाया जाने वाला, खाने योग्य फाइबर, इम्यून सिस्टम और सूजन को नियंत्रित करने में प्रभावी भूमिका निभाता है। वहीँ इसमें उपस्थित पोलीफिनोल्स और फ्लेवेनोईडस जैसे फायटोन्यूट्रीएंटस सूजन कम करने वाले यौगिक (Anti-inflammatory Compounds) के रूप में शरीर के अंगों का क्षरण करने वाली और सूजन पैदा करने वाली बीमारियों के होने की संभावना को कम करते हैं।

जिनसे मुख्य रूप से दिल, दिमाग, आन्तरिक अंग, त्वचा और अस्थिबंधक उतक प्रभावित होते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, डायरिया की स्थिति में भी एवोकैडो का सेवन किया जा सकता है, क्योंकि इसमें मौजूद पोटैशियम खोये इलेक्ट्रोलाइट्स की पूर्ति करने का काम करते है। एवोकैडो, Immunity Booster Fruit होने के चलते, अल्सर को दूर रखने में भी अहम् भूमिका निभाता है।

15. पोषक तत्वों के अवशोषण की क्षमता बढाता है एवोकैडो

Avocado Enhances Capability of Nutrients Absorption in Hindi: एवोकैडो का सेवन, तब सबसे ज्यादा लाभदायक होता है, जब इसे दूसरे फलों और सब्जियों के साथ खाया जाता है। ऐसा इसलिये, क्योंकि सब्जियों और फलों में उपस्थित पोषक तत्वों का अवशोषण, एवोकैडो के साथ बढ़ जाता है। जर्नल ऑफ नुट्रिशन के मार्च 2005 के अंक में प्रकाशित, एक अध्ययन के अनुसार, जब किसी सलाद को एवोकैडो के साथ खाया जाता है, तो कैरोटेनॉइड्स एंटीऑक्सीडेंटस अणुओं का अवशोषण 3 से 5 गुणा ज्यादा बढ़ जाता है।

इसके अलावा वसा में घुलनशील कैरोटेनॉइड्स आहार, वसा पर निर्भर करते हैं और केरोटेनॉइड्स से भरपूर ज्यादातर खाद्य पदार्थों में वसा बहुत कम होती है। लेकिन एवोकैडो में करोटेनॉइड्स के साथ-साथ असंतृप्त वसा अम्ल भी उच्च मात्रा में उपस्थित होते हैं।

एक अन्य अध्ययन में पाया गया है कि एवोकैडो के तेल से मिश्रित सलाद, बिना एवोकैडो की सलाद की तुलना में, अल्फा कैरोटीन, बीटा कैरोटीन और ल्यूटिन के अवशोषण को लगभग 15 प्रतिशत तक बढ़ा देती है। इसीलिये, अगर आप अपने भोजन में एवोकैडो की कुछ स्लाइस और जोड़ लेते हैं, तो आपका भोजन पहले से भी कहीं ज्यादा बेहतर और गुणकारी हो जायेगा।

16. मानसिक स्वास्थ्य को सबल करता है एवोकैडो

Avocado Boosts Your Mental Health in Hindi: एवोकैडो का फल, बीज और तेल, सभी तनाव कम करने में असरदायक माने जाते हैं। एक हालिया शोध में पाया गया है कि जिन खाद्य पदार्थों में फोलेट की उच्च मात्रा उपस्थित होती है, वह डिप्रेशन का खतरा कम करते हैं। क्योंकि फोलेट होमोसिस्टिन को बनने से रोकता है जो मस्तिष्क की गतिविधियों में व्यवधान उत्पन्न करता है।

होमोसिस्टिन की ज्यादा मात्रा सेरेटोनिन, डोपामाइन और नोरेपिनफ़्राइन जैसे हार्मोन्स के उत्पादन में भी गड़बड़ी पैदा करती है जो इन्सान की नींद, मूड और भूख को नियंत्रित करते हैं। एवोकैडो में उपस्थित मोनोअनसैचुरेटेड फैट, मस्तिष्क के विकास को बढ़ावा देता है। साथ ही इसमें मौजूद विटामिन-E भी मस्तिष्क की कार्य क्षमता को बढ़ाने का काम करता है।

