Eye Meaning and Eye Facts in Hindi

 

“हमारी आँखे, लगभग 100 लाख रंगों को पहचान सकती हैं जो किसी भी कृत्रिम कैमरे की तुलना में काफी अधिक है। यहाँ तक कि यह एक फोटोन की भी पहचान कर सकती है।”

 

Human Eyes in Hindi
प्राणियों को ईश्वर द्वारा दिया गया अनमोल वरदान हैं आँखे

Eye Meaning in Hindi आई का अर्थ

Eye का अर्थ है – आँख, नेत्र या चक्षु। आँख मनुष्य की एक इन्द्रिय (Sensory Organ) है जिससे शरीर देखने का काम लेता है। आँखे (Human Eyes), शरीर की पाँचों ज्ञानेन्द्रियों (आँख, नाक, कान, जिह्वा और त्वचा) में सबसे महत्वपूर्ण मानी जाती हैं और आँखों के महत्व को ध्यान में रखते हुए यह तथ्य पूर्ण रूप से सत्य ही सिद्ध होता है।

पिछले लेख Liver Meaning in Hindi और Heart Meaning in Hindi में हमने आपको यकृत और दिल की अद्भुत सामर्थ्य के बारे में बताया था। आज Eye Meaning in Hindi में हम आपको आँखों से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण तथ्यों के विषय में बताने जा रहे हैं, जिससे प्रत्येक व्यक्ति इनकी सुरक्षा के लिये प्रयासरत रहे।

क्योंकि हम अपनी आँखों को तब तक कोई विशेष अहमियत नहीं देते हैं, जब तक कि इनकी रौशनी पर कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ता। लेकिन जब आप आँखों के बारे में इन तथ्यों को जान जायेंगे, तो आप समझ जायेंगे कि आपका यह अंग कितना अद्भुत है, क्योंकि आँखों के बिना जिंदगी, जिंदगी नहीं है।

Eye Structure in Hindi आँख की संरचना

1. एक औसत मानव आँख (Human Eye) में 10 करोड़ 70 लाख कोशिकाएँ होती हैं जो प्रकाश के प्रति संवेदनशील होती हैं। अर्थात इन्सान की दोनों आँखों में, 2 करोड़ 14 लाख फोटोसेंसिटिव सेल्स होती हैं। इन 10 करोड़ 7 लाख कोशिकाओं में से 70 लाख कोशिकाएँ, जिन्हें कोंस के नाम से जाना जाता है, रंगों की पहचान करने के लिये जिम्मेदार होती हैं।

2. बाकी बची हुई दस करोड़ कोशिकाएँ, जिन्हें रोड्स के नाम से जाना जाता है, सफ़ेद और काले रंग का अंतर पहचानने के लिये बनी होती हैं।

3. मनुष्य की आँख का वजन (Weight of Human Eye), एक औंस से भी कम (7.5 ग्राम) होता है और इसकी चौड़ाई भी लगभग एक इंच जितनी होती है।

4. मानव मस्तिष्क के पश्चात, आँखें ही शरीर का दूसरा सबसे ज्यादा जटिल अंग हैं।

5. कोर्निया, आईरिस और तारे की पारदर्शक झिल्ली है।

Eye in Hindi शरीर का अद्भुत अंग हैं आँखें

6. वैज्ञानिकों का मानना है कि हमारी आँखें, लगभग 55 करोड़ साल पहले विकसित होना शुरू हुई थी। सबसे सरल आँखे, एक कोशीय जीवों की थीं, जो फोटोरिसेप्टर प्रोटीन के पैच मात्र थे।

7. आँखों के कॉर्निया (Eye Cornea), शरीर के एकमात्र उतक होते हैं, जिनमे कोई ब्लड सप्लाई नहीं होती, अर्थात यह रक्त से कोई पोषण ग्रहण नहीं करते।

8. आँखों को नियंत्रित करने वाली माँसपेशियाँ, पूरे मानव शरीर में सबसे ज्यादा एक्टिव मसल्स होती हैं।

