Tallest Buildings and Skyscrapers in The World in Hindi

 

“संयुक्त अरब अमीरात का बुर्ज खलीफा टावर संसार की सबसे ऊँची इमारत है जिसे देखने के लिये हर साल हजारों लोग आते हैं। दुनिया की अन्य सबसे ऊँची इमारतों में शंघाई टावर, अबराज अल-बैत क्लॉक टावर, वन वर्ल्ड ट्रेड सेंटर, ताइपे 101, शंघाई वर्ल्ड फाइनेंसियल सेंटर, पेट्रोनास टावर, विल्लिस टावर, एम्पायर स्टेट बिल्डिंग, बैंक ऑफ़ अमेरिका टावर, ओको टावर और हैंकिंग सेंटर प्रमुख हैं।”

 

10 Tallest Buildings in The World in Hindi
दुनिया की सबसे ऊँची इमारत है बुर्ज खलीफा

Tallest Mega-structures and Skyscrapers of The Earth : –

आज हम आपको बतायेंगे दुनिया की उन सबसे ऊँची इमारतों के बारे में जो न केवल दर्शकों को अपनी ऊँचाई और भव्यता से आकर्षित करती हैं बल्कि Engineering का भी एक शानदार नमूना हैं। इनमे से अधिकांश अपने-अपने समय की विश्व की सबसे ऊँची इमारतें रही थीं जिन्हें बाद में बनने वाली दूसरी इमारतें पीछे छोडती चली गई। इन Mega Structure के निर्माण में चीन और अमेरिका दूसरे सभी देशों से कहीं आगे हैं।

और हो भी क्यों न एक निर्विवाद रूप से दुनिया की एकमात्र महाशक्ति है तो दूसरी उसकी निकटतम प्रतिद्वंधि। इन गगनचुम्बी इमारतों के निर्माण में वर्षों का समय लगा था। जब हजारों मजदूरों, तकनीशियनों और इंजीनियरों ने रात-दिन एक समर्पित कलाकार की तरह इन्हें मूर्त रूप देने में भागीरथ प्रयास किया था तब कहीं जाकर वह लाखों टन steel और concrete उस मुग्ध कर देने वाली अट्टालिका के रूप में सामने आया था, जिन्हें आज मानव समाज एक आधुनिक आश्चर्य की तरह देखता है।

Council on Tall Buildings and Urban Habitat‘ (CTBUH) जो एक International Non-profit Organization (अंतर्राष्ट्रीय गैर-लाभकारी संगठन) है और जिसकी स्थापना सन 1969 में हुई थी, ही इन ऊँची-ऊँची Buildings के लिये वह standard निर्धारित करता है जिनके आधार पर इनकी ऊंचाई मापी जाती है और उन्हें विश्व की सबसे ऊँची इमारत का खिताब दिया जाता है।

सबसे लम्बे समय तक संसार की सबसे ऊँची बिल्डिंग बने रहने का रिकॉर्ड न्यूयार्क की Empire State Building के नाम दर्ज है जो लगभग 40 साल तक संसार की सबसे ऊँची इमारत रही है।

1. Burj Khalifa बुर्ज खलीफा, 828 मीटर : –

बुर्ज खलीफा जिसे पहले बुर्ज दुबई के नाम से भी जाना जाता था, न केवल एशिया महाद्वीप की, बल्कि पूरे संसार की सबसे ऊँची ईमारत है। यह संयुक्त अरब अमीरात की आर्थिक राजधानी दुबई के केंद्र में स्थित है। इस विशालकाय और गगनचुम्बी ईमारत की कुल ऊँचाई 828 मीटर (2,717 फीट) है। Engineering के एक Extraordinary Marvel के रूप में खडा यह Mega-tall Skyscraper सन 2004 में बनना आरम्भ हुआ था और सन 2010 में जाकर तैयार हुआ।

इस Building के निर्माण के पीछे वहां की सरकार का यह उद्देश्य था कि संयुक्त अरब अमीरात (UAE) को सिर्फ एक Oil-based Economy के ठप्पे से मुक्ति दिलाई जाय और इसे पर्यटन के क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय पहचान दी जाय। बुर्ज खलीफा का Design तैयार करने वाली कंपनियों ने Famous Skyscrapers में से एक शिकागो के Willis Tower (Formerly Sears Tower) और न्यूयॉर्क के One World Trade Center का डिजाईन भी तैयार किया है।