एक अन्य अध्ययन के अनुसार, विटामिन-E बढती उम्र के खतरनाक अल्जाइमर रोग के खिलाफ भी सुरक्षा प्रदान कर सकता है। इसलिये अगर आप भी डिप्रेशन, तनाव, अवसाद और स्मृति नाश जैसे रोगों से बचना चाहते हैं, तो आज से ही कुदरत की इस दुर्लभ नेमत एवोकैडो का सेवन करना शुरू कर दें।

17. निर्बल शरीर की कमजोरी दूर करता है एवोकैडो

Avocado Makes Your Body Strong in Hindi: निर्बल शरीर वाले लोगों के लिये एवोकैडो एक वरदान है, क्योंकि उनका शरीर सामान्य वसायुक्त भोजन को, उसमे उपस्थित संतृप्त वसा की उच्च मात्रा के कारण, ठीक प्रकार से पचा नहीं पाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि एवोकैडो और एवोकैडो का तेल, दुनिया में मोनोसेचुरेटेड फैट (MUFA) के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक है।

जहाँ सेचुरेटेड फैट यानि खराब वसा आपके शरीर के अंगों के लिये खराब होती है, वहीँ मोनोसेचुरेटेड फैट आपके मस्तिष्क और दिल के लिये बहुत अच्छी होती है। क्योंकि यह दिल के रोगों, कैंसर और दूसरी कई बीमारियों से आपकी सुरक्षा करती है। एवोकैडो की 75 प्रतिशत उर्जा इसकी वसा से मिलती है और इस वसा का भी 67 प्रतिशत भाग होती है मोनोसेचुरेटेड फैट।

जो इसमें ओलियक एसिड के रूप में उपस्थित रहती है। इसके अलावा एवोकैडो में पायी जाने वाली अन्य प्रधान वसाएँ हैं – पलमिटिक एसिड और लिनोलिक एसिड। जबकि एवोकैडो की संतृप्त वसा, कुल वसा का सिर्फ 14 प्रतिशत हिस्सा ही होती है। इसीलिये एवोकैडो का तेल, भले ही थोडा महंगा आता हो, लेकिन अपने अद्भुत गुणों के कारण यह भोजन और सौन्दर्य प्रसाधनों में बहुत इस्तेमाल किया जाता है।

18. आँखों की रौशनी को बढाता है एवोकैडो

Avocado Improves Your Vision in Hindi: एवोकैडो आपकी आँखों को स्वस्थ रखने में भी मदद करता हैं। क्योंकि इसमें पाये जाने वाले ल्यूटिन और जैनथिन जैसे कैरोटीनॉइड, मोतियाबिंद, और मैकुलर डिजनरेशन (धब्बेदार अध:पतन) जैसे रोगों के खिलाफ आँखों की सुरक्षा करते हैं।

यह बीमारियाँ फ्री रेडिकल्स के दुष्प्रभावों के कारण होती हैं। एवोकैडो में पाये जाने वाले विशेष कैरोटीनोइड की एंटीऑक्सीडेंट गतिविधियाँ, इन खतरनाक मुक्त कणों के प्रभाव को बेअसर करती हैं जिससे आँखों की रौशनी लम्बे समय तक बरकरार रहती है।

19. बालों को लंबा, घना और चमकदार बनाता है एवोकैडो

Avocado helps in Development of Shiny Hair in Hindi: अगर आप अपने बालों के रूखेपन से छुटकारा पाना चाहते हैं और डैमेज बालों को सही करना चाहते हैं, तो एवोकैडो इसमें भी आपकी मदद करता है। इसके लिये एवोकैडो के मास्क को दही, और जैतून के तेल के साथ, अच्छी तरह मिक्स करके, अपने बालों में लगायें। फिर 10 मिनट तक बालों की हल्की मसाज करें और 20 मिनट बाद हल्के गर्म पानी से बालों को धो लें।

इससे आपके बाल सिल्की और चमकदार हो जायेंगे। एवोकैडो में मौजूद विटामिन-ई न सिर्फ बालों को मजबूत करता है, बल्कि बालों के विकास को भी बढ़ावा देता है। विटामिन-E एक खास पोषक तत्व है, जो स्कैल्प को स्वस्थ रखने और बालों के विकास में मदद करता है। तो आगे से जब कभी आप एवोकैडो खायें, तो इस बात का भी जरुर ध्यान रखें।

