Quality of Impressive Leadership Skills in Hindi

 

“जल्दी हो या देर से, वे जो जीतते है वे लोग होते हैं, जो सोचते है कि वे जीत सकते है।”
– रिचर्ड बक

 

Impressive Leadership Skills in Hindi
Leader बनना चाहते हैं तो झुण्ड से अलग खड़े होइये

नेतृत्व करना एक विशेष कला है और यह काबिलियत सामान्य व्यक्तियों के भीतर नहीं पाई जाती है। हाँ, यह अवश्य है कि यदि कोई बहुत मेहनत करे, तो वह Leadership के कई गुणों से अपनी Personality को निखार सकता है। बेहतर तरीके से Life Management (जीवन प्रबंधन) कर पाना भी ऐसे ही लोगों के लिए संभव है, जिनके अंदर नेतृत्व करने की विशेष योग्यता हो।

Leadership Skills किसी व्यक्ति की Personality का अत्यंत महत्वपूर्ण और खास भाग है। एक सफल और संतोषप्रद जीवन कैसे जिया जाये, यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि क्या आप के अंदर सही नेतृत्व क्षमता है? यह एक ऐसी योग्यता है, जो तभी पूर्णता पाती है, जब आपका व्यक्तित्व सही तरह से विकसित होता है।

Lao Tzu कहते हैं – “एक Leader तब सबसे अच्छा माना जाता है जब लोग मुश्किल से ही उसका होना जान पायें, और जब उसका काम पूरा हो जाये, उसका उद्देश्य पूरा हो जाये तब वह सब यह कहें कि इस काम को हमने खुद किया है।”

दूसरे शब्दों में यदि आप लोगों को और ज्यादा सीखने को, और ज्यादा काम करने के लिए inspire कर सकते हैं, तो आप एक अच्छे Leader हैं। जीवन में आगे बढ़ने के लिए और कठिन परिस्थितियों का सामना करने के लिए आपमें Leadership Capability का होना बहुत ही जरूरी है। इसलिए अगर आप चाहते है कि आप भी एक Successful और Notable Leader बन सकें, तो अपना लीजिये ये 15 गुण –

1. Vision दूरदृष्टि –

एक Impressive और Successful Leader होने की अहम शर्त है – Visionary होना। ऐसा व्यक्ति अपनी अदभुत कल्पनाशक्ति और बुद्धिमत्ता के जरिये पहले ही भविष्य की योजनाओं का Plan तैयार कर लेता है। Visionary Leaders के पास प्रत्येक कार्य के लिए एक स्पष्ट योजना तो होती ही है, इसके अलावा वे एक backup plan भी हमेशा तैयार रखते हैं।

जिससे वे कम समय में ही अपने इच्छित लक्ष्य को पा लेते हैं। वे केवल अनुमान के आधार पर कोई काम नहीं करते। Thomas Carliel के अनुसार “अंतर्द्रष्टि के बिना ही काम करने से अधिक भयानक चीज़ दूसरी नहीं है।” इसलिए एक Successful Leader के लिए कार्य की योजना बनाना और योजनानुसार कार्य करना बहुत जरूरी है।

दूसरे शब्दों में कहें तो एक सच्चा Leader ऐसा open-minded Visionary होता है, जो कार्य के संबंध में सभी तरह के पूर्वाग्रहों से मुक्त और सटीक आकलन क्षमता से युक्त होता है।

2. Self-confidence and Optimism आत्मविश्वास और आशावाद –

एक successful leader को highly self-confident होना चाहिए, क्योंकि अपनी क्षमताओं पर थोडा सा भी संदेह व्यक्ति को सफल नहीं होने देता। Samuel Johnson ने आत्म-विश्वास को सफलता का प्रथम रहस्य माना है। जो व्यक्ति आत्म-विश्वास से भरपूर और निडर नहीं होते हैं, उनकी leadership को बार-बार challenge face करने पड़ते हैं।

ऐसे Leader को उसके colleagues लम्बे समय तक स्वीकार नहीं कर पाते हैं। आत्म-विश्वास से भरा हुआ leader अपनी team में भी आत्म-विश्वास जगा देता है और उन्हें अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए inspire करता है। एक self-confident leader ही वास्तव में एक उच्च आशावादी व्यक्ति हो सकता है।

जब प्रयास करने के बावजूद असफलता मिल रही हो, तब केवल self-confident और optimistic person ही धीर बने रह सकते हैं और उद्देश्य को हासिल करने की दिशा में लगातार प्रयास जारी रख सकते हैं।