एड्रियन स्मिथ इस Building के Chief Architect थे और बिल बेकर इसके Chief Structural Engineer. Tower का निर्माण Al Ghurair Investment Group द्वारा किया गया था और इस पूरे Project की सलाहकार (Consultant) थी हैदर कंसल्टिंग कंपनी।

Building Facts – इस Building में 55000 टन Structural Steel और 110,000 टन कंक्रीट लगा है। इसमें 163 Floor हैं और इसका कुल Floor Area 309,473 मी2 है। Building में 900 कमरे, 57 Elevator और 8 Escalator हैं तथा ग्राउंड फ्लोर से लेकर 160वीं मंजिल तक 2909 सीढियाँ हैं। इस पूरी Building का कुल वजन लगभग 500,000 टन है।

Design – Burj Khalifa का डिजाईन Adrian Smith, Skidmore, Owings & Merrill (SOM) कंपनियों ने तैयार किया था। इसकी Engineering का काम देखा था दक्षिण कोरियाई कंपनी Samsung C&T ने जो इसका Primary Contractor था।

Cost – इस भव्य इमारत के निर्माण में कुल 1.5 अरब अमेरिकी डॉलर खर्च हुए हैं जो कि शंघाई टावर और अबराज अल-बैत क्लॉक टावर की निर्माण लागत से काफी कम है।

2. Shanghai Tower शंघाई टावर, 632 मीटर : –

Burj Khalifa के बाद संसार की दूसरी सबसे ऊँची इमारत है Shanghai Tower जो कि चीन की सबसे ऊँची Building भी है। यह चीन के सबसे बड़े नगर शंघाई के Pudong Xinqu क्षेत्र में Lujiazui Residential District में स्थित है। शंघाई टावर की कुल ऊंचाई 632 मीटर (2,073 फीट) है। Building का Construction Work नवम्बर 2008 में शुरू हुआ था और यह सितम्बर 2014 में बनकर तैयार हुई। फरवरी 2015 में इसे लोगों के लिये खोल दिया गया।

शंघाई टावर का निर्माण Shanghai Tower Construction and Development ने किया है। इसका स्वामित्व Yeti Construction and Development के पास है। इसके Chief Structural Engineer थे थोर्नटन टोमासेटी (Thornton Tomasetti) और कोसेंटिनी एसोसिएट्स (Cosentini Associates)

Building Facts – शंघाई टावर में कुल 128 Floor हैं, इसके अतिरिक्त इसमें 5 Underground Floor भी हैं। इसका कुल Floor Area 380,000 मी2 है। इसमें दुनिया की सबसे ऊँची Observation Deck है जो 561.25 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है जहाँ से Visitor नयनाभिराम दृश्यों का आनंद ले सकते हैं। इसमें 320 कमरे, 106 Elevator और 1100 Parking Space है।

Design – इस Building का डिजाईन अमेरिकी International Design Firm ‘Gensler/गेंस्लर’ ने चीनी वास्तुविद जुन जिया के साथ मिलकर तैयार किया है। Shanghai Construction Group इसका मुख्य Contractor था।

Cost – Shanghai Tower के निर्माण में कुल 2.4 बिलियन डॉलर अर्थात 15.7 अरब युआन का खर्च आया है।

इसके अलावा इसमें Spa, Fitness Center, Swimming Pool, Sky Lounge, Bar और Sky Garden भी है। इसमें Rainwater को संरक्षित करने का इंतजाम भी है। इस Building में दुनिया के सबसे तेज गति से चलने वाले Elevator लगे हैं जो लगभग 20.5 m/s की चाल से चलते हैं।