Wonderful Benefits of Avocado in Hindi with Images

20. कई स्किन प्रोब्लम्स को दूर करता है एवोकैडो

Avocado can Help in Many Skin Problems in Hindi: एवोकैडो पोषक तत्वों से परिपूर्ण फल है जो आपकी त्वचा के लिए भी बहुत ही लाभदायक हैं। यह उन विटामिन, मिनरल्स और सरल वसा से भरपूर है जो त्वचा को गजब का पोषण देकर उसे चमकदार बनाये रखते हैं। एवोकैडो का तेल, स्किन के लिये बहुत ही अच्छा माना जाता है, क्योंकि इससे बने तेल को स्किन आसानी से सोख लेती है।

इस तेल से स्किन की मसाज करने से त्वचा का रूखापन दूर होता है और स्किन की रंगत में निखार आता है। इसी कारण से इसके तेल का इस्तेमाल बहुत सारे कॉस्मेटिक प्रोडक्टस में भी किया जाता है। इतना ही नहीं एवोकैडो, स्किन की डेड सेल्स को ख़त्म करके, नयी कोशिकाओं को बनने में मदद करता है और रक्त संचार को सही बनाये रखता है।

चूँकि एवोकैडो के जूस में पाये जाने वाले विटामिन A और E, त्वचा को नया जीवन प्रदान करते हैं, इसीलिये इसका इस्तेमाल, नेचुरल सनस्क्रीन के रूप में भी किया जा सकता है। एवोकैडो में सूरज की हानिकारक किरणों से बचाने वाले तत्व उपस्थित हैं। यह त्वचा की झुर्रियों को ठीक करता है और तेज धूप से झुलसे हुए हिस्सों को उनकी खोयी रंगत लौटाता है।

शरीर में कोलाजेन की अहम् भूमिका है। जब त्वचा में कोलाजेन कम बनता है, तो शरीर अपना कसाव खोने लगता है। लेकिन एवोकैडो का तेल, कोलेजन बनने में सहायक होता है, क्योंकि इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में पाया जाता है। यह तेल शरीर के अंदर तक जाकर, प्रभावी तरीके से त्वचा में कसाव लाता है।

21. कैंसररोधी गुणों से भरपूर शानदार फल है एवोकैडो

Avocado has Anti-cancer Properties in Hindi: यदि नियमित रूप से Avocado का सेवन किया जाय, तो यह कैंसर जैसे खतरनाक रोग से बचा सकता है। यह आँतों के कैंसर के साथ-साथ स्तन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को भी कम करता है। एवोकैडो में कैरोटीनॉड्स और मोनोअनसैचुरेटेड वसा उपस्थित होती है और यह दोनों कैंसर की संभावना को घटाने में महत्वपूर्ण योगदान देते हैं।

एवोकैडो में पाया जाने वाला ग्लूटाथियोन एंटीऑक्सिडेंट, कैंसर कोशिकाओं और मुक्त कणों के खतरनाक प्रभावों से सुरक्षा करता है। एक अध्ययन के अनुसार एवोकैडो, पेट के कैंसर होने की संभावना को 30 प्रतिशत तक कम कर देता है। इसमें एवोकैटिन-बी नामक तत्व पाया जाता है, जो ल्यूकेमिया स्टेम कोशिकाओं से लड़ने का काम कर सकता है।

ल्यूकेमिया स्टेम सेल्स आगे चलकर, ब्लड कैंसर का कारण बन सकती हैं। एवोकैडो में उपस्थित फोलेट, कैंसर विभाजन (Cell Division) के दौरान DNA और RNA में होने वाले अवांछित म्यूटेशन को रोकता है। एक अन्य अध्ययन के अनुसार, एवोकैडो प्रोस्टेट कैंसर की कोशिकाओं के विकास को भी रोकता है और यह आँतों के कैंसर, पेट का कैंसर, सर्वाइकल कैंसर और पैंक्रियास के कैंसर की रोकथाम में बहुत प्रभावी है।