3. Ability to take Right Decision सही निर्णय लेने की क्षमता –

एक अच्छे Leader के पास तुरंत और बेहतर निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए। क्योंकि जो व्यक्ति अपने decisions को बार-बार बदलता रहता है, उसकी Impartiality और Intelligence doubtful रहती है। इसके अलावा यदि किसी गलत निर्णय से negative results आते हैं तो न केवल team का मनोबल ही टूटता है, बल्कि उन्हें आपकी leadership capability पर भी सन्देह हो सकता है।

इसलिए एक successful Leader के अंदर, खूब सोच विचार कर दूरदर्शिता के साथ, सही निर्णय लेने की क्षमता होनी चाहिए और आपके द्वारा लिए गए निर्णय, तभी सही तरह से लागू किये जा सकते हैं, जब वे हर द्रष्टिकोण से सही हों। जब कभी आप किसी सफल व्यापार को देखेंगे, तो पाएंगे कि किसी ने कभी साहसी निर्णय लिया था। अगर आप निर्णय नहीं ले पाते हैं, तो आप Boss या Leader कुछ नहीं बन सकते।

4. Firm belief in Ideals and Principles आदर्शों और सिद्धांतों के प्रति निष्ठा –

एक true Leader के अंदर अपने आदर्शों और सिद्धांतों के प्रति अटूट निष्ठा होनी चाहिए। यह उस हद तक हो कि यदि उसे खुद में भी कोई कमी या कमजोरी दिखाई दे, तो उसे न केवल वास्तविकता को स्वीकार करने का साहस दिखाना चाहिए, बल्कि उन्हें दूर करने का भी पूरा प्रयास करना चाहिए। वरना अपने colleagues द्वारा उसका स्थान ले लेने का डर उसे कमज़ोर और अक्षम बना सकता है।

लोग उसी व्यक्ति के आदेशों पर चलना पसंद करते हैं, जिसकी कथनी और करनी में कोई अंतर न हो। यदि आप स्वयं ही काम के प्रति उदासीन है, तो इस बात की अपेक्षा न करे कि दूसरे लोग आपके नेतृत्व को स्वीकार करेंगे। केवल कहने की अपेक्षा लोगों पर आपके आचरण का प्रभाव ज्यादा पड़ता है। अर्थात आप सरल, स्पष्टवादी, दृढ और यथार्थवादी सोच के ईमानदार व्यक्ति बनने का प्रयास करें।

5. Positive Attitude सकारात्मक द्रष्टिकोण –

जिंदगी को खुशहाल और सफल बनाने के लिए हमें जिस चीज़ की सबसे ज्यादा जरूरत है, वह है द्रष्टिकोण। और किसी व्यक्ति को एक successful Leader बनाने के लिए जिस चीज़ की जरूरत है, वह भी और कुछ नहीं, बल्कि एक positive attitude ही है। Thomas Jefferson ने इन शब्दों में क्या खूब कहा है –

“एक positive mental attitude रखने वाले व्यक्ति को, दुनिया की कोई चीज़ उसका उद्देश्य हासिल करने से नहीं रोक सकती और negative mental attitude रखने वाले व्यक्ति की मदद, धरती पर कोई आदमी नहीं कर सकता।

द्रष्टिकोण एक छोटी चीज़ है, लेकिन यह बहुत बड़ा अंतर पैदा कर देती है।” अच्छे Leader मुसीबतों में भी अपना attitude positive ही रखते हैं, क्योंकि वे जानते हैं, सकारात्मक द्रष्टिकोण, सकारात्मक विचारों और घटनाओं की एक ऐसी श्रंखला शुरू करता है, जो आगे चलकर असाधारण परिणाम लाती है।

6. Courage साहस –

अदम्य साहसी होना एक successful Leader का आवश्यक गुण है। साहसी होने का अर्थ है – डर को जीतना, मुश्किलों का दिलेरी से सामना करना। हमें यह ध्यान रखना चाहिए कि बिना साहस के हम कोई भी दूसरा गुण लम्बे समय तक धारण नहीं कर सकते। हम दयालु, ईमानदार, उदार या सत्यवादी कुछ नहीं बन सकते। एक Leader को बुद्धिमत्ता और असीम साहस के साथ प्रतिकूल परिस्थिति का सामना करने में सक्षम होना चाहिए।

उसे आगे बढ़कर चुनौतियों को स्वीकार करना चाहिए और कठोर परिश्रम करना चाहिए। यह ध्यान रखिये कि मुट्ठीभर संकल्पवान लोग, जिनकी अपने लक्ष्य में दृढ आस्था है, इतिहास की धारा को बदल सकते हैं। दूसरे शब्दों में एक अच्छे Leader को, बड़ी से बड़ी मुश्किलों के बीच भी संतुलित, संकल्पित और सहनशील बने रहना चाहिए।