9. गर्भ स्थापित होने के 2 सप्ताह बाद ही, आँखों का विकास होना शुरू हो जाता है।

10. आँखों की पुतली (Eyeball) का सिर्फ छठवाँ हिस्सा ही बाहर से दिखायी देता है।

Structural Facts about The Human Eyes in Hindi

मनुष्य की आँख की संरचना से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

11. एक सामान्य मनुष्य की आँख (Average Human Eye) में, तीन प्रकार के कोंस (रंगों की पहचान करने वाली कोशिकाएँ) होते हैं। इसीलिये सभी इन्सान ट्राईकोमेट्स (Trichomats) कहलाते हैं, लेकिन कुछ औरतें ऐसी होती हैं, जिनमे मयुटेशन की प्रक्रिया की वजह से 4 कोंस होते हैं।

12. ऐसी औरतों की आँखे, 1 करोड़ रंगों को देख सकती हैं और इन स्त्रियों को टेट्राक्रोमैट्स (Tetrachromats) कहते हैं। इन स्त्रियों की आँखों में यह विशेषता होती है कि यह रंगों के उन शेड्स को भी देख सकती हैं जिनका कोई नाम नहीं होता और जो कलर स्वैचेस में भी नजर नहीं आते हैं।

13. हालाँकि इन स्त्रियों को इस बात का पता नहीं रहता कि वह दूसरों की तुलना में कहीं ज्यादा रंग देख सकती हैं। इंसानों के अलावा सिर्फ कुछ कीट और पक्षी ही ट्राईकोमेट्स के रूप में जाने जाते हैं। इसीलिये वह भी संसार के सौंदर्य का ऐसा ही लुत्फ़ उठाते हैं जैसा कि इन्सान।

14. इनमे से कुछ कीट और पक्षी तो ऐसे हैं जो स्पेक्ट्रम के पराबैंगनी हिस्से को भी देख सकते हैं, जो इन्हें इंसानों से भी ज्यादा तेज नज़रों वाला बनाती है। हालाँकि कुत्ते और बन्दर डाईकरोमेट्स होते हैं, क्योंकि इनकी आँखों में सिर्फ दो ही कोंस होते हैं।

Eyes in Hindi दुनिया का सबसे अद्भुत कैमरा है आँख

15. हमारी आँखे (Human Eye), लगभग 100 लाख रंगों को पहचान सकती हैं जो किसी भी कृत्रिम कैमरे की तुलना में काफी अधिक है। यहाँ तक कि यह एक फोटोन को पहचानने में भी सक्षम है। इसके अलावा इनमे एक ही रंग के अलग-अलग शेड्स को पहचानने की भी काबिलियत होती है। उदाहरण के लिये हमारी आँख भूरे रंग के 500 अलग-अलग शेड्स को पहचान सकती है।

16. मनुष्य के आँसू पानी, म्यूकस, और वसा से मिलकर बने होते हैं। जब कभी इन तीनों चीजों का संतुलन गड़बड़ा जाता है, तो आँखे ड्राई हो जाती हैं। जब Eyes ड्राई हो जाती हैं, तब आपका मस्तिष्क इन चीजों को और भी ज्यादा मात्रा में उत्पन्न करता है।

17. हमारे शरीर के सभी अंगों की कोशिकाएँ समय-समय पर मरती रहती हैं। लेकिन सिर्फ हमारी आँखों की कोशिकाएँ ही ऐसी हैं, जो जन्म से लेकर मरते दम तक बनी रहती हैं।

18. हमारे Pupil के ठीक पीछे ही लेंस होता है जो गोल, चपटा और बीच में से मोटा होता है।

19. आँख की पुतली (Eyeball) का वजन लगभग 2.8 ग्राम होता है।

Eyes in Hindi ऐसे निर्धारित होता है आँख का रंग

20. इन्सान की आँखों के आईरिस में हरा, हेजल या नीला पिगमेंट नहीं होता। आँख का रंग, आईरिस, स्ट्रोमा के कोशिका घनत्व और मेलानिन की मात्रा पर निर्भर करता है। कोशिका घनत्व और मेलानिन की मात्रा जितनी कम होगी, आंख के रंग में भी उतना ही ज्यादा बदलाव देखने को मिलेगा।

21. इसका अर्थ है कि जब प्रकाश की स्थिति बदलती है तब आँख का रंग (Eye Color) भी बदल सकता है। यह घटना बिल्कुल आसमान के नीले दिखने जैसी ही है।

22. जब कोई व्यक्ति ऐसा चश्मा पहन लेता है जिससे चित्रों को उपर-नीचे फ्लिप किया जा सके, तब मानव मस्तिष्क ही दृष्टि को ठीक करने के लिये जिम्मेदार होता है।

23. किसी भी मनुष्य के मस्तिष्क का लगभग आधा सक्रिय हिस्सा, नजर की उत्पत्ति के लिये जिम्मेदार होता है।

24. हमारी आँखों की दृष्टि सीमा (Eye Sight Range), 200 डिग्री होती है।

Wonderful Facts about Vision of Eyes in Hindi

यह हैं आँखों की दृष्टि से जुड़े कुछ आवश्यक तथ्य

25. 20/20 या सामान्य नजर सिर्फ एक विहित पैमाना है। जब कोई व्यक्ति एक चार्ट (जिसे आँखों की टेस्टिंग में इस्तमाल किया जाता है), को प्रकाश की सामान्य स्थिति में 20 फीट की दूरी से पढ़ने में समर्थ होता है, तो उसकी दृष्टि को नार्मल विज़न कहते हैं। लेकिन इसका यह अर्थ नहीं होता कि कोई इन्सान इससे ज्यादा दूरी से नहीं पढ़ सकता।

26. 20/20 की तुलना में 20/16 ज्यादा बेहतर नजर है और 20/8 इन सबसे ज्यादा अच्छी नजर मानी जाती है। आँखों की जाँच के दौरान, लोगों से दूसरी अंतिम लाइन तक किसी चार्ट को पढने के लिये कहा जाता है। जो व्यक्ति ऐसा कर लेता है, उसकी नजर सामान्य समझी जाती है। लेकिन जो व्यक्ति 20 फीट की दूरी से अंतिम लाइन भी पढ़ लेता है, उसकी नजर 20/16 कहलाती है।

27. लेकिन 20/8 सर्वश्रेष्ठ नजर है, इसका अर्थ है कि सामान्य नजर वाला व्यक्ति, जिस किसी चीज को 8 फीट की दूरी से देख पाता है, 20/8 नजर वाला इन्सान उसी चीज को 20 फीट की दूरी से देख सकता है।

28. भले ही यह सुनने में अविश्वसनीय लगे, लेकिन सच है कि एक इन्सान, दो अलग-अलग रंग वाली आँखों के साथ जन्म ले सकता है। चिकित्सा जगत में इस स्थिति को, हेटेरोक्रोमिया (Heterochromia) कहा जाता है।

Eyes in Hindi क्यों झपकती हैं हमारी आँखे

29. इन्सान की आँखे (Human Eye), शरीर के उन अंगों में से एक है, जो कभी आराम नहीं करते। यहाँ तक कि लगातार काम करने के बावजूद भी उनकी परफॉरमेंस नहीं बदलती। हालाँकि आँखों और आँखों की पलकों को नियंत्रित करने वाली माँसपेशियों को आराम चाहिये होता है, इसीलिये आँखे पलकें झपकाती हैं।

30. अगर आप सोचते हैं कि पलक झपकाना कोई मामूली काम है, तो आप इसकी महत्ता को नजरंदाज कर रहे हैं। इस क्रिया से आँसू, आँख की सम्पूर्ण सतह में फ़ैल जाते हैं और यह आँखों से सारा कचरा बाहर निकाल देता है, सूक्ष्म जीवाणुओं को ख़त्म कर देता है और आँखों में नमी बनाये रखता है।

31. मनुष्य को दो आँखे इसलिये मिली है ताकि यह चीजों को गहराई तक देख सके। क्योंकि दोनों आँखों से मिलने वाले दो चित्रों का तुलनात्मक अध्ययन करके ही मस्तिष्क यह पता लगाता है कि कोई पिंड हमसे कितना दूर है।

Eyes in Hindi आँखे और ब्लाइंड स्पॉटस की समस्या

32. क्या आप जानते हैं कि इन्सान की आँख, ब्लाइंड स्पॉटस की समस्या से भी सामंजस्य बैठा सकती है। ग्लूकोमा जैसा रोग, मानवीय दृष्टि में ब्लाइंड स्पॉटस उत्पन्न कर देता है और यह बेहद असुविधाजनक हो सकते हैं। हालाँकि मानव मस्तिष्क, इन ब्लाइंड स्पॉटस से तारतम्य बैठा सकता है और उन्हें गायब कर सकता है।

33. मस्तिष्क प्रभावित, आँख में, इन ब्लाइंड स्पॉटस को दबा देता है और अच्छी आँख, इन खाली स्थानों को भर देती है, जिससे दृष्टि पूरी तरह से सामान्य ही रहती है।

34. कम रौशनी में पढने से आपकी आँखों को कोई नुकसान नहीं पहुँचता, लेकिन यह इन्हें थका जरुर देता है।

35. क्या आप जानते हैं कि हमारी आँखों की पलकों में भी अदृश्य, सूक्ष्म, मगर हानिरहित जीवाणु उपस्थित होते हैं?

Facts about The Disease of Human Eyes in Hindi

आँखों के रोगों के संबंध में यह महत्वपूर्ण बातें ध्यान रखे

36. मोतियाबिंद (Cataract) की समस्या बहुत आम है और लगभग हर इन्सान वृद्धावस्था में इनका शिकार होता ही है। यह ठीक वैसे ही है जैसे कि उम्र बढ़ने पर बाल सफ़ेद हो जाते हैं। सामान्य स्वास्थ्य की स्थिति में किसी इन्सान में 70 साल की उम्र तक पहुँचते-पहुँचते, मोतियाबिंद के लक्षण पैदा हो ही जाते हैं।

37. मधुमेह (Diabetes) की पहचान करने के लिये आँखों की जाँच अक्सर पहली चिकित्सा जाँच होती है। टाइप-2 डायबिटीज के लक्षण, सिर्फ पहचानने में ही मुश्किल नहीं होते हैं, बल्कि यह अक्सर अनजाने ही रह जाते हैं।

38. क्योंकि रोगी नहीं जनता कि वह मधुमेह से भी पीड़ित है। आँखों की जाँच से, आँखों के पीछे की तरफ छोटे हेमरेज नजर आते है। यह हेमरेज उन रक्त वाहिनियों से प्रकट होते हैं, जो मधुमेह के कारण लीक होने लगती हैं।

39. पूरी दुनिया में 4 करोड़ से भी ज्यादा अंधे लोग हैं। इनमे जन्मजात और बाद में बीमारियों के कारण अंधे होने वाले, दोनों ही तरह के लोग शामिल हैं। सच में आँख वालों को खुद को खुशकिस्मत ही समझना चाहिये।

40. शोध में यह सिद्ध हुआ है कि अगर टाई बहुत ज्यादा कसी हुई हो, तो इससे पुरुषों में ग्लूकोमा का खतरा बढ़ सकता है।

41. ब्रिटेन के के व्यस्को के अंधे होने की सबसे बड़ी वजह डायबिटीज है।

Eyes in Hindi आँखों की बीमारी से जुड़े तथ्य

42. क्या आपको पता है आँख का प्रत्यारोपण (Eye Transplant) नहीं किया जा सकता है? क्योंकि लगभग 10 लाख से भी ज्यादा तंत्रिका तंतु (Nerve Fibers), प्रत्येक आँख को Brain से जोड़ते हैं और वर्तमान में चिकित्सा जगत के पास इन कनेक्शन को जोड़ने की कोई सुविधा नहीं है।

43. इन्सान वास्तव में देखने के लिये अपनी आँखों का इस्तेमाल नहीं करते है। यह तो उनका मस्तिष्क है जो इस काम को अंजाम देता है। खराब रौशनी, धुंधली नजर जैसी कई समस्याएँ मस्तिष्क के विसुअल कोर्टेक्स में आने वाली तकनीकी मुश्किलों का परिणाम हैं।

44. अगर आपकी आँखों से पानी चलता है, तो यह शुष्क आँख (Dry Eye) का लक्षण हो सकता है।

45. एस्टिगमेटिज्म (Astigmatism) का अर्थ है – कॉर्निया या लेंस का मुड़ना।

46. वर्नान्धता (कलर ब्लाइंडनेस) की समस्या पुरुषों में ज्यादा होती है।

Eyes in Hindi आँखों को बचाने के लिये यह ध्यान रखें

47. आँखों की सुरक्षा के लिये ईश्वर ने बड़ी अनोखी व्यवस्था की है। पहले तो उन्हें एक खोखले ऑय सॉकेट में स्थिर किया, फिर भौओं के जरिये पसीने को आँखों में गिरने से रोकने की व्यवस्था की और आँखों में धूल या गन्दगी ना जा पाय, इसके लिये पलकों के बाल भी बनाये।