कुछ शोध के अनुसार एवोकैडो से निकाले गये फाइटोकेमिकल्स, कैंसर से पूर्व की और कैंसरकारक कोशिकाओं की वृद्धि को रोकते हैं और कैंसर कोशिकाओं को मारकर, कैंसर के जोखिम को कम करते हैं। इसके साथ-साथ यह फाइटोकेमिकल्स, इम्यून सिस्टम की कोशिकाओं (लिम्फोसाइट्स) की वृद्धि करते हैं और कैंसर के इलाज के दौरान, कीमोथेरेपी की दवाइयों से शरीर को होने वाले नुकसान को भी कम करते हैं।

22. डायबिटीज और ब्लड शुगर को थामता है एवोकैडो

Avocado is A Great Food for Diabetic People in Hindi: एक हालिया शोध के अनुसार, एवोकैडो, डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिये भी बहुत ही फायदेमंद है। अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन, मोनोअनसैचुरेटेड वसा के प्रमुख स्रोत के रूप में, मधुमेह से ग्रस्त लोगों को अपने आहार में, एवोकैडो को शामिल करने की सलाह देती है। क्योंकि मोनोसेचुरेटेड फैट, इन्सुलिन प्रतिरोधकता (Insulin Resistance) को पलटती है और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करती है।

इसके अलावा ज्यादातर दूसरे भोजन की तुलना में, एवोकैडो में कहीं ज्यादा सुपाच्य फाइबर होता है जो आपकी रक्त शर्करा को स्थिर करता है, आँतों की चाल को नियमित करता है और वजन को भी नियंत्रित करता है। कई अध्ययनों से पता चलता है कि फाइबर, मधुमेह रोगियों में तेजी से रक्त शर्करा के स्तर को कम कर सकता है। फल के अलावा, एवोकैडो के पत्ते (Avocado in Hindi ) का अर्क भी, मधुमेह के रोगियों के लिये अच्छा है।

क्योंकि इसकी पत्तियों का अर्क भी, रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करता है। एवोकैडो में उपस्थित अधिकांश कार्बोहाइड्रेट 7-कार्बन शर्करा से बने होते हैं, जो चीनी का दुर्लभ स्वरूप है। यह तत्व हेक्सोकाइनेस एंजाइम को रोकते हैं। अगर मधुमेह के रोगी एवोकैडो को खाने के साथ-साथ, नियमित रूप से व्यायाम करें, स्वस्थ आहार लें और अपने वजन को सही रखें, तो उनकी बहुत सी मुश्किलें दूर हो सकती हैं।

23. गठिया में भी लाभदायक है एवोकैडो का सेवन

Avocado helps in Treating Arthritis in Hindi: एवोकैडो में एंटीइन्फ्लेमेटरी गुण पाये जाते हैं, जिससे शरीर के अन्दर और बाहर की सूजन को कम करने में मदद मिलती है। एवोकैडो का यह गुण गठिया (आर्थराइटिस) की बीमारी से जोड़ों में होने वाले दर्द में आराम दिलाता है। एवोकैडो से बनने वाले तेल की मालिश और खाने से, पुराने दर्द में भी आशातीत लाभ होता है।

इसके अलावा इसमें फाइटोकेमिकल्स, फ्लैनॉयड, कैरोटिनॉयड, फाइटोस्टीरॉल, फैटी एल्कोहॉल और ओमेगा-3 फैटी एसिड पाये जाते है जो पैर के जोड़ों और माँसपेशियों की सूजन को कम करते हैं। खास बात यह है कि फल के साथ-साथ एवोकैडो के बीजों में भी सूजन को कम करने का गुण होता है। यही कारण है कि पूरी दुनिया में लोग, आर्थराइटिस से बचने के लिए एवोकैडो का सेवन करते हैं और स्वस्थ रहते हैं।

24. गर्भावस्था के दौरान स्त्रियों का सहायक है एवोकैडो

Avocado Alleviates Morning Sickness of Pregnant Women in Hindi: गर्भावस्था के दौरान, एवोकैडो सुबह के समय होने वाली कमजोरी दूर करता है , जो उस अवस्था के दौरान बहुत आम है। एवोकैडो गर्भावस्था के समय मितली और जी की उकताहट पर काबू पाने में मदद करता है, क्योंकि इसमें विटामिन बी 6 होता है, जो आमतौर पर उबकाई और उल्टी को कम करने से जुड़ा होता है।