7. Accepting Responsibility जिम्मेदारी स्वीकार करना –

ये एक true Leader की बेहद important quality है। आपको अपने कार्यों के प्रति जिम्मेदार होने के साथ-साथ, अपने अधीन काम करने वाले लोगों की Mistakes और Failures के लिए भी responsible होना चाहिए। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं, तो आप कभी भी अपने colleagues या team का विश्वास नहीं जीत सकेंगे और ऐसा करने के लिए आपके पास जिम्मेदारी को स्वीकार करने का साहस और दायित्वबोध होना चाहिए।

जिम्मेदार होने का अर्थ यह भी है कि आप अपने भीतर सहकारिता की प्रवृत्ति का विकास करें। एक अच्छा Leader अपने हर काम को सहकारिता अर्थात एक-दूसरे को सहयोग देते हुए ऊपर उठाने की भावना से करता है। वह विभिन्न परिस्थितियों में resourceful होता है। उसे समूह की भलाई में अपनी सफलता देखनी चाहिए, तभी अन्य लोग उसे प्रेम करेंगे, सम्मान देंगे और श्रद्धा की भावना रखेंगे।

8. Humble and Modest Behavior विनम्र और शालीन व्यवहार –

एक कहावत है कि “जुबान से ही आदमी दोस्त और दुश्मन बनाता है।” जिन्हें दूसरों के सहयोग की अपेक्षा हो या जो लोगों का नेतृत्व करना चाहते हों, वे विनम्रता और सभ्य व्यवहार को अपने जीवन का आवश्यक अंग बना लें। महान पुरुष की पहली पहचान उसकी विनम्रता है। अगर आप मिलनसार और आसानी से उपलब्ध होने वाले व्यक्ति हैं, तो न केवल अपने साथियों में आशा, विश्वास और जोश भरने में सफल होंगे, बल्कि यह लोगों के बीच आपकी Image भी बेहतर करेगा।

इस संसार में प्रत्येक व्यक्ति, प्रशंसा और सम्मान का भूखा है। यदि आप किसी व्यक्ति से विनम्रता से बातचीत करते हैं और आपका व्यवहार भी शालीन है, तो आप उन विषयों पर भी उसकी सहज स्वीकृति हासिल कर सकते हैं, जिन्हें वह सामान्य अवस्था में मानने के लिए बिलकुल भी तैयार न होता। याद रखिये मानव में जो कुछ है, उसका विकास प्रशंसा और प्रोत्साहन से किया जा सकता है।

9. Enthusiastic and Diligent Nature उत्साही और परिश्रमी स्वभाव –

इस दुनिया में जितने भी successful Leaders हुए हैं, और जिन्होंने असंभव को संभव बनाया है, उन सभी में एक प्रमुख गुण रहा है, और वो है उनका उत्साही और परिश्रमी स्वभाव। राल्फ वाल्डो एमर्सन कहते हैं, “उत्साह सभी कोशिशों का स्रोत है और इसके बिना कभी कोई महान चीज़ हासिल नहीं हुई। सफलता का असली रहस्य जोश है।”

ध्यान रखिये, कार्य उत्साह और परिश्रम से ही सिद्ध होते हैं, मनोरथ मात्र से नहीं, और आरम्भ कर देना ही आगे निकल जाने का रहस्य है। नार्मन कजिन कहते हैं – “जीवन की सबसे बड़ी क्षति मृत्यु नहीं है, बल्कि सबसे बड़ी क्षति तो वह है जो हमारे अंदर ही मर जाती है” – अर्थात आलस्य का पैदा हो जाना।

इसलिए एक true Leader को बेहद मेहनती होना चाहिए। जो व्यक्ति काम को पूजा मानते हैं और ज्यादा व अच्छा काम करने की चाहत रखते हैं, केवल वे ही अपने colleagues को और अधिक अच्छा करने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। जिस इंसान में Enthusiasm यानि जोश नहीं है वह सांस लेता हुआ भी जिन्दा नहीं है।

10. Self-controlled and Disciplined आत्म नियंत्रित और अनुशासित –

एक अच्छे Leader का अपने behavior और अपनी speech पर पूरा नियंत्रण होना चाहिए। जो व्यक्ति अपने व्यवहार, वाणी और कार्यों को जिम्मेदारी और अपेक्षाओं के अनुसार नियंत्रण में नहीं रख सकता, वह दूसरों को सही नेतृत्व भी नहीं दे सकता है, क्योंकि उसके मर्यादारहित व्यवहार करने से उसके नीचे काम करने वाले लोग मनमानी करने लगते हैं।