3. Abraj Al-Bait Clock Tower अबराज अल-बैत क्लॉक टावर, 601 मीटर : –

Abraj Al-Bait Clock Tower जिसे Makkah Royal Clock Tower के नाम से भी जाना जाता है दुनिया की तीसरी सबसे ऊँची Building है। यह Burj Khalifa के बाद अरब प्रायद्वीप की दूसरी सबसे ऊँची इमारत है। इसकी कुल ऊंचाई 601 मीटर (1,971 फीट) है। यह सऊदी अरब के प्रसिद्द शहर मक्का में स्थित है। इसका निर्माण सऊदी अरब की सबसे बड़ी निर्माण कंपनी सऊदी बिनलादेन समूह ने किया है।

इस इमारत का निर्माण कार्य सन 2004 में आरम्भ हुआ था और यह पूरी तरह सन 2011 में बनकर तैयार हुई। इसमें मक्का आने वाले तीर्थयात्रियों की उपासना के लिये एक बहुत बड़ा प्रार्थना घर है जिसमे 10,000 लोग आ सकते हैं। Building के हर फलक पर जो विशालकाय घडी बनी है वह 25 किमी दूर से भी दिखाई देती है। इसका निर्माण जर्मन कंपनी Perrot GmbH & Co ने किया है। इस घडी को 20 लाख LED Bulb प्रकशित करते हैं।

Building Facts – इस Building में 120 Floor हैं तथा इसका कुल Floor Area 310,638 मी2 है। इसमें 96 Lifts/Elevator, एक पाँच-सितारा होटल, पाँच-मंजिला शॉपिंग माँल और हजारों वाहनों के लिये एक पार्किंग गेराज भी है। टावर के सबसे उपरी सिरे पर बनी घडी का आकार 43*43 मीटर है जो इसे संसार में सबसे बड़ी घडी बनाते हैं।

Design – इस इमारत का डिजाईन महमूद बोडो रस्च की जर्मन कंपनी SL Rasch GmbH और दर अल-हन्दास Architects ने संयुक्त रूप से तैयार किया है। Saudi Binladin Group इसका मुख्य Contractor था।

Cost – इस भव्य इमारत के निर्माण में कुल 15 बिलियन अमेरिकी डॉलर खर्च हुए हैं।

4. Ping An Finance Center पिंग अन फाइनेंस सेंटर 599 मीटर : –

Ping An Finance Center दुनिया की चौथी सबसे ऊँची Building है। यह Shanghai Tower के बाद चीन की दूसरी सबसे ऊँची इमारत है। यह चीन के Guangdong Sheng राज्य के Shenzhen नामक शहर में स्थित है। इसकी ऊंचाई 599 मीटर (1,965 फीट) है। चीन की ही Ping An Life Insurance कंपनी के पास इस High rise Building का स्वामित्व है।

इसका निर्माण कार्य सन 2010 में आरम्भ हुआ था पर यह इमारत पूरी तरह से सन 2017 में ही बनकर तैयार हो पाई थी। इसकी Observatory 550 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है।

Building Facts – इस Building में 114 Floor जमीन से ऊपर हैं और 4 Floor Underground हैं। इसका कुल Floor Area 385,918 मी2 है। इसमें ऊपर जाने के लिये 80 Lifts/Elevator हैं जिनमे 33 Double Decker Elevators हैं। इसमें Ping An Finance कंपनी का मुख्यालय होने के साथ-साथ एक कांफ्रेंस रूम, शौपिंग माँल, होटल और रिटेल स्टोर्स भी हैं।

Design – इस Building का डिजाईन अमेरिकन भवन निर्माण कंपनी Kohn Pedersen Fox Associates ने बनाया है। इसके Chief Structural Engineer थे थोर्नटन टोमासेटी (Thornton Tomasetti) और मुख्य कांट्रेक्टर थे China Construction First Building Group

Cost – इस भव्य इमारत के निर्माण में कुल 0.7 Billion USD खर्च हुए हैं।

5. Lotte World Tower लोट्टे वर्ल्ड टावर 554.5 मीटर : –

Lotte World Tower, दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में स्थित एक Mega-structure है जो संसार की पाँचवीं सबसे ऊँची इमारत है। इसकी ऊँचाई 554.5 मीटर (1,819 फीट) है। लगभग 13 साल तक इसके डिजाईन और योजना पर काम करने के पश्चात यह फरवरी 2011 में बनना आरभ हुई थी और अंततः सन दिसंबर 2016 में बनकर तैयार हुई। अप्रैल 2017 में इसे सार्वजनिक रूप से खोल दिया गया। यह हान नदी के समीप स्थित है।