इसके अलावा गर्भवती स्त्रियों को विटामिन K की भी बहुत आवश्यकता होती है। अन्यथा इसकी ज्यादा कमी होने के कारण, गर्भ में पल रहे बच्चे में रक्त से जुडी एक समस्या VKDB (Vitamin K Deficiency-related Bleeding) जन्म ले सकती है। प्रेग्नेंट औरतें अपनी डाइट में एवोकैडो को शामिल करके, अपने बच्चे को इस रोग से ग्रस्त होने से रोक सकती हैं, क्योंकि एक ही एवोकैडो में, रोजाना की जरुरत का 40% विटामिन K होता है।

वहीँ एवोकैडो में पाया जाने वाला फोलेट भी, एक हेल्दी प्रेगनेंसी के लिये बहुत जरुरी है। इसका पर्याप्त मात्रा में सेवन करने से गर्भ गिरने (मिसकैरिज होने) और न्यूरल ट्यूब डीफेक्ट्स का खतरा कम हो जाता है। मैकगिल यूनिवर्सिटी में चुहियों पर हुए एक हालिया शोध में यह पता चला है कि फोलेट की कमी से, चुहियों के बच्चों में कई प्रकार के बर्थ डीफेक्ट्स होने का खतरा, 30 प्रतिशत तक बढ़ जाता है।

25. सोरायसिस के उपचार में भी इस्तेमाल होता है एवोकैडो

Avocado as A Treatment of Psoriasis in Hindi: एवोकैडो के तेल से सोरायसिस का उपचार भी किया जा सकता है। ‘जर्नल ऑफ डर्मेटोलॉजी’ पत्रिका के सन 2001 के अंक में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, एवोकैडो तेल और विटामिन B12 सोरायसिस के इलाज में प्रभावी भूमिका निभा सकता है। इस अध्ययन की अवधि के दौरान, सोरायसिस के जिन रोगियों ने 12 सप्ताह तक विटामिन B12 और एवोकैडो के तेल का इस्तेमाल किया, उनमें लगातार सुधार देखा गया।

लेकिन जिन  रोगियों ने विटामिन E युक्त क्रीम का इस्तेमाल किया, उनमें चार सप्ताह तक सुधार दिखने के पश्चात, फिर उसका प्रभाव थम गया। इससे शोधकर्ताओं ने यह निष्कर्ष निकाला कि इस अद्भुत फल में मौजूद मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड, सूजन कम करके, सोरायसिस के उपचार में सहायक सिद्ध हो सकता है और अगर इसके साथ विटामिन B-12 की डोज दी जाय, तो सोरायसिस के लम्बे अवधि वाले उपचार में आशातीत लाभ होता है।

Important Information about The Avocado in Hindi

How to Use Avocado in Hindi कैसे खायें एवोकैडो को

एवोकैडो को लगभग हमेशा और कैसे भी खाया जा सकता है, लेकिन आमतौर पर इसे कच्चा ही खाया जाता है। इसका ज्यादातर इस्तेमाल स्मूदी, ब्रेड टोस्ट, सूप, बर्गर या फिर अन्य डिजर्ट बनाने में किया जाता है, लेकिन इसका प्रयोग मिठाई और सलाद के रूप में भी किया जा सकता है।

1. एवोकैडो को एक डेजर्ट या सलाद के रूप में थोड़ी सी मिर्च और नमक के साथ कच्चा ही खाया जाता है। अमेरिकी महाद्वीप में इसे अक्सर हैमबर्गर और सैंडविच के साथ टॉपिंग के रूप में खाया जाता है।

2. अगर आप चाहे तो एवोकैडो को सैंडविच को पकाते या तलते समय मक्खन या तेल के विकल्प के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे आप अपने भोजन में हानिकारक कैलोरी की मात्रा घटा सकते हैं।

3. जैसे 3.5 औंस एवोकैडो में 14.66 ग्राम वसा होती है, लेकिन इतने ही वजन के मक्खन में 81 ग्राम वसा होती है। इसीलिये आप इसे मक्खन के शानदार विकल्प के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

4. फ्रूट सलाद के एक घटक के रूप में भी एवोकैडो का इस्तेमाल किया जा सकता है।

5. एवोकैडो से आइसक्रीम भी बनायी जा सकती है।

6. इसके अलावा केक में भी एवोकैडो को प्रयुक्त कर सकते हैं।

जीवनसूत्र को अपना प्यार बाँटें
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •