Career Guide: Key Skills Meaning in Hindi

 

“Key Skills या महत्वपूर्ण कौशल, व्यक्तित्व के उन इच्छित और सुनिश्चित गुणों का समूह है जिसमे सामान्य समझ, मानवीय स्वभाव की जानकरी, समस्याओं को संभालने की क्षमता और एक सकारात्मक द्रष्टिकोण शामिल है। Key Skills आज Career के लिये जरुरी ही नहीं, बल्कि एक अनिवार्य योग्यता बन चुकी हैं।”

 

Key Skills Meaning in Hindi
Career में आगे बढ़ने के लिये बहुत जरुरी हैं Team Building Skills

एक जमाना था जब कामयाबी पाने के लिये महज एक डिग्री की जरुरत पड़ा करती थी और ग्रेजुएट होते ही उन्नति के लिये ढेरों अवसर मिल जाते थे। पर आज जमाना बहुत बदल चुका है। आज किसी अच्छे संस्थान से ऊँची डिग्री लेने के बाद भी यह आशा नहीं की जा सकती कि अपने इच्छित क्षेत्र में उपयुक्त योग्यता के आधार पर कार्य करने का मौका मिल भी सकेगा या नहीं।

हर साल लाखों की संख्या में अनेकों शिक्षित युवा एक बेहतर नौकरी की तलाश में स्कूल-कालेजों से निकलते हैं। केवल अच्छे नंबरों के या किसी Professional Degree के आधार पर आज के इस Cut Throat Competitive World में Survive कर पाना बहुत मुश्किल है।

अनेकों लोगों के मन में यह संशय रहता है कि जीवन में उन्नति करने के लिये हम किस क्षेत्र का चुनाव करें, कौन सी राह हमें हमारे इच्छित लक्ष्य तक ले जा सकती है। जीवनसूत्र के इस लेख में हमारे सम्मानित पाठकों की इसी दुविधा को दूर करने का एक छोटा सा प्रयास किया गया है।

जानिये कैसे आपका नजरिया आपकी पूरी जिंदगी की दिशा बदल सकता है – Power of Attitude in Hindi

 

What are Key Skills in Hindi क्या हैं की स्किल्स

“एक से भले दो” यह आम प्रचलित कथन अन्य स्थानों पर जितना सही बैठता है उतना ही सही यह Corporate World के सन्दर्भ में भी है। लोगों को साथ लेकर चलना और उनका हार्दिक सहयोग पाना बड़े और महत्वपूर्ण कार्यों को पूरा करने के लिये एक अनिवार्य शर्त रही है। “अकेला चना भाड नहीं फोड़ सकता” यह कहावत उन वृहत कार्यों पर बिल्कुल सही तरह से लागू होती है, जहाँ अकेला व्यक्ति चाहे वह कितना भी प्रतिभाशाली और परिश्रमी क्यों न हो, सब कुछ नहीं कर सकता।

Key Skills के जरिये Employer अपने Prospective Employee में यह गुण खोजते हैं कि जिस व्यक्ति को वह चुनने जा रहे हैं क्या वह संगठन के उत्तरदायित्वों को वहन करने में पूर्ण रूप से सक्षम है? क्या वह बड़े लक्ष्यों को पूर्ण करने के लिये अपने दूसरे सहयोगियों के साथ अपने अहम् को दूर रखते हुए, कदम से कदम मिलाकर चलने को तैयार हैं?

और यदि Essential Key Skills के रूप में आपके पास वह आवश्यक योग्यताऍ हैं तो आप उनकी नजरों में निश्चित रूप से एक Capable Candidate साबित हो सकते हैं।

इंटरव्यू में सुनिश्चित कामयाबी हासिल करने के लिये यह लेख अवश्य पढ़ें – Top 7 Interview Tips in Hindi

Key Skills Meaning in Hindi की स्किल्स का अर्थ

Oxford Dictionary के अनुसार Key शब्द का एक अर्थ ‘Most Important Thing’ यानि सबसे महत्वपूर्ण चीज़ भी होता है, जबकि Skill का अर्थ है – कौशल, क्षमता, प्रवीणता। इस आधार पर यदि हम Key Skill नामक इन दो शब्दों को परिभाषित करें तो यह अर्थ निकलता है – ‘Most Important Skills’ अर्थात सबसे महत्वपूर्ण कौशल या क्षमताएँ। नीचे Key Skills को और अच्छी तरह से परिभाषित किया जा रहा है –

“Key Skills or Soft Skills are A set of Certain Desirable Attributes of Personality that Include Common Sense, Knowledge of Human Behavior, Ability to Handle Problems and A Positive Attitude.”

“सबसे महत्वपूर्ण कौशल या सॉफ्ट स्किल्स, व्यक्तित्व के उन इच्छित और सुनिश्चित गुणों का समूह है जिसमे सामान्य समझ, मानवीय स्वभाव की जानकरी, समस्याओं को संभालने की क्षमता और एक सकारात्मक द्रष्टिकोण शामिल है।”

जानिये क्या हैं Time Management Skills और कैसे Manage करें अपने समय को – Time Management Skills in Hindi

 

Key Skills Importance in Hindi क्यों जरुरी हैं की स्किल्स

एक मस्तिष्क की तुलना में दो मस्तिष्क ज्यादा बेहतर है, बशर्ते वे किसी पूर्वाग्रह को दूर रखकर एक यूनिट के रूप में एक ही उद्देश्य को सामने रखकर कार्य करें। Modern Management में आज सबसे बड़ी चुनौती यही है कि आखिर किस तरह Different Mindset वाले व्यक्तियों को, जिनकी Work Approach, Qualification, Experience, Passion अलग-अलग हो सकती है, साथ लाया जाय, जो वे एक ही प्लेटफ़ॉर्म पर साथ आकर काम करें, और संगठन को ऊँचा उठा सकें।

इसीलिये यह बेहद आवश्यक हो जाता है कि न केवल Employees को चुनने में पर्याप्त सावधानी और समझदारी बरती जाय, बल्कि उनका नेतृत्व भी किसी ऐसे व्यक्ति के हाथ में ही दिया जाय जो आगे बढ़कर चतुराई के साथ उनका नेतृत्व करे और आपसी मतभेदों को दूर कर सके क्योंकि जब एक कुशल Team Leader और Team Members के बीच उचित समन्वय होता है, तब Key Skills प्रत्येक व्यक्ति की कार्य-कुशलता में सकारात्मक बदलाव लाती है।

इस प्रक्रिया में उस निर्दिष्ट कार्य में सम्मिलित प्रत्येक कर्मचारी नई Skills सीखता हैं और ज्ञान प्राप्त करता हैं। चाहे कोई कार्य सफल हुआ हो, या फिर असफल, यह निश्चित रूप से हर उस व्यक्ति के अनुभव को बढायेगा जिसने इस पर कार्य किया है। इतना ही नहीं Key Skills उन्हें उस अनुभव का भविष्य में उपयोग करने और अधिक दक्षतापूर्वक कार्य करने में स्मार्ट बनाती है।

यह ज्ञान उनके व्यक्तिगत जीवन और करियर में काफी मददगार होता है। लोग Communication के महत्व को समझते हैं, अपनी निर्णय लेने की क्षमता को निखारते हैं और एक योजना को पूर्ण करने की प्रक्रिया को सीखते हैं। Key Skills अपने ज्ञान और कौशल को दूसरों के सामने प्रदर्शित करने का एक शानदार अवसर है जो आपको अपने हुनर को निखारने के साथ-साथ Career में आगे बढ़ने का भी मौका देता है।

क्या हैं Team Management Skills और क्यों Corporate World में इनकी इतनी Demand है – Team Meaning in Hindi: टीम का अर्थ

आखिर क्या देखते हैं Employer अपने कर्मचारी में Key Skill के जरिये

Key Skills को Soft Skills के नाम से भी पुकार सकते हैं क्योंकि सैद्धांतिक रूप से दोनों एक ही हैं। Key Skills में आपके व्यक्तित्व की वह विशेषता खोजी जाती है जो आपको अलग-अलग पृष्ठभूमि के व्यक्तियों के साथ मिलकर एक सामूहिक लक्ष्य की पूर्ति के लिये कार्य करने के योग्य बनाती है। Organization की Growth के लिये और एक बेहतर Work Environment Create करने के लिये प्रत्येक संगठन और नियोक्ता आपके भीतर इन विशेषताओं को देखना चाहते हैं –

1. कोई कर्मचारी अपने समूह के दूसरे सहयोगियों के साथ कितनी सहजता से और कार्यकुशल तरीके से कार्य कर सकता है?

2. कर्मचारी में ऐसी कौन सी खूबी या विशेषता है जिसका उपयोग संगठन दूसरे कार्य में अधिक बेहतर तरह से कर सकता है?

3. व्यक्ति संगठन में रहने या काम करने लायक है या नहीं।

4. क्या उस व्यक्ति पर बड़े कार्यों का उत्तरदायित्व सौंपा जा सकता है?

5. क्या व्यक्ति किसी प्रकार के अहम् भाव से ग्रस्त है? उसका नजरिया कैसा है?

6. व्यक्ति के बौद्धिक स्तर और भावनात्मक सामर्थ्य का समूह में काम करने पर क्या स्तर है?

7. व्यक्ति समस्याओं को किस प्रकार से और कितनी कुशलता से संभाल सकता है?

8. क्या व्यक्ति शिष्टाचार, जीवन मूल्यों और मर्यादाओं में निष्ठा रखता है?

जानिये क्या हैं वह सूत्र जिनके बल पर Students जीवन में आगे बढ़ सकते हैं – Motivation Tips in Hindi for Students

 

Corporate World में Key Skills क्यों जरुरी है

निःसंदेह Key Skills आज Modern Corporate World की सबसे बड़ी जरूरतों में से एक है जिनकी मांग आज हर नियोक्ता अपने कर्मचारी से करता है। यह न केवल Employer की नजरों में आपकी योग्यता को दूसरे प्रतिस्पर्धीयों की तुलना में इक्कीस ठहराती है, बल्कि Career की दौड़ में लम्बे समय तक टिके रहने में भी मदद करती है। किसी बड़े और महत्वपूर्ण Project पर कार्य करने के लिए अमूनन हर संगठन को एक बेहतरीन टीम की जरुरत होती है।

जो न केवल उस Project को एक Imaginative Blueprint से बाहर निकालकर उसे Real World में साकार कर सके, बल्कि उसे एक Model of Excellence भी बना सके। एक अच्छी टीम निश्चित रूप से उसके अच्छे Team Members पर निर्भर करती है, क्योंकि Team Members की Personal Performance समग्र टीम के प्रदर्शन का अहम पहलू है।

लेकिन इससे व्यक्तिगत अनुभव और योग्यता के आधार पर Team का चुनाव करने वाले Selectors की एक बेहतर टीम तैयार करने की जिम्मेदारी कम नहीं हो जाती। इसीलिये प्रत्येक सदस्य की खूबियों और खामियों की सूक्ष्मता से परीक्षा करने के बाद ही उन्हें कोई महत्वपूर्ण दायित्व सौपा जाना चाहिये। क्योंकि एक टीम उतनी ही शक्तिशाली होती है जितना कि उसका सबसे कमजोर सदस्य।

और यहीं पर Key Skills की अहम भूमिका सामने आती है, क्योंकि योग्य व्यक्तियों का चयन करने का मानक इन्हीं से निर्धारित होता है। Key Skills की आवश्यकता केवल लोगों के एक समूह तक ही सीमित नहीं है, बल्कि प्रत्येक व्यक्ति के लिए है।

अगर हम इन Key Skills की इन खूबियों को अपने जीवन में उतार सकें – जैसे अपने व्यक्तित्व को मिलनसार बनाना, दूसरों के साथ सहयोग करना, आदर्शों पर दृढ रहना आदि, तो हम स्वयं को एक उत्कृष्ट मार्गदर्शक के रूप में विकसित कर सकते हैं। Key Skills की मदद से हम न सिर्फ अपने जीवन को एक सही दिशा दे सकते हैं, बल्कि स्वयं को एक अच्छा इंसान बनाने के साथ-साथ दूसरों को भी उनकी आवश्यकता के समय प्रेरणा दे सकेंगे।

Important – Key Skills और Soft Skills दोनों का मंतव्य एक ही है, इसीलिये भ्रमित न हों। Soft Skills के बारे में अधिक जानने के लिये Soft Skills in Hindi क्या है सॉफ्ट स्किल्स नामक लेख पढ़ें।

“एक व्यक्ति के संघर्ष की तीव्रता ही उसकी सफलता का स्तर तय करती है।”
– पवन प्रताप सिंह

 

Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!

Spread Your Love