चूँकि यह क्षेत्र उच्च भूकंप संभाव्यता क्षेत्र (High Seismic Zone) में आता है, इसीलिए इस इमारत में भूकंपरोधी संरचना का इस्तेमाल किया गया है। यह Building उपर की ओर से हल्की सी शंक्वाकार है और इसके किनारे भी कुछ टेढ़े हैं। यह रिक्टर स्केल पर दर्ज होने वाले 9 से भी अधिक तीव्रता के भूकम्प और 80 मीटर/सेकेण्ड के वेग से बहने वाली तूफानी हवा तक को सह सकती है। सियोल शहर की Sky Skylight सबसे ऊँची Glass Floor Observatory है।

Building Facts – इस Skyscraper में 123 तल जमीन से ऊपर हैं तथा 6 Floor भूमिगत (Underground) हैं। इसका कुल Floor Area 304,081 मी2 है। इसमें Luxury Hotel, Retail Outlets, Offices Residence Sky Friends Cafe, Observation Deck, Sky Terrace, Photozone, Sky Cafe, Lounge Bar के अलावा चार Media Stands भी हैं। सियोल शहर के सौंदर्य का अवलोकन करने के लिये इसमें एक Telescope और कांच का तल भी है।

Design – इस Building का डिजाईन भी प्रसिद्द अमेरिकन भवन निर्माण कंपनी Kohn Pedersen Fox Associates ने ही तैयार किया है। इसके Chief Structural Engineer थे Leslie E. Robertson Associates और मुख्य Developer थी Lotte Engineering & Construction Company

Cost – लोट्टे वर्ल्ड टावर के निर्माण में 3.4 बिलियन डॉलर से भी ज्यादा की लागत आयी है।

6. One World Trade Center वन वर्ल्ड ट्रेड सेंटर 541.3 मीटर : –

One World Trade Center, संयुक्त राज्य अमेरिका के सबसे बड़े नगर और विश्व की आर्थिक राजधानी न्यूयार्क सिटी में स्थित दुनिया की छठीं सबसे ऊँची इमारत है। यह न केवल अमेरिका की सबसे ऊँची इमारत है, बल्कि उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका महाद्वीप में भी इससे ऊँचा कोई दूसरा Skyscraper नहीं है। इसकी ऊँचाई 541.3 मीटर (1,776 फीट) है। यह Mega-structure अप्रैल 2006 में बनना शुरू हुआ था और सन 2013 में बनकर तैयार हुआ।

यह शानदार गगनचुम्बी इमारत उस दोबारा बनाये गये विश्व-प्रसिद्द World Trade Center कॉम्प्लेक्स की मुख्य इमारत है जो सितम्बर 2011 के आतंकी हमलों में नष्ट हो गया था। इस नयी संरचना को उसी पुरानी इमारत के नार्थ टावर का ही नाम दिया गया है। Building का अधिकांश Structure और Interior, रिसाइकल किये गये पदार्थों से ही बना है।

इसमें वर्षा के पानी के संरक्षण और उसके पुनः उपयोग की सुविधा है। Waste Steam को reuse करके उससे बिजली बनायी जाती है और Tower को एनर्जी देने के लिये Fuel Cell Technology का इस्तेमाल किया गया है। Port Authority of New York and New Jersey इस Building का डेवलपर है।

Building Facts – इस Skyscraper में कुल 104 Floor हैं जिनमे 5 Floor Underground हैं। इसका कुल Floor Area 325,279 मी2 है। इसमें ऊपर जाने के लिये 73 Lifts/Elevator हैं। इसकी Observatory 382.2 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है।

Design – इस Building के मुख्य Architect (वास्तुविद) थे डेविड चाइल्ड और डेनियल लिबेसकिंड। Hill International और The Louis Berger Group इसके अन्य डिज़ाइनर थे। इसके Chief Structural Engineer थे WSP Cantor Seinuk और मुख्य कांट्रेक्टर थी Tishman Construction

Cost – वन वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के निर्माण में लगभग 3.9 बिलियन अमेरिकी डॉलर की लागत आयी है।

7. Guangzhou CTF Finance Centre गुआंगज्होऊ सीटीएफ फाइनेंस सेंटर 530 मीटर : –

Guangzhou CTF Finance Centre दक्षिणी चीन के गुआंगज्होऊ शहर में स्थित संसार की सातवीं सबसे ऊँची इमारत है। यह चीन की तीसरी सबसे ऊँची Building भी है। इसका निर्माण सितम्बर 2009 में आरम्भ हुआ था और यह अक्टूबर 2016 में बनकर तैयार हुई। इसकी ऊंचाई 530 मीटर (1,739 फीट) है।

इस Building में लगे Elevators दुनिया के सबसे तेज गति से चलने वाले एलिवेटर्स में से एक हैं जो लगभग 71.9 km/h की चाल से चल सकते हैं। इस गगनचुम्बी इमारत का स्वामित्व Chow Tai Fook Enterprises के पास है और इसकी डेवलपर हैं New World Development कंपनी।

Building Facts – इस Mega-structure के 111 Floor जमीन से ऊपर हैं और 5 जमीन से नीचे। इसका कुल Floor Area 507,681 मी2 है। इस Building में कुल 95 Elevators/Lift हैं जिनमें 28 Double-deck Elevators हैं। इसके अतिरिक्त इसमें 251 होटल के कमरे, 355 Apartments/ऑफिस रूम, 1705 Parking Space, शौपिंग माँल, रिटेल स्टोर्स और पार्किंग स्थल है।

Design – इस Building का डिजाईन भी प्रसिद्द अमेरिकन भवन निर्माण कंपनी Kohn Pedersen Fox ने ही तैयार किया है। इसके Structural Engineer थे Arup Group और मुख्य कांट्रेक्टर था China State Construction Engineering

Cost – गुआंगज्होऊ सीटीएफ फाइनेंस सेंटर की आरंभिक निर्माण लागत लगभग 1.5 बिलियन डॉलर आँकी गयी थी जो बाद में बढ़कर 2.5 बिलियन डॉलर पहुँच गयी थी।

8. Taipei 101 ताइपे 101, 508 मीटर : –

Taipei 101 जिसे पहले Taipei World Financial Center के नाम से भी जाना जाता था, ताइवान की राजधानी ताइपे के जिन्यी जिले में स्थित संसार की आठवीं सबसे ऊँची इमारत है। इसका निर्माण कार्य सन 1999 में आरंभ हुआ था और यह सन 2004 में जाकर तैयार हुई। इसकी कुल ऊँचाई 508 मीटर (1,667 फीट) है। एक समय यह विश्व की सबसे ऊँची इमारत थी पर बाद में सन 2010 में पूरी हुई बुर्ज खलीफा ने इससे यह गौरव छीन लिया।

इस Mega-structure का स्वामित्व Taipei Financial Center Corporation के पास है। Taipei 101 को दुनिया की सबसे Stable Buildings में से एक माना जाता है। इसे खतरनाक टाइफून हवाओं और शक्तिशाली भूकंप के झटकों को सहने लायक बनाया गया है, क्योंकि ताइवान High Earthquake Prone Zone में आता है। यह Building 60 मीटर/से के वेग से बहने वाले तेज तूफानों को भी सह सकती है।

Building Facts – इस इमारत में 101 Above ground Floor हैं और 5 Underground, इसका कुल Floor Area 412,500 मी2 है। इस Building में कुल 61 Elevators हैं जिन्हें Toshiba ने बनाया है। इनमे Double-deck Shuttles और 2 High Speed Observatory Elevators भी शामिल हैं।

Design – इस Building का डिजाईन C.Y. Lee & Partners ने तैयार किया है और Evergreen Consulting Engineering ने Structural Engineer का कार्य किया है। Samsung C&T और KTRT Joint Venture इसके मुख्य Contractor थे।

Cost – ताइपे 101 के निर्माण में लगभग 2 बिलियन (1934 मिलियन) अमेरिकी डॉलर की लागत आयी है।