48. क्या आपको पता है हमारी आँखे, बेहद कोमल होने के बावजूद, खुद को जल्दी ही ठीक कर सकती हैं। अगर सही प्रकार से ध्यान रखा जाय तो Eye, कोर्निया पर लगे एक छोटे सी खरोंच को सिर्फ 48 घंटे के अन्दर ठीक कर सकती है।

49. दुनिया में आँखों की दृष्टि से संबंधित, 80 प्रतिशत बीमारियों से बचा जा सकता है या उन्हें ठीक किया जा सकता है।

50. समुद्री लुटेरे इस बात पर यकीन करते थे कि कानों में सोने की बालियाँ पहनने से उनकी Eye Sight बढ़ जायेगी।

51. तैलीय मछली, विटामिन A और विटामिन C, आँखों की बढ़िया रौशनी को कायम रखने में मददगार हो सकते हैं।

52. धूम्रपान करने से आपकी रात की रौशनी (Night Vision) कमजोर हो जाती है। इसलिये धूम्रपान न करें।

Amazing Facts about Human Eyes in Hindi

मनुष्य की आँखों से जुड़े हैरान करने वाले अद्भुत तथ्य

53. आँखों की गतिविधियों को संचालित करने के लिये उत्तरदायी बाहरी मांसपेशियां, शरीर की सबसे शक्तिशाली माँसपेशियाँ होती हैं। लेकिन इन्हें इतना ज्यादा शक्तिशाली होने की कोई जरुरत नहीं होती। यह माँसपेशियाँ अपनी उस सामर्थ्य से जितनी कि आँखों को घुमाने के लिये चाहिये होती है, से भी 100 गुणा ज्यादा शक्तिशाली होती हैं।

54. क्या आपको पता है कि इन्सान की आँख, कितनी दूर तक की वस्तु देख सकती है? चलिये हम आपको बताते हैं। हमारी आँख 14 मील की दूरी से भी एक मोमबत्ती की ज्वाला को देख सकती है, बस वातावरण की सभी परिस्थितियाँ अनुकूल होनी चाहिये।

55. एक इन्सान अपनी जिंदगी में जितनी आँख की पलकें गिराता है, अगर उनकी कुल लम्बाई की गणना की जाय, तो यह 98 फीट से भी ज्यादा बैठती है।

56. मानव आँख में 20 लाख से भी ज्यादा सक्रिय हिस्से होते हैं।

57. आँख की पलकों के बाल (Eyelashes) की औसत उम्र 5 महीने होती है।

Eye Facts in Hindi सबसे ज्यादा तेज है आँखों का लेंस

58. मानवता के इतिहास में, इन्सान की आँखों का लेंस (Lens of Human Eye) ही सबसे ज्यादा तेज है। यह मानव निर्मित किसी भी कैमरे के लेंस से कहीं ज्यादा तेज है। विभिन्न दूरियों पर स्थित पिंडों पर फोकस करने के लिये कैमरे के लेंस को कुछ सेकेण्ड तक लग जाते हैं, लेकिन मनुष्य की आँख बिना कोई देरी किये लगभग तुरंत ही फोकस एडजस्ट कर सकती है।

59. इन्सान की आँख, किसी पहेली की तरह उलझाने वाली हो सकती है, क्योंकि यह बेहद जटिल अंग हैं। इसे आप इस बात से समझ सकते हैं कि हमारी आँखें एक सेकेण्ड में 50 से ज्यादा चीजों पर ध्यान केन्द्रित कर सकती हैं।

60. अगर इन्सान की आँख कोई डिजिटल कैमरा होती, तो जानते हैं यह कितने मेगापिक्सल की होती? – 576 मेगापिक्सल की।

61. मनुष्य की आँख का स्टेटिक कंट्रास्ट रेशियो 100:1 और डायनामिक कंट्रास्ट रेशियो 1,000,000:1 होता है।