इसलिए खुद पर आत्म-नियंत्रण रखने से ही, एक Leader अपने colleagues को लक्ष्य की ओर चलने के लिए प्रेरित कर सकता है। अनुशासन का अर्थ है – सभी कार्यों को व्यवस्थित ढंग से करना। एक true Leader को स्वयं एक disciplined life जीनी चाहिए और समय पर अपने काम को पूरा करना चाहिए।

ऐसा होने पर ही उसके colleagues disciplined रहेंगे और लक्ष्य को निश्चित deadline में पूरा करने का प्रयास करेंगे। एक अनुशासित व्यक्ति के भीतर दूसरे अच्छे गुणों का भी विकास होने लगता है। ऐसा व्यक्ति नियमों के पालन में कठोर होता है, पर लोगों से विनम्र व्यवहार करता है। सभी सफल Leaders एक अनुशासित जीवन जीते हैं।

उनके प्रत्येक काम का समय नियत होता है। जबकि अनुशासनहीन व्यक्ति हमेशा समय का रोना रोता रहता है। यह ध्यान रखिये किसी भी काम के लिए आपको कभी भी समय नहीं मिलेगा। यदि आप समय पाना चाहते हैं तो आपको स्वयं ही इसकी व्यवस्था करनी पड़ेगी और यही अनुशासन है।

11. Feeling of dedication towards Organization संगठन के प्रति समर्पण की भावना –

एक अच्छा लीडर अपने संगठन के प्रति पूरी तरह से समर्पित होता है। इसी भावना के आधार पर वह अन्य कर्मचारियों के अंदर, संगठन या उद्देश्य के प्रति समर्पण की भावना जगा सकता है। ऐसा करके ही अपने colleagues का विश्वास जीता जा सकता है। जो Leaders अपने organization के प्रति निष्ठावान नहीं होते, उन्हें अपने सहयोगियों से भी ऐसी आशा नहीं रखनी चाहिए।

समर्पित होने का अर्थ है – संगठन के कामों की पूरी जानकारी होना। एक successful Leader को अपने organization के प्रत्येक काम की थोड़ी-बहुत जानकारी अवश्य होनी चाहिए। अन्यथा जानकारी के अभाव में उसके कर्मचारी उसे मूर्ख बना सकते हैं या संस्थान के हितों को चोट पहुंचा सकते हैं।

इसके अलावा समय-समय पर उसे अपने colleagues के कामों का feedback भी लेते रहना चाहिए, ताकि उन्हें भी यह पता रहे कि आप वास्तव में संस्थान के हितों के प्रति जागरूक हैं।

12. Patient and Forbearing Nature धैर्यवान और सहनशील स्वभाव –

जीवन हमेशा मनुष्य की इच्छा के अनुसार नहीं चलता। अनचाही परिस्थितियाँ और घटनाक्रम जीवन में बार-बार आते रहते हैं। जब उन पर नियंत्रण बेहद मुश्किल होता है, तो अनेकों का साहस छूटने लगता है, और सहनशीलता जवाब देने लगती है। ऐसी स्थिति में जो Leader धैर्यवान और सहनशील बने रहकर मुश्किलों का सामना करता है, वही इन परिस्थितियों का सामना कर सकता है और उन्हें हटाता हुआ अपने लक्ष्य को हासिल कर सकता है।

John Quincy Adams कहते हैं, “धैर्य और सहनशीलता में ऐसा जादुई प्रभाव होता है जिसके सामने मुश्किलें गायब हो जाती हैं और बाधाएँ अद्रश्य।” धैर्य, द्रढ़ता और परिश्रम सफलता हासिल करने का ऐसा unbeatable combination है, जिसके सामने कभी कोई मुश्किल ठहर नहीं सकी है। धैर्य और सहनशीलता भले ही कडवे हों, लेकिन इनका फल हमेशा मीठा होता है।

13. Straightforwardness and Credibility स्पष्टवादिता और विश्वसनीयता –

व्यक्ति के व्यवहार की सरलता और स्पष्टवादिता उसे न केवल लोगों के बीच लोकप्रिय बनाती है, बल्कि विश्वसनीय भी बनाती है। एक Successful Leader को straightforward और trustworthy होना चाहिए, ताकि उसकी team के साथी अपनी समस्याओं और कमजोरियों पर खुलकर चर्चा कर सकें। एक अच्छा leader वही होता है, जिस पर उसके team members पूरा भरोसा करें।

स्पष्टवादी व्यक्ति पीठ पीछे कमियों पर चर्चा नहीं करते हैं, बल्कि वे प्रकट होते ही उनके समाधान की दिशा में प्रयास करते हैं। लोग भी ऐसे ही व्यक्ति की leadership में काम करना पसंद करते हैं, जो उनकी कमियों को सदभाव से लें और उन्हें दूर करने में उनकी हरसंभव मदद करें।

14. Liberal and Sympathetic Thinking उदार व सहानुभूतिपूर्ण सोच –

उदारता जहाँ मनुष्य के भीतर एक दैवीय सद्गुण है, वहीँ कठोरता एक बड़ा दुर्गुण। उदारता व्यक्ति के व्यक्तित्व को वह ऊंचाई देती है, जिसके बल पर दूसरे लोगों का सहयोग आसानी से पाया जा सकता है। उदार होने का अर्थ दब्बूपन नहीं है, बल्कि यह तो आत्मीयता का विस्तार और दूसरों की श्रेष्ठता का सम्मान है। एक Impressive Leader बनने के लिए व्यक्तित्व में उदारता बेहद आवश्यक है।

वहीँ Sympathy यानी सहानुभूति भी व्यक्तित्व का एक आवश्यक गुण है। विपरीत परिस्थितियां आने पर या गलती हो जाने पर लोगों को inspire करना एक अच्छे Leader की पहचान है। इसके लिए आपमें कोमलता और करुणा होनी चाहिए। दूसरों के साथ real Sympathy होने का अर्थ है – “बिना किसी स्वार्थ के दूसरों की सेवा के लिए खुद को तैयार रखना।”

अगर आप अपने colleagues की material और spiritual needs का ध्यान रखते हैं, तो न केवल ऐसे व्यवहार से आप उनका दिल जीत सकते हैं, बल्कि group में एक productive positive environment का निर्माण भी कर सकते हैं, जो कि अंततः Leadership का मूल उद्देश्य है।

15. Amicable Relations with People लोगों के साथ बेहतर संबंध –

लोगों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध विकसित करना भी एक कला है। एक अच्छे Leader को अपने colleagues के साथ संबंधों को और मजबूत करने के लिए शुभ अवसरों पर होने वाले उत्सवों में सम्मिलित होना चाहिये और यदि शोक का कोई अवसर आये तो अपनी sad feelings को express करने और मुश्किल के समय सहानुभूति दिखाने से पीछे नहीं हटना चाहिए।

एक truly successful Leader को commercial और non-commercial field से भी relations रखने चाहिए तथा उनकी जरूरत के समय हरसंभव मदद करनी चाहिए। इससे न केवल दूसरे लोगों का co-operation मिलेगा बल्कि उसकी credibility भी बढ़ेगी। Leadership एक ऐसी skill है, जिसके जरिये आप बड़ी आसानी से Impossible और huge Task को भी easily complete कर सकते हैं।

जिंदगी में छोटे-छोटे कामों को करने के लिए भी, दूसरों की guidance और मदद की जरूरत पड़ जाया करती है, तो फिर बड़े काम में तो निश्चित ही दूसरों की मदद और guidance की जरूरत पड़ेगी। ऐसा न करने से आगे बढ़ने में तो भटकाव होता ही है, सफलता भी संदिग्ध हो जाती है।

Andrew Carnegie के अनुसार, “ऐसा कोई व्यक्ति, किसी बड़े व्यवसाय का निर्माण नहीं कर सकता, जो इसे पूरा का पूरा स्वयं ही करना चाहता हो, या इसका संपूर्ण श्रेय लेना चाहता हो।” Leadership Skills की सबसे बड़ी खासियत यही है कि इसके जरिये किसी भी काम को बड़ी कुशलता और सुन्दरता से पूरा किया जा सकता है।

“नेतृत्व का अर्थ है – दूरदृष्टि को वास्तविकता में बदल सकने की योग्यता।”
– वारेन जी. बेन्निस

 

Comments: आशा है यह लेख आपको पसंद आया होगा। कृपया अपने बहुमूल्य सुझाव देकर हमें यह बताने का कष्ट करें कि जीवनसूत्र को और भी ज्यादा बेहतर कैसे बनाया जा सकता है? आपके सुझाव इस वेबसाईट को और भी अधिक उद्देश्यपूर्ण और सफल बनाने में सहायक होंगे। एक उज्जवल भविष्य और सुखमय जीवन की शुभकामनाओं के साथ!

Spread Your Love
  • 5
    Shares