9. Shanghai World Financial Center शंघाई वर्ल्ड फाइनेंसियल सेंटर 492 मीटर : –

Shanghai World Financial Center चीन के सबसे बड़े नगर शंघाई में स्थित दुनिया की नौवीं सबसे ऊँची Mega-tall Structure है। यह शंघाई टावर के बाद शंघाई की सबसे ऊँची इमारत है जो इसके समीप एक ही कॉम्प्लेक्स में स्थित है। इसकी ऊँचाई 492 मीटर (1,614 फीट) है। इसका निर्माण सन 1997 में शुरू हुआ था और 11 वर्षों के लंबे अंतराल के पश्चात यह सन 2008 में जाकर तैयार हुई।

इसका स्वामित्व Shanghai World Financial Center Company के पास है। Mori Building Company इसकी developer थी। शंघाई वर्ल्ड फाइनेंसियल सेंटर का look बहुत शानदार है क्योंकि इसे बिल्कुल अलग तरह से Neo-Futurism, Architectural Style में बनाया गया है।

Building Facts – इस Building में कुल 101 Floor हैं जिनमे 3 जमीन से नीचे हैं। इसका कुल Floor Area 381,600 मी2 है। इस Building में 91 Lifts/Elevators के साथ-साथ ऑफिस, होटल, Conference Room और 3 Observation Deck भी है। Ground-floor पर Shopping Malls भी स्थित हैं, पर इसकी सबसे खास बात है इसकी चोटी पर बना हुआ चतुर्भुजाकार छिद्र जिसे तेज हवाओं के वेग को सहने की दृष्टि से बनाया गया है।

Design – इस Building का डिजाईन भी प्रख्यात अमेरिकी कंपनी Kohn Pedersen Fox ने ही तैयार किया है, जिन्होंने संसार के दस सबसे ऊँचे Skyscrapers में से 5 Buildings के डिजाईन का Blue Print तैयार किया है। Leslie E. Robertson Associates ने इसकी Structural Engineering का काम देखा है। China State Construction Engineering Corporation और Shanghai Construction (Group) General Company इसके मुख्य Contractor थे।

Cost – शंघाई वर्ल्ड फाइनेंसियल सेंटर के निर्माण में 1.20 बिलियन अमेरिकी डॉलर की लागत आयी है।

10. International Commerce Centre इंटरनेशनल कॉमर्स सेंटर 484 मीटर : –

International Commerce Centre चीन के हांग कांग में स्थित संसार की दसवीं सबसे ऊँची Building है। इसकी ऊँचाई 484 मीटर (1,588 फीट) है। इस इमारत का निर्माण कार्य सन 2002 में आरंभ हुआ था जो सन 2010 में जाकर पूर्ण हुआ। हांग कांग के MTR Corporation Limited और Sun Hung Kai Properties के सहयोग से इस Skyscraper का निर्माण हुआ है। इसके डेवलपर थे Sun Hung Kai Properties

Building Facts – इस इमारत में 108 तल जमीन से ऊपर हैं और 4 जमीन से नीचे। इसका Floor Area 274,064 मी2 है। इस Building में 83 Elevator, Apartment, Office Room और Five-star Hotel के अतिरिक्त एक Swimming Pool, Bar और Observation deck भी है जो सौवीं मंजिल पर स्थित है। इसमें दुनिया का सबसे ऊँचा Swimming Pool है

Design – इस Building का डिजाईन प्रसिद्ध अमेरिकी Architectural Firm, Kohn Pedersen Fox Associates ने Wong & Ouyang (HK) Ltd के साथ मिलकर तैयार किया है। Arup इसका Structural Engineer था और Sanfield Building Contractors Limited इसका मुख्य Contractor

Cost – इंटरनेशनल कॉमर्स सेंटर के निर्माण में 1.25 बिलियन अमेरिकी डॉलर व्यय हुए हैं।

“साहस का तात्पर्य भय की अनुपस्थिति नहीं है, बल्कि इसके ऊपर जय है। बहादुर आदमी वह नहीं है जो डर महसूस नहीं करता, बल्कि वह है जो उस डर को जीतता है।”
– नेल्सन मंडेला

 

Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!

Spread Your Love