62. एक इन्सान की औसत जिंदगी में उसकी आँखें, 2.5 करोड़ अलग-अलग चित्र देखती हैं।

63. मानव आँख, हर घंटे 34 KB सूचना को प्रोसेस करने में समर्थ होती है।

Eye Facts in Hindi सबसे तेज हैं आँखों की माँसपेशियाँ

64. क्या आप जानते हैं आँखों की पलकें झपकने में कितना समय लगता है। सिर्फ 100 से 150 मिलीसेकेण्ड, अर्थात सेकेण्ड का भी पाँचवां या दसवां हिस्सा। इसका अर्थ है कि आँखों की माँसपेशियाँ, मानव शरीर (Human Body) में सबसे ज्यादा तेज गति से चलने वाली माँसपेशियाँ होती हैं।

65. इन्सान की आँख एक मिनट में औसतन लगभग 17 बार झपकती है। अगर इसकी गणना की जाय, तो आँख एक दिन में 14 हजार और एक साल में 52 लाख बार झपकती है।

66. हमारी आँखों की पुतलियाँ (Eyeballs) जन्म से लेकर मृत्यु तक एक जैसी बनी रहती हैं, हालाँकि हमारी नाक और कान बढ़ते रहते हैं।

67. मनुष्य की आँख किसी भी क्षण में 100 प्रतिशत दक्षता से काम करती है, आराम की कोई जरुरत महसूस किये बिना।

68. दुनिया में आँखों का सबसे ज्यादा आम रंग, भूरा है।

Mind Blowing Eye Facts in Hindi with Images

आँखों से जुड़े होश उड़ाने वाले अद्भुत तथ्य

69. दुनिया का वह हर इन्सान जिसकी आँखे नीली हैं, उन सबका सिर्फ एक ही पूर्वज था। ऐसा माना जाता है कि नीली आँखों वाला दुनिया का सबसे पहला इन्सान 10 हजार साल पहले इस धरती पर रहता था। यह वह समय था, जब हर इन्सान की आँखें सिर्फ भूरी ही हुआ करती थीं।

70. भले ही आपके परिवार की पिछली कुछ पीढ़ियों में कोई हरी या नीली आँखों वाला इन्सान पैदा नहीं हुआ हो, तो भी इस बात की संभावना रहती है कि वह आगे आने वाली पीढ़ियों में पैदा हो ही जाय।

71. जब हम बड़े हो जाते हैं तो अलग-अलग रंगों को पहचान सकते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि इंसानों के बच्चे, हमेशा कलर ब्लाइंड ही पैदा होते हैं, अर्थात वह रंगों की पहचान नहीं कर सकते हैं।

72. व्यस्क भले ही काफी दूरी से चीजों को देख सकते हों, लेकिन नवजात शिशु, सिर्फ 8 से 15 इंच की दूरी से ही चीजों को स्पष्टता से देख सकता है।

73. क्या आप जानते हैं कि नवजात शिशुओं के रोते समय आँसू नहीं निकलते हैं, जब तक कि वह 4 से 13 सप्ताह के नहीं हो जाते।

74. जो लोग अंधे होते हैं वह अपने सपनों को देख सकते हैं, अगर वह जन्मांध पैदा नहीं होते हैं तो।

Eye Facts in Hindi सबसे विशिष्ट अंग है हमारी आँखे

75. रेड ऑय की समस्या फोटो में पैदा होती है, क्योंकि फ़्लैश की लाइट आँखों के पीछे से निकल जाती है। कोरोईड, रेटिना के पीछे स्थित होता है और इसमें बहुत ज्यादा रक्त वाहिनियाँ होती हैं, इसी कारण से यह फिल्म पर लाल दिखता है।

76. फिंगरप्रिंट में सिर्फ 40 विशिष्ट पहचान होती हैं, लेकिन आँख के आईरिस की 256 होती हैं। यही कारण है कि सुरक्षा के लिये अब रेटिना की स्कैनिंग पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है।

77. हमारी स्मृति का 80 प्रतिशत हिस्सा, उससे निर्धारित होता है जो हमारी आँखे देखती हैं।

78. हर इन्सान के पास एक आँख ऐसी होती है, जो दूसरी से थोड़ी ज्यादा शक्तिशाली होती है।

79. आँखे पढ़ते समय कम झपकती हैं जबकि बाते करते समय ज्यादा।

जीवनसूत्र को अपना प्यार बाँटें
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •